• search
हरिद्वार न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हरिद्वार: 13 साल की बच्ची को खींच ले गया मगरमच्छ, तालाब किनारे फूल तोड़ने गई थी

|

हरिद्वार। तलाब किनारे फूल तोड़ने गई एक 13 साल की बच्ची पर मगरमच्छ ने हमला कर दिया। मगरमच्छ बच्ची को अपने जबड़े में दबाकर गहरे पानी में खींच ले गया। सूचना पर पहुंची पुलिस और वन विभाग की टीम ने ग्रामीणों के साथ कई घंटों की मशक्कत के बाद तालाब से बच्ची का शव बरामद किया। बता दें कि बच्ची अपनी दादी के साथ खेत में घास काटने गई थी। इसी बीच वह तालाब के पास फूल तोड़ने चली गई।

    हरिद्वार: 13 साल की बच्ची को खींच ले गया मगरमच्छ, तालाब किनारे फूल तोड़ने गई थी

    Crocodile attacked 13-year-old girl in Haridwar district of Uttarakhand

    मामला हरिद्वार जिले के लक्सर में पंडितपुरी गांव का है। गांव निवासी मुन्नी देवी शुक्रवार दोपहर करीब एक बजे रेलवे लाइन के पास खेत में पशुओं के लिए घास लेने गई थी। 13 वर्षीय पोती शिवानी पुत्री जयेंद्र भी उनके साथ चली गई। दादी के घास काटते समय पोती खेलते-खेलते रेलवे लाइन के पास तालाब के करीब पहुंच गई। वह पानी में घुसकर फूल तोड़ने लगी। इसी बीच मगरमच्छ ने बच्ची के हाथ पर हमला कर दबोच लिया और पानी में खींच लिया।

    चीख पुकार सुनकर दादी और आसपास घास काट रहे अन्य लोग शोर मचाते हुए घटनास्थल की तरफ दौड़ पड़े। इस दौरान पुलिस और वन विभाग को इस दर्दनाक हादसे की सूचना दी। सूचना मिलते ही रायसी चौकी प्रभारी ब्रजपाल सिंह, वन विभाग के बीट अधिकारी सोनी पंवार, देवेंद्र कुमार, दरोगा जातिराम और पंकज आदि भी मौके पर पहुंच गए। ग्रामीणों की मदद से पुलिस और वन विभाग की टीम ने किशोरी की खोजबीन शुरू की। शाम करीब सवा छह बजे किशोरी का शव तालाब से बरामद हुआ।

    बच्ची का शव कीचड़ और घास के अंदर दबे होने के कारण टीम को काफी मशक्कत करनी पड़ी। ग्रामीणों के अनुसार, उसके हाथ पर मगरमच्छ के दांतों के गहरे घाव हैं। वहीं, बच्ची का शव देखकर परिजन फूट-फूटकर रोने लेगे। वहीं, इस घटना से गांव में दहशत का माहौल है, क्योंकि आसपास के कई गांवों के तालाबों में मगरमच्छ दिखते रहते हैं। ग्रामीणों का कहना है कि वन विभाग से मगरमच्चों से निजात दिलाने की कई बार गुजारिश की गई लेकिन उनकी एक न सुनी गई।

    वहीं वन क्षेत्राधिकारी ने ग्रामीणों के आरोपों से इनकार किया है। उनका कहना है कि बरसात के दिनों में गंगा और अन्य नदियों का जलस्तर बढ़ने पर मगरमच्छ पानी में बहकर आबादी क्षेत्र तक तालाबों मे पहुंच जाते हैं। पानी उतरने पर वह वहीं रह जाते हैं। मगरमच्छ के अलावा किसी अन्य वन्यजीव के आबादी क्षेत्र में आने की सूचना पर तत्काल कार्रवाई की जाती है।

    ये भी पढ़ें:- जानिए कौन है तान्या पुरोहित, जो इस बार IPL-2020 में एंकरिंग से लगाएंगी तड़का

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Crocodile attacked 13-year-old girl in Haridwar district of Uttarakhand
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X