• search
हरिद्वार न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हरि‍द्वार कुंभ: देवभूमि में किन्नरों का शाही संत अंदाज देख मंत्रमुग्‍ध हुए लोग, देखें PHOTOS

|

हरिद्वार। कुंभनगरी हरिद्वार में भव्य कुंभ की शुरूआत हो चुकी है। गुरुवार को पंचदशनाम जूना अखाड़ा, अग्नि अखाड़ा और किन्नर अखाड़े की भव्य पेशवाई निकाली गई। जब तीनों अखाड़ों की पेशवाई सड़कों पर उतरी तो अद्भुत नजारा देखने को मिला। फूलमाला से लदे आचार्य महामंडलेश्वर, महामंडलेश्वर, किन्नर और नागा साधुओं के दर्शन के लिए सड़कों पर श्रद्धालुओं का जनसैलाब उमड़ पड़ा। इस दौरान हर-हर महादेव के जयघोष गूंजते रहे। किन्नर अखाड़े का इस कुंभ में भी अलग अंदाज में देखने को मिला। जूना और अग्नि अखाड़ा की पेशवाई में किन्नर पहली बार हरिद्वार कुंभ में शामिल हुए हैं। किन्नर अखाड़े की आचार्य महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी हरिद्वार पहुंची हैं।

    Kumbh Mela 2021: Haridwar में पहली बार निकली Kinnar Akhara की पेशवाई, उमड़ा जनसैलाब । वनइंडिया हिंदी
    क‍िन्‍नरों से अच्‍छा कोई नहीं जानता लैंगि‍क भेदभाव

    क‍िन्‍नरों से अच्‍छा कोई नहीं जानता लैंगि‍क भेदभाव

    किन्नर अखाड़े की आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी ने कहा कि लैंगिक भेदभाव किन्नरों से अच्छा कोई नहीं जानता है। वह समाज के तानों को झेलता है। उन्‍होंने कहा कि किन्नरों की तरह कई महिलाएं और पुरुष भी समाज में ठुकराए जाते हैं। ऐसे लोगों के लिए किन्नर अखाड़े के दरवाजे हमेशा खुले हैं। उन्‍होंने कहा कि किन्नर आज भी समाज की उपेक्षित हैं।

    लोगों ने क‍िन्‍नरों पर बरसाए फूल

    लोगों ने क‍िन्‍नरों पर बरसाए फूल

    जब किन्नरों के अखाड़ा निकला तो अद्भुत नजारा देखने को मिला। सभी किन्नर महांडलेश्वर अपने-अपने रथों पर सवार हीरे-मोती और सोने के आभूषणों के साथ कीमती वेशभूषाएं पहनीं थी। लोगों में क‍िन्‍नरों को देखने की उत्सकुता दिखी। लोगों ने किन्नरों के आशीर्वाद के लिए फूलों के साथ नोट भी बरसाए। कई जगहों पर किन्नरों ने दर्शकों को शगुन भी दिए। हर कोई किन्ररों के आचार्य महामंडलेश्वर के दर्शन करना चाहता था।

    हाथी, ऊंठ तो कोई बुलेट से द‍िखा

    हाथी, ऊंठ तो कोई बुलेट से द‍िखा

    बता दें, पेशवाई में पूरे शाही अंदाज में किन्नर साधु संत अपने-अपने रथों पर बैठकर निकले थे। कोई हाथी, ऊंट और घोड़े तो कोई कार और कोई बाइक से चला रहा था। नजारा देखने के लिए सड़क के दोनों और लोगों की भारी भीड़ लग गई। किन्नर अखाड़े पेशवाई के दौरान बुलेट माता के नाम से जानी जाने वाली किन्नर साधु बुलेट चलाते हुए चल रही थीं। आचार्य महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी ने कहा कि हरिद्वार के लोगों से मिला प्यार और सत्कार कभी नहीं भूल पाएंगे। उन्होंने मां गंगा और भगवान शंकर से हरिद्वार की जनता के लिए दुआएं मांगी।

    हरिद्वार कुंभ मेला 2021: निरंजनी अखाड़े की आज निकलेगी शाही पेशवाई, ये होंगे मुख्य आकर्षण का केंद्र

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Haridwar Kumbh Mela 2021 kinner akhada saints peshwai
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X