• search
गुजरात न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

राष्ट्रपति अवार्ड से सम्मानित रि. DSP के बेटे ने पत्नी और 2 बेटियों को गोली मारकर खुदकुशी की, कुत्ते को भी नहीं बख्शा

|

भावनगर। गुजरात में भावनगर से दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित रि. डीएसपी के बेटे ने अपनी बीवी और बच्चों की हत्या करके खुदकुशी कर ली है। यह घटना विजयराज नगर इलाके की है।

खुदकुशी का दिल दहला देने वाला मामला

खुदकुशी का दिल दहला देने वाला मामला

संवाददाता ने बताया कि, रिटायर्ड डीएसपी नरेंद्र सिंह जडेजा के बेटे पृथ्वीराज सिंह जडेजा ने पत्नी और दो बेटियों को गोली मारने के बाद खुद को शूट किया। गोली उसके सिर में लगी और खून के फव्वारे छूट गए। उन्हें देखकर परिजन एवं पड़ोसियों में चीख-चिल्लाहट मच गई। जिसके बाद सूचना मिलते ही पुलिस के कई उच्च अधिकारी वहां आ पहुंचे। जांच-पड़ताल शुरू कर दी गई।

परिवार के बाद पालतू कुत्ते को भी गोली मारी

परिवार के बाद पालतू कुत्ते को भी गोली मारी

मृतकों की पहचान पृथ्वीराज सिंह जडेजा, उसकी पत्नी बीनाबा, दो बेटियों 18 वर्षीय नंदीनीबा और 11 साल की यशस्वीबा के रूप में हुई। सभी की जान बंदूक की गोली से गई। उनके खून बह रहा था और उन्हें देखकर हर कोई कांप उठा।

इस मामले में डीएसपी सफिन हसन ने कहा कि, ऐसा लगता है कि पृथ्वीराजसिंह ने पहले परिवार और पालतू कुत्ते को गोली मारी, फिर खुद को शूट कर लिया। पिता नरेंद्र सिंह जड़ेजा गांव गए थे, तब उनके घर यह घटना हुई। ऐसे में वह अनजान थे।

फोन कर खुद दोस्त को खुदकुशी के बारे में बताया

फोन कर खुद दोस्त को खुदकुशी के बारे में बताया

पुलिस ने बताया कि, पृथ्वीराज की बड़ी बेटी शूटिंग चैंपियन थी। लेकिन रिवॉल्वर का लाइसेंस पृथ्वीराज सिंह के नाम से ही होने की जानकारी मिली है।इधर, पृथ्वीराजसिंह के दोस्तों का कहना है कि, पहले पृथ्वीराजसिंह ने उन्हें फोन कर बताया था कि, वह खुदकुशी करने जा रहा है। जिसके चलते वह तुरंत ही उसके घर पहुंचे थे, लेकिन उससे पहले ही पृथ्वीराज ने परिवार को गोली मारने के बाद खुद को गोली मार ली थी। घटना स्थल से एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें लिखा है- मैं और मेरा परिवार सुसाइड कर रहे हैं और दरवाजा खुला है।

घटना के वक्त पूर्व डीसीपी गांव गए हुए थे

घटना के वक्त पूर्व डीसीपी गांव गए हुए थे

बता दें कि, भावनगर में पुलिस सब-इंसपेक्टर रह चुके नरेंद्र सिंह जडेजा डीएसपी के पद से रिटायर्ड हुए थे। इसके अलावा उन्हें पुलिस में बेहतरीन कार्य के लिए राष्ट्रपति अवाॅर्ड भी मिला। वे मूल रूप से कालावाड तहसील के केल मेघडा गांव के रहने वाले थे। घटना के वक्त वह गांव गए हुए थे। बेटे का परिवार उजड़ने की सूचना मिलते ही नरेंद्रसिंह भी गांव से सीधे अपने भावनगर स्थित घर पहुंच गए। जहां चारों की लाशें देखकर वह भी सुन्न हो गए।

पूरा एटीएम ही उखाड़ ले गए चोर, 7 लाख का कैश निकालकर दूर खेत में फेंक दी खाली मशीन

साले ने जीजा के खिलाफ केस दर्ज कराया

साले ने जीजा के खिलाफ केस दर्ज कराया

इस मामले को लेकर पृथ्वीराजसिंह के साले ने अपनी बहन व भांजियों की हत्या की शिकायत दर्ज करवाई है। जिसमें मृतक पृथ्वीराजसिंह को आरोपी बताया गया है। बहरहाल, इस शिकायत के अधार पर पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है। मृतक का अपने साढू के साथ पार्टनरशिप में बिजनेस होने की खबर मिलने पर उस दिशा में भी पुलिस जांच कर रही है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In bhavnagar, a Retired DSP's Son Shot Dead After Shooting His Wife and Daughters, All Died
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X