• search
गुजरात न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गुजरात में कोरोना से ठीक होने की दर लगातार घटी, जानें जा रहीं ज्‍यादा, अब लोगों को बांट रहे स्‍टीकर

|

अहमदाबाद। गुजरात में दिनों-दिन हजारों लोग कोरोना के कहर का शिकार हो रहे हैं। 24 घंटे में यहां 14,120 नए संक्रमित मिले, जबकि 174 लोगों ने संक्रमण के कारण दम तोड़ दिया। एक दिन के भीतर का यह अब तक की सबसे ज्‍यादा संख्‍या थी। राज्य के स्वास्थ्य विभाग की ओर से कहा जा रहा है कि, बीते बुधवार को 8,595 लोग कोरोना मुक्‍त हुए हैं। हलाांकि, 14,120 नए रोगियों को शामिल करने के साथ, यहां कोरोना वायरस के मामलों की संख्या बढ़कर 5,38,845 हो गई।

14120 new COVID patients in Gujarat a Day, color-coded stickers for those exempted from night curfew

इससे पहले गुजरात में मंगलवार को 14,352 मामले दर्ज किए गए थे, जो अब तक एक दिन में सबसे अधिक है। विभाग ने कहा कि 174 और मरीजों की मौत के बाद राज्यव्यापी आंकड़ा बढ़कर 6,830 हो गया। पिछला उच्चतम आंकड़ा (एकल-दिन) 170 था, जो कि 27 अप्रैल को दर्ज किया गया था।

स्वास्थ्य विभाग की विज्ञप्ति में यह माना गया है कि राज्य की कोरोना रिकवरी दर घटकर 74.01 प्रतिशत हो गई है। हालांकि, यह भी कहा गया है कि, गुजरात में कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर 3,98,824 हो गई है। विभाग ने कहा, ''गुजरात में वर्तमान में 1,33,191 सक्रिय मामले हैं, जिनमें से 421 मरीज गंभीर हैं।

एक दिन के दौरान अहमदाबाद में कोरोना के सबसे ज्यादा 5,740 नए मामले दर्ज किए गए। उसके बाद सूरत में 2,116, वडोदरा में 858, जामनगर में 721, राजकोट में 434, भावनगर में 385, गांधीनगर में 324 दर्ज किए गए हैं। मौतों की बात की जाए तो अहमदाबाद में सबसे ज्यादा 26, जामनगर में 25, सूरत में 19 और वडोदरा में 16 मौतें दर्ज की गई हैं।

विभाग ने कहा कि, गुजरात में अब तक 1,17,57,862 लाभार्थियों को टीके लगाए गए हैं, जिनमें से 21,93,303 को दूसरा डोज भी दी जा चुकी है। सरकार ने एक मई से 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों का टीकाकरण शुरू करने की तैयारी की है, जिसके लिए पंजीकरण बुधवार से शुरू हो चुका है। अधिकारियों ने कहा कि, केंद्र शासित प्रदेश दादरा और नगर हवेली, दमन और दीव में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 180 नए संक्रमण के साथ बढ़कर 7,234 हो गई है। उन्होंने कहा कि, वहां 221 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी होने के बाद रिकवरी बढ़कर 5,083 हो गई है। अधिकारियों ने कहा कि, यूटी में अब 2,147 सक्रिय मामले हैं। चार लोगों की मौत हो चुकी है।

अहमदाबाद नगर निगम ने बुधवार को अपना ये नियम वापस ले लिया कि एक रोगी को अस्पताल में भर्ती होने के लिए '108' एम्बुलेंस में पहुंचना होगा। यह कदम तब उठाया गया, जबकि गुजरात हाईकोर्ट द्वारा राज्य सरकार से अस्पतालों को '108' (हेल्पलाइन) एम्बुलेंस सेवा के माध्यम से आने वाले लोगों के बजाय सभी रोगियों को स्वीकार करने के लिए निर्देशित करने के लिए कहा गया।

हाईकोर्ट ने सरकार पर सवाल उठाया था और अहमदाबाद में अस्पतालों को नामित किया था जो केवल आपातकालीन प्रबंधन और अनुसंधान संस्थान द्वारा संचालित '108' एम्बुलेंस में आने वाले और निजी वाहनों में लाए गए रोगियों की अनदेखी कर रहे थे।

14120 new COVID patients in Gujarat a Day, color-coded stickers for those exempted from night curfew

अहमदाबाद नगर निगम ने कहा, "गुरुवार से शहर के अस्पताल मरीजों को उनकी जरूरत के आधार पर स्वीकार करेंगे, भले ही वे '108' एंबुलेंस, निजी एंबुलेंस, निजी वाहनों से या पैदल ही आए हों।" वहीं, निगम ने शहर में कोविड बेड की संख्या बढ़ाने के लिए, निजी अस्पतालों को संक्रमित रोगियों के लिए अपने परिचालन बेड का 75 प्रतिशत आवंटित करने का भी निर्देश दिया है, जो कि और 1000 बेड जुड़वा देगा।

