• search
गुजरात न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

'गैंगस्टर सुधर जाएं या फिर गुजरात छोड़ दें', CM रूपाणी ने योगी की तरह अपराधियों को चेताया

|

गांधीनगर। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की स्टाइल में अपराधियों को चेताया है। रूपाणी ने कहा कि, गैंगस्टर सुधर जाएं या फिर गुजरात छोड़ दें।' इसके साथ ही रूपाणी ने कहा कि हमारे यहां शहरों ने ढांचागत सुविधाओं के साथ-साथ पर्यावरण की सुरक्षा, शांति और सुरक्षा के लिए कानूनों में बड़े संशोधन किए हैं, जहां अपराध की कोई जगह नहीं। ऐसे में गैंगस्टर ये बात समझ जाएं। सरकार ने पुलिस को इसी नारे के साथ सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया है।

 CM Rupani Warns Criminals

अशांत धारा कानून-2020 को राष्‍ट्रपति की मंजूरी

बताते चलें कि, विधानसभा के पिछले मानसून सत्र में पारित हुए अशांत धारा कानून-2020 को राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इसी महीने पास करने मंजूरी दी है। जिसके बारे में गुजरात के मंत्री जाडेजा ने कहा कि, 'किसी क्षेत्र को अशांत क्षेत्र घोषित करने के लिए सरकार एक मॉनिटरिंग एंड एडवाइजरी कमेटी तथा स्‍पेशल इन्‍वेस्‍टीगेशन टीम का गठन करेगी। यह सभी ऐसे क्षेत्र व उसके आसपास के 500 मीटर तक के क्षेत्र को अशांत घोषित कर सकेंगे।' इस कानून के आने के बाद स्पष्ट कहा जा रहा है कि, यहाँ अब लोग किसी भी इलाके में दंगा व अशांति नहीं फैला सकेंगे। इसी के साथ वह अब दूसरे समुदाय के लोगों की जमीन, मकान अन्‍य अचल संपत्ति को भी अपने नाम नहीं कर पाएंगे। इस कानून से राज्‍य में सामाजिक समरसता, शांति बनी रहेगी। इसके अलावा ऐसे क्षेत्रों में रह रहे परिवार व किरायेदारों को कानूनी सुरक्षा मिलेगी।''

 CM Rupani Warns Criminals

गुजरात गुंडा एंड एंटी सोशल एक्टिविटिज (प्रिवेंशन) एक्ट

इससे पहले राज्य सरकार द्वारा सितंबर महीने में बताया गया था कि, सूबे में गुंडागर्दी रोकने को नया कानून बनने जा रहा है। जिसके अंतर्गत किसी के दोषी पाए जाने पर उसे 10 साल की कैद हो सकती है। गुजरात गुंडा एंड एंटी सोशल एक्टिविटिज (प्रिवेंशन) एक्ट के तहत दोषी पाए गए लोगों की प्रॉपर्टी सीज कर ली जाएगी। हालांकि मामला दर्ज करने पहले रेंज आईजी या पुलिस कमिश्नर की अनुमति लेनी होगी। इसके तहत सार्वजनिक जगहों पर हिंसा, धमकी, गुंडागर्दी को खत्म करने के इरादे से कार्रवाई की जाएगी। इस तरह मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की अगुवाई में राज्य सरकार वर्ष 2020 में ही 'अशांतधारा कानून' लाई।

 CM Rupani Warns Criminals

ये भी पढ़ें: विरोध-प्रदर्शनों में गुंडागर्दी रोकने के लिए गुजरात सरकार लागू करेगी नया कानून, होगी 10 साल जेल

योगी संग संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में ये भी कह चुके हैं रूपाणी

हालांकि, इस कानून के पहले भी यहां एक और अलग तरह का सख्त ​कानून था, जिसमें पुलिस द्वारा एनकाउंटर एवं देशद्रोह की धारा में कार्रवाई की जा सकती है। मुख्यमंत्री रूपाणी कई बार यह बात कह चुके हैं कि, गुजरात में अपराधियों को सुधरना होगा। साथ ही रूपाणी अपने प्रदेश में उत्तर भारतीयों पर होने वाले हमलों को कांग्रेस की सुनियोजित साजिश करार देते रहे हैं। लखनऊ में योगी आदित्यनाथ के साथ विजय रूपाणी 2018 में संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस कर चुके हैं। जिसमें उन्होंने कहा था, 'गुजरात में उत्तर भारतीयों के खिलाफ भड़काऊ गतिविधियां कांग्रेस की सुनियोजित साजिश थीं। लेकिन हमारी सरकार ने उनके प्रयास को विफल कर दिया। हम गैर-गुजरातियों के लिए भी पूरी सुरक्षा सुनिश्चित कर रहे हैं।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
CM Vijay Rupani Warns Criminals- Whether The Gangsters Improve Or Leave Gujarat
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X