• search
हरदोई न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पत्नी ने डेढ़ साल के मासूम को सीने से चिपकाकर लगा ली आग, पति को पता चला तो खा लिया जहर

|

Hardoi news, हरदोई। उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। जब एक महिला ने अपनी मासूम बेटी व दुधमुंहे बच्चे समेत खुद पर ज्वलनशील पदार्थ छिड़कर आग लगा ली। हालांकि मासूम बेटी मौके से भागने में कामयाब रही तो बच गई लेकिन मां और बच्चे की आग में जलकर दर्दनाक मौत हो गई। इसकी जानकारी महिला के पति को हुई तो उसने भी सदमे में आकर जहर खा लिया।

father drank poison after mother burnt herself along with his child

इस दिल दहला देने वाली घटना से पूरे गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। पुलिस ने मां बेटे के शवों का पोस्टमॉर्टम कराया है। बहरहाल पत्नी के दिमाग में अपने पति के गैर औरत से संबंधों को लेकर वहम की बात पर आए दिन झगड़े की बात सामने आ रही है।

father drank poison after mother burnt herself along with his child

दिल दहला देने वाली यह सनसनीखेज वारदात थाना बेनीगंज के चठिया गांव की है। जहां पर रतीराम (35) खेतीबाड़ी का काम करता है। परिवार में उसकी पत्नी अरूणा (30) व बेटी आशी (5),और डेढ़ वर्ष का बेटा अहम था। इसके अलावा रतीराम की मां व पिता समेत भाई भी हैं, ये सब भी खेतीबाड़ी का काम करते हैं। रतीराम गेहूं की फसल काटने गया था और सभी लोग सब्जी के खेतों में सब्जियां तोड़ने चले गए। घर पर अरूणा उसकी बेटी आशी और बेटा अहम मौजूद थे।

कुछ समय बाद लोगों को आशी घर के बाहर चीखते हुए आती दिखी। इसपर मोहल्ले के लोगों ने घर में जाकर देखा तो कमरे में अरूणा अपने दुधमुंहे मासूम बच्चे को सीने से लगाकर आग की लपटों में घिरी थी। ग्रामीणों ने आग बुझाई लेकिन तब तक अरूणा व उसका बेटा मृत होकर बेड पर गिर गए। मोहल्ले के लोगों ने इसकी जानकारी खेत पर काम कर रहे रतीराम को दी तो सूचना मिलते ही रतीराम सदमे में आ गया और उसने बगैर कुछ सोचे समझे सब्जी के खेतों में पहुंचकर रखा कीटनाशक पी लिया जिससे उसकी भी हालत बिगड़ गई। परिजन उसको फौरन जिला अस्पताल लाए और भर्ती कराया जहां पर उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। इधर ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस मौके पर जा पहुंची और पंचनामा भर दोनों के शवों का पोस्टमॉर्टम कराया।

ये भी पढ़ें-'कमरे का दरवाजा खुलवा दो, लेटना है' कांपते हुए चोटिल बुजुर्ग महिला आस लगाकर जमीन पर बैठी रही

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

हरदोई की जंग, आंकड़ों की जुबानी
वर्ष
प्रत्याशी का नाम पार्टी स्‍थान वोट वोट दर मार्जिन
2019
जय प्रकाश रावत भाजपा विजेता 5,68,143 54% 1,32,474
Usha Verma सपा उपविजेता 4,35,669 41% 1,32,474
2014
अंशुल वर्मा भाजपा विजेता 3,60,501 37% 81,343
शिवे प्रसाद वर्मा बीएसपी उपविजेता 2,79,158 29% 0
2009
उषा वर्मा समाजवादी विजेता 2,94,030 51% 92,935
राम कुमार कुरिल बीएसपी उपविजेता 2,01,095 35% 0
2004
उषा वर्मा समाजवादी विजेता 2,03,445 39% 39,203
शिव प्रसाद वर्मा बीएसपी उपविजेता 1,64,242 31% 0
1999
जय प्रकाश एबीएलटीसी विजेता 2,06,256 37% 5,404
उषा वर्मा समाजवादी उपविजेता 2,00,852 36% 0
1998
उषा वर्मा समाजवादी विजेता 2,06,634 37% 15,426
जय प्रकाश भाजपा उपविजेता 1,91,208 34% 0
1996
जयप्रकाश भाजपा विजेता 1,42,278 35% 23,318
श्याम प्रकाश बीएसपी उपविजेता 1,18,960 30% 0
1991
जय प्रकाश भाजपा विजेता 1,33,025 31% 38,257
मितन कांग्रेस उपविजेता 94,768 22% 0
1989
परमाई लाल जेडी विजेता 1,99,552 43% 24,465
मन्न लाल कांग्रेस उपविजेता 1,75,087 38% 0
1984
किंडर लाल कांग्रेस विजेता 1,95,088 53% 60,403
परमाई लाल एलकेडी उपविजेता 1,34,685 37% 0
1980
मन्न लाल कांग्रेस(आई) विजेता 1,13,802 46% 53,157
किंडर लाल जेएनपी(एस) उपविजेता 60,645 25% 0
1977
परमाई लाल बीएलडी विजेता 1,91,873 63% 1,14,287
किंडर लाल कांग्रेस उपविजेता 77,586 26% 0
1971
किंडर लाल कांग्रेस विजेता 1,09,700 56% 33,024
परमाई लाल एनसीओ उपविजेता 76,676 39% 0
1967
के .लाल कांग्रेस विजेता 81,126 32% 17,555
पी. लाल BJS उपविजेता 63,571 25% 0
1962
किंडर लाल कांग्रेस विजेता 71,883 39% 23,310
शिवा दीन जेएस उपविजेता 48,573 26% 0
1957
शेओडीन बीजेएस विजेता 1,91,730 23% -40,033
निरंजन सिंह देव बीजेएस उपविजेता 2,31,763 27% 0

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
father drank poison after mother burnt herself along with his child
For Daily Alerts

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more