• search
गुजरात न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बीवी बोली- तुम्हारा साढ़ू बिल्डर है, बहुत कमाता है तुम क्या करते हो, हीरा श्रमिक बाइकें चुराने लगा, पुलिस ने 30 जब्त कीं

|

सूरत। ज्यादा पैसे कमाने के पत्नी के ताने सुनकर एक शख्स बाइकें चुराने लगा। पत्नी ने उससे कहा था कि, तुम्हारा साढ़ू बिल्डर है। वो खूब कमाता है और तुम क्या करते हो! ऐसे ही बातें सुनकर वह चोरी-चकोरी में लिप्त हो गया। एक दिन पुलिस के हत्थे चढ़ गया तो पूछताछ में यही बात कही। वहीं, पुलिस ने उसके बताए गए ठिकाने से 30 बाइकें जब्त कीं। पुलिस के मुताबिक, शख्स का नाम बलवंत वल्लभ चौहान है, जो मोटा वराछा के उत्राणगाम स्थित गोपाल कृष्णा अपार्टमेंट में रहता है। वह पहले हीरा कारखाने में नौकरी करता था।

प्रारंभिक पूछताछ में बलवंत ने पुलिस को बताया कि, वर्ष 2017 में वह हीरा कारखाने में था तो पहली बाइक चुराई थी। उसके बाद से ही बाइकें चुरा रहा था, लेकिन बेच नहीं पा रहा था। उसने आगे कहा कि, जब दोपहर के समय हीरा कारखानों में काम करने वाले कारीगर खाना खाने के बाद कारखाने में चले जाते हैं, तो उसी दौरान रत्न-कलाकारों की पार्किंग से डुप्लीकेट चाबी से मैं लॉक खोलकर बाइक चोरी कर लेता था। मेरे पास स्प्लेंडर बाइक की मास्टर की थी, इसलिए स्प्लेंडर बाइक ही उठाता था। शॉपिंग कॉम्प्लेक्स की पार्किंग से भी कई बाइकें उठाईं। अब तक कापोद्रा से 8, वराछा से 11, अमरोली से 2, कतारगाम से 7 और सचीन व महिधरपुरा से 1-1 बाइक चुराई।

a diamond worker in surat, Steals Bikes, when his Wife Said- Earns More Money

एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक, बलवंत वल्लभ चौहान को क्राइम ब्रांच ने सूरत शहर के वराछा हिरबाग सर्किल से चोरी की बाइक के साथ पकड़ा था। उससे पूछताछ की गई तो 30 बाइक बरामद की गईं। पूछताछ में उसने अपनी उम्र 37 बताई। बोला कि, मैं हीरा घिसने का काम करता था। लेकिन पत्नी हमेशा कहती थी कि तुम्हारा साढू ज्यादा पैसे कमाता है, तुम क्या करते हो? जिसके चलते मैंने बाइकें चुराना ही बेहतर समझा। चोरी की गईं बाइकों को मैं उत्राण के ओवरब्रिज के पास वाली खाली जगह में रखता था।

a diamond worker in surat, Steals Bikes, when his Wife Said- Earns More Money

बच्चों को खेल-खेल में फांसी का डेमो दे रहे पिता को हकीकत में ही लग गई फांसी, बिलख रहा परिवार

इन बाइकों की आरसी बुक और अन्य दस्तावेज नहीं होने से कोई खरीदने को तैयार नहीं था। बाद में चोर ने बाइकों को कबाड़ में बेचने का फैसला किया था। इसी दौरान कई महीने से वहां इतनी बाइक खड़ी होने से एक व्यक्ति को शक हुआ। उसने इस बारे में पुलिस को जानकारी दी। पुलिस की क्राइम ब्रांच ने फिर बलवंत को रंगे हाथ पकड़ा। बलवंत का कहना है कि, चोरी की हुई दो बाइक भावनगर में अपने मामा के बेटे कानजी मकवाणा को बेची।

a diamond worker in surat, Steals Bikes, when his Wife Said- Earns More Money

वहां भावनगर पुलिस ने कानजी को बाइकों के साथ गिरफ्तार किया था। वहां के मामले की जांच में भी बलवंत का नाम आया। पुलिस का कहन है कि, दोनों बाइक वराछा और अमरोली थाना क्षेत्र से चुराई गई थीं। इसी कारण वराछा व अमरोली पुलिस ने बलवंत को वांटेड घोषित किया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
a diamond worker in surat, Steals Bikes, when his Wife Said- Earns More Money
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X