• search
हरदोई न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

russia ukraine war: क्या ग्राम प्रधान Vaishali Yadav को हरदोई पुलिस ने किया है गिरफ्तार? जानें सच्चाई

|
Google Oneindia News

हरदोई, 03 मार्च: सांडी ब्लॉक के तेरा पुरसौली गांव निवासी वैशाली यादव अचानक से मीडिया की सुर्खियों में आ गई हैं। सुर्खियों में आने का कारण है कि वो तेरा पुरसौली की ग्राम प्रधान हैं और यूक्रेन-रूस युद्ध के बीच में फंस गई हैं। तो वहीं, अब सोशल मीडिया पर ऐसा दावा किया जा रहा है कि पुलिस ने वैशाली को गिरफ्तार कर लिया है। वैशाली की गिरफ्तारी की खबरों के बीच एसपी राजेश द्विवेदी ने इसका खंडन किया है। तो वहीं, वैशाली यादव ने भी खुद वीडियो जारी कर बताया कि उनकी गिरफ्तार नहीं हुई हैं और वह यूक्रेन से निकल चुकी हैं और इस वक्त रोमानिया में हैं।

    russia ukraine war: क्या ग्राम प्रधान Vaishali Yadav को हरदोई पुलिस ने किया है गिरफ्तार?
    कौन हैं वैशाली यादव

    कौन हैं वैशाली यादव

    वैशाली यादव, हरदोई जिले के सांडी ब्लॉक के तेरा पुरसौली गांव निवासी पूर्व ब्लॉक प्रमुख महेंद्र सिंह यादव की बेटी हैं। जो पिछले तीन साल से यूक्रेन के खरकी शहर में नेशनल खरकी यूनिवर्सिटी में एमबीबीए की पढ़ाई कर रही हैं। वैशाली यादव पिछले साल उत्तर प्रदेश में हुए प्रधानी के चुनाव के वक्त अपने गांव में आई थीं और चुनाव लड़ा था। चुनाव जीत कर वैशाली यादव गांव की प्रधान बन गईं और फिर वापस पढ़ाई करने यूक्रेन चली गईं थी।

    वैशाली की गिरफ्तार किया जा रहा है दावा

    वैशाली की गिरफ्तार किया जा रहा है दावा

    वैशाली यादव ने वीडियो जारी कर खुद के यूक्रेन में फंसे होने की जानकारी दी थी। जिसके बाद सोशल मीडिया पर ऐसा दावा किया जा रहा है कि पुलिस ने वैशाली को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि, हरदोई पुलिस द्वारा वैशाली की गिरफ्तारी का दावा झूठा निकला है। इन अफवाहों पर खुद हरदोई के एसपी ने विराम लगाया है। कहा कि वैशाली यादव के खिलाफ अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। एसपी राजेश द्विवेदीने बताया कि वीडियो में वैशाली नहीं और न ही उनकी गिरफ्तारी हुई है। वे अभी रोमानिया में ही फंसी हैं।

    खुद वैशाली ने किया गिरफ्तीर का खंडन

    खुद वैशाली ने किया गिरफ्तीर का खंडन

    वहीं, वैशाली के पिता बोले कि ये सब विपक्षियों की साजिश है। मेरी बेटी वहां पर फंसी हैं और लोगों को उसमें भी राजनीति दिख रही है। तो वहीं, खुद एक वीडियो जारी कर वैशाली यादव ने कहा कि वह भारत में नहीं, बल्कि रोमानियां में हैं। उन्होंने इस मसले पर लोगों से राजनीति न करने की अपील की। कहा मुझसे जुड़ी जो भी चीजें फैल रही हैं, वह बिल्कुल गलत है और उसे न फैलाएं।

    वैशाली का वीडियो सामने आने के बाद प्रशासन हुआ सख्त

    वैशाली का वीडियो सामने आने के बाद प्रशासन हुआ सख्त

    वैशाली का यूक्रेन में फंसे होना का वीडियो सामने आने और इस तरह गांव छोड़कर विदेश में रहने के मामले में हरदोई प्रशासन सख्त हो गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस मामले में वैशाली के नाम नोटिस भी जारी किया गया है। बताया जा रहा है कि अब ग्राम पंचायत में अब तक किए गए खर्च के पूरे ब्योरे की जांच की जाएगी। साथ ही पूरे मामले की छानबीन की जा रही है कि प्रधान रहते हुए वैशाली कैसे बाहर चली गई।

    ये भी पढ़ें: CM योगी ने छठे चरण के लिए डाला वोट, बोले- विकास और सुरक्षा के लिए करें मतदानये भी पढ़ें: CM योगी ने छठे चरण के लिए डाला वोट, बोले- विकास और सुरक्षा के लिए करें मतदान

    Comments
    English summary
    gram pradhan Vaishali Yadav has been handcuffed by Hardoi police? know the truth
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X