• search
ग्वालियर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पेयजल संकट को मुद्दा बनाकर नगर निगम ग्वालियर पर काबिज होना चाहती है कांग्रेस

|
Google Oneindia News

ग्वालियर, 28 मई। पेयजल संकट को मुद्दा बनाकर कांग्रेस अब ग्वालियर नगर निगम पर काबिज होना चाहती है। यही वजह है कि कांग्रेस पार्टी द्वारा लगातार पानी के मुद्दे को उठाकर नगर निगम में हल्ला बोल आंदोलन किए जा रहे हैं। इस आंदोलन में जन समर्थन जुटाकर कांग्रेस पार्टी जनता के दिलों में अपनी जगह बनाने के साथ-साथ नगर निगम ग्वालियर पर अपनी सत्ता कुर्सी की कुर्सी जमाना चाहती है।

protest
ग्वालियर शहर इन दिनों पेयजल संकट से जूझ रहा है। ग्वालियर शहर के कई इलाकों में पेयजल संकट गहराया हुआ है। लोग पानी के लिए लंबी-लंबी कतार लगाकर खड़े नजर आ जाते हैं। शहर के कई इलाके तो ऐसे हैं जहां टैंकर के सहारे जनता की प्यास बुझाने का काम किया जा रहा है। इन सब के बीच कांग्रेस अब इस पेयजल संकट को मुद्दा बनाकर ग्वालियर नगर निगम में अपनी जड़ें जमाना चाहती है।
नगरीय निकाय चुनाव में छाया रहेगा पेयजल संकट का मुद्दा
नगरीय निकाय चुनाव सिर पर आ गया है। ऐसे में कांग्रेस पेयजल संकट के मुद्दे को उठाकर नगरी निकाय चुनाव में अपना दबदबा कायम करने के भरपूर प्रयास में है। ग्वालियर शहर के अलग-अलग इलाकों में हो रही पेयजल संकट की समस्या को लेकर कांग्रेस लगातार धरना प्रदर्शन कर रही है और इस वजह से जनता का कांग्रेस को समर्थन भी मिल रहा है।
पेयजल संकट की वजह से वर्तमान सरकार की हो रही है किरकिरी
शहर के कई इलाकों में व्याप्त पेयजल संकट की वजह से वर्तमान सरकार की किरकिरी हो रही है। बीजेपी सरकार में मौजूद शहर के विधायक और मंत्री अपने ही इलाकों में पेयजल संकट को दूर नहीं कर पा रहे हैं। यही वजह है कि जनता में बीजेपी की सरकार के इन विधायक और मंत्री के खिलाफ गुस्सा देखने को मिल रहा है और जनता का मोह बीजेपी जनप्रतिनिधियों से भंग होता जा रहा है।
कांग्रेस लड़ रही है जनता की लड़ाई
कांग्रेस के पास फिलहाल ना तो सत्ता बची है और ना जनता का समर्थन बचा है। ऐसे में कांग्रेस को जनता के जमीनी मुद्दों को लेकर आंदोलन और प्रदर्शन करना मजबूरी हो गया है। यही वजह है कि कांग्रेस द्वारा अब पेयजल समस्या का मुद्दा जोर-शोर से उठाया जा रहा ।है और इसे बड़ा मुद्दा भी बनाया जा रहा है। शुक्रवार को भी कांग्रेस नेता सुनील शर्मा कांग्रेस के जिला अध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा के साथ मिलकर ग्वालियर विधानसभा के 4 वार्डों के लोगों को लेकर नगर निगम मुख्यालय पर प्रदर्शन करने के लिए पहुंच गए थे।
बीजेपी को चुकानी पड़ सकती है पानी की कीमत
पानी का मुद्दा नगरीय निकाय चुनाव में सबसे ज्यादा चर्चा का विषय बना रहेगा, यह बात बीजेपी और कांग्रेस समेत ग्वालियर शहर की जनता भी अच्छी तरह जानती है। यही वजह है कि ग्वालियर शहर की जनता नगरीय निकाय चुनाव में पानी के मुद्दे को लेकर ही वोट करेगी और अगर कांग्रेस इन वोटरों को अपने पक्ष में जोड़ने में सफल हो जाती है तो ग्वालियर नगर निगम की सत्ता में कांग्रेस की कुर्सी जम सकती है। हालांकि बीजेपी भी इतनी आसानी से कांग्रेस को यह मौका नहीं देने वाली है।

Comments
English summary
congress wants to occupy gwalior municipal corporation by making the issue of drinking water crisis prevailing in gwalior
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X