• search
गुजरात न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गुजरात में 9वीं-11वीं कक्षाओं के लिए 1 फरवरी से खुलेंगे स्कूल, शिक्षामंत्री चुडास्मा ने की घोषणा

|

अहमदाबाद। कोरोना महामारी के प्रकोप के बीच गुजरात में पिछली 11 जनवरी से स्कूल 10वीं-12वीं के विद्यार्थियों के लिए खोल दिए गए थे। यहां लॉकडाउन के समय से ही ज्यादातर स्कूल बंद थे। फिर जब खुले तो विद्यार्थी सोशल डिस्टेंसिंग को फॉलो करते हुए अपने-अपने स्कूलों में दाखिल हुए। 10वीं-12वीं की कक्षाओं के बाद अब स्कूलों में 9वीं और 11वीं कक्षाएं भी शुरू होंगी। इस बारे में राज्य के शिक्षामंत्री भूपेंद्र सिंह चुडास्मा ने घोषणा की है।

भूपेंद्र सिंह चुडास्मा ने कहा कि, आगामी 1 फरवरी से 9वीं और 11वीं की कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए भी स्कूल खोल दिए जाएंगे। विद्यार्थियों को कोरोना गाइडलाइंस फॉलो करते हुए स्कूल आना होगा। शिक्षामंत्री बोले कि, "10 वीं और 12 वीं कक्षा के छात्रों के लिए कक्षाएं 11 जनवरी से शुरू की जा चुकी हैं। शर्त यह है कि, स्कूल-संचालकों को केंद्र सरकार की तय एसओपी को फॉलो करना होगा। यह फैसला सभी बोर्ड्स पर लागू होगा।"

Schools for classes 9 and 11 to start from February 1: says Bhupendrasinh Chudasama

गुजरात के शिक्षा मंत्री ने बताया कि, इसके अलावा ऑनलाइन शिक्षा भी जारी रहेगी।आज न्यूज एजेंसी से बातचीत में भूपेंद्रसिंह चुडास्मा ने कहा कि, हमारी सरकार ने कोविड-19 दिशानिर्देशों को ध्यान में रखते हुए स्कूलों में कक्षाएं शुरू करने का फैसला लिया है। इससे पहले कई राज्यों में स्कूल खोले जा चुके हैं।' पहले 10 और 12 जनवरी से, पीजी व कॉलेज की कक्षाएं शुरू करने का निर्णय लिया गया। आदेशानुसार, गुजरात के सभी बोर्ड, सरकारी माध्यमिक स्कूल शुरू किए। हालांकि, अभी केवल 10 वीं और 12 वी कक्षाएं चल रही हैं। इसके अलावा कॉलेज के अंतिम वर्ष की कक्षाएं शुरू की जाएंगी।

क्लिक करके यह भी पढ़िए -गुजरात: स्कूल खुलने पर कोरोनावायरस का फिर फैला डर

स्कॉलरशिप के लिए 27 तक आवेदन

राज्य सरकार की ओर से विद्यार्थियों के लिए एक और जरूरी सूचना दी गई है। सरकार ने एक अधिसूचना जारी कर बताया है कि छात्रवृत्ति के लिए छात्र 27 जनवरी तक आवेदन कर सकते हैं। छात्रवृत्ति छठवीं और नौवीं के छात्रों को मिलेगी।छात्रवृत्ति पाने के लिए छात्रों को परीक्षा देनी होगी। राज्य सरकार के मुताबिक, छात्रों के 5वीं और 8वीं में भी 50 प्रतिशत अंक होना जरूरी है। सरकारी और ग्रांट इन एड स्कूलों में पढ़ने वाले प्राथमिक और माध्यमिक छात्रों के लिए छात्रवृत्ति देने के लिए यह फैसला आया है। छात्रवृत्ति के लिए छात्रों को स्कूल की तय फीस भी चुकानी होगी। सरकार ने कहा है कि, छात्रवृत्ति के लिए 14 मार्च को परीक्षा ली जाएगी। उसके आधार पर ही छात्रवृत्ति बांटी जाएगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Schools for classes 9 and 11 to start from February 1: says Bhupendrasinh Chudasama
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X