• search
गुजरात न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

सूरत: 13 साल के ध्रुव की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर वायरस से 5 घंटे में ही दम टूटा

|

सूरत। गुजरात में सूरत जिला कोरोना वायरस के संक्रमण से इन दिनों सर्वाधिक प्रभावित है। अकेले सूरत में 4,366 स​क्रिय कोरोना मरीज हैं। इसके अलावा यहां कोरोना की वजह से 1,073 लोग दम तोड़ चुके हैं। यहां कोरोना से 13 साल के एक बच्चे की भी जान चली गई। उसका नाम ध्रुव था, जिसे सांस लेने में दिक्कत थी। परिजनों ने उसका कोरोना टेस्ट कराया था, फिर रिपोर्ट पॉजिटिव आने के 5 घंटे में ही ध्रुव की मौत हो गई।

13 year old Dhruva

सूरत में यह अब तक सबसे छोटी उम्र के बच्चे की मौत हुई। मजूरा गेट फायर स्टेशन के नजदीक साची हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने बताया कि, 13 साल के ध्रुव को मोटा वराछा इलाके से हॉस्पिटल लाया गया था। शुरुआत में तो उस बच्चे में कोरोना के कोई लक्षण नहीं दिखाई दे रहे थे। मगर, कोरोना टेस्ट कराने पर पुष्टि हुई कि वो वायरस की जद में है। उसे साची चाइल्ड हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था।

सूरत न्यू सिविल हॉस्पिटल के ट्रोमा सेंटर से भाग गया कोरोना मरीज, परिजनों ने भी डॉक्टरों से अभद्रता कीसूरत न्यू सिविल हॉस्पिटल के ट्रोमा सेंटर से भाग गया कोरोना मरीज, परिजनों ने भी डॉक्टरों से अभद्रता की

13 साल के ध्रुव के पिता का कहना है कि, बेटा रविवार को पूरी तरह से स्वस्थ था। कोरोना के सामान्य लक्षण उसमें नहीं थे। उसे कोई तकलीफ भी नहीं थी। हां, फिर सांस लेने में दिक्कत होने लगी थी। कोरोना पॉजिटिव निकलने के कुछ ही घंटों बाद वो हमसे छिन गया। ध्रुव के पिता का नाम भावेशभाई कोराट है, जो कि, मोटा वराछा में डी-मार्ट के पास स्थित भवानी हाईट्स में रहते हैं और एम्ब्रॉयडरी का कारखाना चलाते हैं।

गुजरात के 20 शहरों में लगा नाइट कर्फ्यू, शादी समारोह में शामिल हो सकेंगे केवल 100 लोगगुजरात के 20 शहरों में लगा नाइट कर्फ्यू, शादी समारोह में शामिल हो सकेंगे केवल 100 लोग

English summary
Surat: 13-years-old boy Dhruva lost life Due to covid 19
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X