• search
गुजरात न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Gujarat budget 2021-22: सरकार का ऐलान- स्कूलों को हेरिटेज का दर्जा देंगे, किसानों को 10 हजार करोड़ मदद

|
Google Oneindia News

गांधीनगर। गुजरात में वित्त वर्ष 2021-22 के लिए आज बजट पेश किया गया है। इस बजट को गुजरात के उप मुख्यमंत्री व वित्त मंत्री नितिन पटेल ने पेश किया। उनके द्वारा पेश किया गया यह 9वां बजट है। पटेल द्वारा गुजरात राज्य की स्थापना के बाद पहली बार 2.27 लाख करोड़ रुपए का बजट पेश किया गया है। बजट की स्क्रिप्ट पढ़ते हुए नितिन पटेल ने कई अहम घोषणाओं का जिक्र किया। उन्होंने बताया कि, पिछली बार के बजट से इस बार 10,000 करोड़ रुपए ज्यादा हैं।

Gujarat budget 2021-22: Deputy Chief Minister Nitin Patel Present Gujarat Budget For 2021-22

बजट 2021 में ये हुईं बड़ी घोषणाएं-
वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालते रहे नितिन पटेल ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए पेश किए जा रहे बजट में अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन के लिए 1500 करोड़ के पैकेज की घोषणा की। उन्होंने ऐलान किया कि, केवडिया के 50 किलोमीटर के इलाके में कमल की खेती के लिए 15 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

Gujarat budget 2021-22: Deputy Chief Minister Nitin Patel Present Gujarat Budget For 2021-22

शिक्षा के लिए 32 हजार करोड़
नितिन पटेल ने कहा कि, राज्य में सरकार द्वारा शिक्षा के लिए 32 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। इसके अलावा महिला एवं बाल विकास के लिए 3511 करोड़ रुपए दिए गए हैं। उन्होंने यह घोषणा भी कि, गुजरात मेंं दो मेगा टेक्सटाइल पार्क का निर्माण कराया जाएगा।

स्कूलों को हेरिटेज का दर्जा मिलेगा
पटेल ने कहा कि, सरकार गुजरात के ऐतिहासिक स्कूलों को हेरिटेज साइट्स का दर्जा दिलाएगी। उन्होंने कहा कि, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के गृह जनपद राजकोट में मेडिकल डिवाइस पार्क का निर्माण भी कराया जाएगा। उद्योग और खनिज विभाग के लिए 6599 करोड़ रुपए दिए गए हैं।

किसानों को 10 हजार करोड़ मदद
उप मुख्यमंत्री ने घोषणा की- राज्य सरकार किसानों को 10 हजार करोड़ रुपए की सहायता प्राकृतिक खेती के लिए मुहैया कराएगी। उन्होंने कहा कि, ​जहां दुनिया की सबसे उूंची प्रतिमा है, उस केविडया के आसपास कमल पार्क भी बनवाया जाएगा। इसके लिए वहां जो पौधे लगेंगे, उसके लिए 15 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। तकरीबन दो लाख पौधों को रोपा जाएगा।

दूसरी बार पेपरलेस बजट

इस बार का बजट पेपरलेस है। बता दिया जाए कि, रूपाणी सरकार ने राज्य में पिछले साल से पेपरलेस बजट की शुरूआत की थी। तब 2,17,287 रुपए का बजट पेश किया गया था। इसी के साथ गुजरात की सकल राज्य घरेलू उत्पाद जीएसडीपी 2020-21 के लिए 18,84,922 करोड़ रुपये होने का अनुमान लगाया गया था।

बजट कैसा होगा, यह पहले ही बताया था
बजट के ज्यादातर डॉक्यूमेंट सॉफ्ट कॉपी में होंगे, यह बात गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने काफी समय पहले ही बता दी थी। पिछले वर्ष की तरह पेपरलेस बजट की प्रक्रिया को इस साल भी आगे बढ़ाया गया है। पटेल ने कहा था- लाइब्रेरी और रिकॉर्ड के लिए 150 कॉपीज छपवाई जाएंगी। बाकी की कॉपी व अन्य डॉक्यूमेंट पेनड्राइव में विधायकों को दिए जाएंगे। यही हुआ है। साथ ही, पहली बार गुजरात का बजट स्मार्टफोन ऐप से पेश किया गया है। इस ऐप को 2 भाषाओं में उपमुख्यमंत्री ने पिछले दिनों लांच किया था। गुजरात विधानसभा के अध्यक्ष राजेन्द्र त्रिवेदी ने बताया कि इस एप्लीकेशन को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

गुजराती और इंग्लिश भाषाओं में बजट ऐप
बजट को लेकर जो स्मार्टफोन ऐप आया है, इस एप्लीकेशन के जरिए विधानसभा सदन के सदस्य और आमजन को बजट से संबंधित दस्तावेज आसानी से मिल सकेंगे। यह गुजराती और इंग्लिश 2 भाषाओं में काम करता है। ऐसे में इसी एप के चलते यह बजट गुजरात के विधानसभा के इतिहास में ऐतिहासिक साबित हुआ है।

गुजरात सरकार का बजट भी केंद्र सरकार की तरह पेपरलेस, विधायकों को पेनड्राइव में डॉक्यूमेंट दिए गएगुजरात सरकार का बजट भी केंद्र सरकार की तरह पेपरलेस, विधायकों को पेनड्राइव में डॉक्यूमेंट दिए गए

English summary
Gujarat budget 2021-22: Deputy Chief Minister Nitin Patel Present Gujarat Budget For 2021-22, Focused On bullet train, Farmers And Employment
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X