• search
गोरखपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गोरखपुर: घर लौट रही नाबालिग को बंधक बनाकर किया रेप, वीडियो वायरल होने के बाद हरकत में आई पुलिस

|

गोरखपुर। महिलाओं की सुरक्षा और सशक्तिकरण के लिए उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार 'मिशन शक्ति' अभियान चला रही है। लेकिन महिलाओं और छात्राओं के खिलाफ हो रही अपराध की घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही। ताजा मामला गोरखपुर से सामने आया है। यहां बाइक सवार दो युवकों ने नाबालिग लड़की को बंधक बनाकर उसके साथ रेप किया। वहीं, इस मामले में पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है। पुलिस ने वारदात को 24 घंटे तक छिपाये रखा, जिसके चलते हड़हवा फाटक चौकी इंचार्ज व एक सिपाही को सस्पेंड कर दिया गया है।

Gorakhpur News: physical attack with minor girl

वहीं, इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। डीआईजी/एसएसपी जोगेंद्र कुमार घटनास्थल पर पहुंचे और मुआयना किया। इस दौरान उन्होंने पीड़िता से बातचीत की। बता दें कि पीड़िता के बयानों के आधार पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। जानकारी के मुताबिक, पीड़िता ऑर्केस्ट्रा में डांस करती है। वो मंगलवार की रात 11 बजे बौलिया रेलवे कालोनी होते हुए पैदल ही घर लौट रही थी। तभी बाइक सवार दो युवक उसे बंधक बनाकर एक कमरे में ले गए और उनमें से एक ने उसके साथ रेप किया।

घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी उसे बदहवास हाल में सड़क पर फेंक कर चले गए। होश आने पर वो सड़क के किनारे बैठकर रो रही थी। कुछ लोगों ने उसे हड़वा फाटक चौकी पर पहुंचाया। चौकी की पुलिस ने उसे पूछताछ की तो युवती ने पूरी घटना की जानकारी दी। पुलिसवालों ने उसके मां-बाप के बारे में पूछा और पता जानकारी करने के बाद उसे उसके घर पहुंचवा दिया। इस मामले में पीड़िता जब पुलिस थाने पहुंची तो कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिसके बाद किसी ने पीड़िता का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया।

वीडियो वायरल होने के बाद मौके पर महिला थाना प्रभारी और पुलिस टीम के साथ पहुंचे डीआईजी एसएसपी ने घटना का निरीक्षण करते हुए पीड़िता के बयान के आधार पर पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कराया और एक आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। वहीं इस मामले में चौकी इंचार्ज और कॉन्स्टेबल की ओर से कोई कार्रवाई न करने के आरोप में डीआईजी/एसएसपी ने दोनों को निलंबित कर दिया है।

वीडियो वायरल करने वाले पर भी हुआ ऐक्शन

पीड़िता का वीडियो बनाकर वायरल करने वाले शख्स और सोशल मीडिया पर वीडियो को वायरल कर किशोरी का पहचान उजागर करने पर सपा नेता चर्चित अधिकारी समेत तीन के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने मुख्य आरोपित को दबोच लिया है, जो बाइक से किशोरी को लेकर गया था। छानबीन कर इस बात की जानकारी की जा रही है और कौन से लोग इस घटना में शामिल थे।

ये भी पढ़ें:- देवरिया: ऑपरेशन के बाद महिला के पेट में तौलिया भूलकर डॉक्टर ने लगा दिए टांके और फिर...

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Gorakhpur News: physical attack with minor girl
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X