अहमदाबाद नगर निगम ने मरीजों को अहमदाबाद नगर निगम कोटा के तहत अस्पतालों में भर्ती होने के लिए अनिवार्य कर दिया था ताकि पहले '108' केंद्रीकृत प्रणाली पर पंजीकरण किया जा सके। ऐसे अस्पतालों में मरीजों को तभी प्रवेश दिया जाता है जब वे '108' एंबुलेंस द्वारा पहुंचते हैं और अन्य वाहनों में पहुंचने की स्थिति में एंट्री से इनकार करते हैं। शहर के जीएमडीसी ग्राउंड में नव-निर्मित 900-बेड अस्पताल के लिए भी यह मानदंड आवश्यक था।

मालूम हो कि, कोरेाना के बढ़ते मामलों के साथ, रोगियों को घंटों इंतजार करना पड़ रहा था, और निजी वाहनों में अस्पतालों पहुंचने वाले कई लोगों को प्रवेश से वंचित कर दिया गया था, ऐसे कुछ मामलों में उनकी मृत्यु भी हो गई। एक अन्य फैसले में, नगर निगम ने कोरोना उपचार के लिए कुछ अस्पतालों में प्रवेश के लिए आधार कार्ड की अनिवार्यता को भी वापस ले लिया।

कोरोना पर नई चिट्ठी: प्रियंका गांधी बोलीं- इन्सानियत ने हमें कभी निराश नहीं किया, हम होंगे कामयाबकोरोना पर नई चिट्ठी: प्रियंका गांधी बोलीं- इन्सानियत ने हमें कभी निराश नहीं किया, हम होंगे कामयाब

अब सरकार की विज्ञप्ति में कहा गया है कि सभी शहर के अस्पतालों को अपनी आवश्यकताओं के आधार पर रोगियों की जांच और तत्काल प्रवेश के लिए ओपीडी / ट्राइएज की आवश्यकताओं को पूरा करना होगा। अस्पतालों को सरकारी पोर्टल पर बेड की उपलब्धता के बारे में वास्तविक समय की जानकारी देने की आवश्यकता होगी, और बेड की स्थिति दिखाने के बाहर एक डिस्प्ले बोर्ड भी लगाया जाएगा।

14120 new COVID patients in Gujarat a Day, color-coded stickers for those exempted from night curfew

उधर, कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए, गुजरात सरकार ने अहमदाबाद सहित 29 शहरों में रात 8 बजे से सुबह 6 बजे के बीच कर्फ्यू लगा दिया है जो 5 मई तक लागू रहेगा। एक अधिकारी ने बुधवार को कहा कि, अहमदाबाद पुलिस ने रात के कर्फ्यू से छूट पाने वालों के लिए खास तरीके के वाहन स्टिकर पेश किए हैं। पुलिस उपायुक्त हर्षद पटेल ने कहा कि, यह सुनिश्चित करने के लिए कि आवश्यक सेवाओं में लगे लोग हर चौकी पर बिना रुके यात्रा कर सकते हैं, रंगीन स्टिकर जारी किए जा रहे हैं। डॉक्टरों, पैरा मेडिकल स्टाफ और ऑक्सीजन या दवाओं को ले जाने वाले वाहनों पर लाल स्टिकर चिपकाए जाने चाहिए।

हरे स्टिकर्स सब्जियों और दूध परिवहन करने वाले वाहनों के लिए हैं, जबकि पीले रंग मीडिया पेशेवरों, नागरिक अधिकारियों और बिजली उपयोगिता और अन्य आवश्यक सेवा प्रदाताओं के वाहनों के लिए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि, वाहन पर स्टिकर चिपकाना अनिवार्य नहीं है, लेकिन यह आपका समय बचा सकता है।

वहीं, डीसीपी ने कहा, "अगर आपके पास स्टिकर नहीं है, तो पुलिस आपको प्रत्येक चेकपॉइंट पर रोक देगी। इसके बजाय, छूट पाने वाले लोग अपने वाहनों पर स्टिकर चिपका सकते हैं। यह आपको दूर से ही पुलिस को पहचानने में मदद करेगा।"

गुजरात में कोरोना के मामले
राज्‍य में संक्रमितों का कुल आंकड़ा 5,38,845
एक दिन में 14,120 नए मामले
अब तक 6,830 मौतें
3,98,824 लोग कोरोना से मुक्‍त हुए
सक्रिय मामले 1,33,191 हैं

English summary
14120 new COVID patients in Gujarat a Day, color-coded stickers for those exempted from night curfew
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X