• search
हरियाणा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

आज किसानों का चक्काजाम, कहा- हरियाणा में इंटरनेट बैन के खिलाफ रोड ब्लॉक करेंगे, प्रदर्शनकारी 5 निर्देश मानेंगे

|

Bharat Bandh Chakka Jam today, सोनीपत/फरीदाबाद। कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन को 72 दिन हो गए हैं। आज किसान संगठनों की ओर से दोपहर 12 से 3 बजे तक देशभर में चक्काजाम हो रहा है। किसान नेताओं द्वारा कहा जा रहा है कि, सरकार ने हमारे प्रदर्शनों को रोकने और आवाज दबाने के लिए इंटरनेट बैन किया, इसका विरोध किया जाएगा। इसलिए हरियाणा के कई जिलों में किसान सड़कों पर उतरेंगे। राज्य सरकार ने अभी सोनीपत और झज्जर जिले में इंटरनेट सुविधा बहाल नहीं की है। इंटरनेट आमजन का अधिकार है। इसी तरह शांतिपूर्ण प्रदर्शन करना जारी रखेंगे।' भारतीय किसान यूनियन के नता राकेश टिकैत ने कहा, ''आज चक्का-जाम होगा। हम दिल्ली, यूपी और उत्तराखंड में सड़कें नहीं रोकेंगे।'

    Farmer's Protest: चक्काजाम को लेकर संयुक्‍त किसान मोर्चा ने जारी किए दिशानिर्देश | वनइंडिया हिंदी

    Bharat Bandh Chakka Jam today: Farmers Protest (Kisan Andolan) in Haryana - Punjab, Rakesh Tikait And Sanyukt Kisan Morcha Road Block news

    राकेश टिकैत बोले- दिल्ली यूपी में चक्काजाम नहीं होगा

    राकेश टिकैत ने कहा कि, दिल्ली में तो हर दिन जाम जैसे हालात रहते हैं, इसलिए किसान वहां जाम लगाकर क्या करेंगे, वहां इसकी क्या जरूरत है।' वहीं, यूपी और उत्तराखंड के बारे में टिकैत बोले कि, इन दोनों राज्यों से किसानों को स्टैंडबाई पर रखा गया है। वहां से किसानों को किसी भी वक्त बुलाया जा सकता है। लेकिन उन दोनों राज्यों में चक्काजाम करने के लिए नहीं बोला गया है।'

    इससे पहले उन्होंने कहा था कि, यूपी-दिल्ली और उत्तराखंड इन तीन राज्यों को छोड़कर देशभर के स्टेट और नेशनल हाईवे को जाम किया जाएगा।' अंदाजा लगाया जा रहा है कि, प्रदर्शन का खासा जोर हरियाणा प्रांत में रहेगा।

    किसानों के चक्का जाम से पहले पुलिस की पुख्ता तैयारी, प्रदर्शनकारियों का दिल्ली पहुंचना नहीं होगा आसान

    40 किसान संगठनों का चक्काजाम आंदोलन

    यह चक्काजाम-आंदोलन करीब 40 किसान संगठनों द्वारा बनाए गए संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा शुरू किया गया है। इस दौरान गाड़ियों को चलने नहीं दिया जाएगा। माना जा रहा है कि, इस चक्‍काजाम से किसानों के अगुआ अपनी एकजुटता दिखाना चाहते हैं। 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में हुई हिंसा के बाद किसान-आंदोलन कुछ धीमा पड़ गा था। ऐसे में कहा जा रहा है कि, संयुक्त किसान मोर्चा के नेता सिंघु और टिकरी बॉर्डर से चक्‍काजाम को कोऑर्डिनेट करेंगे। सोनीपत, झज्जर, फरीदाबाद और पानीपत में चक्काजाम का प्रभाव ज्यादा रह सकता है।

    Bharat Bandh Chakka Jam today: Farmers Protest (Kisan Andolan) in Haryana - Punjab, Rakesh Tikait And Sanyukt Kisan Morcha Road Block news

    'किसान नहीं तो भोजन नहीं', हरियाणा में शादी के कार्डों पर किसान आंदोलन का समर्थन

    प्रदर्शनकारियों के लिए किसान संयुक्त मोर्चा के 5 संदेश

    1- नेशनल और स्टेट हाईवे दोपहर 12 से 3 बजे तक जाम करेंगे। इससे पहले या बाद में जाम नहीं लगाया जाएगा।

    2- जरूरी सेवाओं जैसे एम्बुलेंस, स्कूल बस को नहीं रोकेंगे। ट्रक-बसें या अन्य भारी वाहन नहीं निकलने दिए जाएंगे।

    3- चक्काजाम पूरी तरह से शांतिपूर्ण और अहिंसक रहेगा। प्रदर्शनकारी किसी से टकराव नहीं करेंगे।

    4- देश की राजधानी दिल्ली की सीमा के अंदर कोई चक्का-जाम नहीं होगा।

    5- 3 बजे 1 मिनट तक हॉर्न बजाकर किसान एकता का संदेश देते हुए चक्काजाम कार्यक्रम पूरा होगा। मगर, हिंसक गतिविधियां नहीं होंगी।

    हरियाणाः जींद के कंडेला में किसानों की महापंचायत, टिकैत-चढूनी की हुंकार, हजारों लोग पहुंचे

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Bharat Bandh Chakka Jam today: Farmers Protest (Kisan Andolan) in Haryana - Punjab, Rakesh Tikait And Sanyukt Kisan Morcha Road Block news
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X