• search
गोवा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गोवा में कांग्रेस-टीएमसी के बीच गठबंधन की राह मुश्किल, आसान हुआ भाजपा का रास्ता

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 16 जनवरी। गोवा में विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद से ही प्रदेश में तमाम राजनीतिक दल अपनी रणनीति बनाने में जुटे हैं। वहीं भारतीय जनता पार्टी एक बार फिर से चुनाव जीतकर सत्ता में बने रहने के लिए अपनी रणनीति तैयार कर रही है। लेकिन जिस तरह से कांग्रेस ने तृणमूल कांग्रेस के साथ गठबंधन करने से इनकार कर दिया और आम आदमी पार्टी भी यहां पर अकेले ही चुनाव लड़ने जा रही है उसकी वजह से भारतीय जनता पार्टी के लिए चुनौती थोड़ी कम जरूर हो गई है। विपक्ष एकजुट होकर एक महागठबंधन बनाने में विफल रहा है, ऐसे में देखने वाली बात यह है कि क्या ये सभी दल अकेले-अकेले भाजपा के सामने चुनौती खड़ी कर पाएंगे।

tmc

गठबंधन की इच्छुक नहीं कांग्रेस

पश्चिम बंगाल चुनाव में जबरदस्त जीत के बाद टीएमसी गोवा में अपनी अच्छी शुरुआत करना चाहती है, इसके लिए पार्टी चाहती थी कि एक बड़ा गठबंधन हो, लेकिन जिस तरह से अन्य विपक्षी दलों ने टीएमसी के साथ गठबंधन करने में रुचि नहीं दिखाई उसके चलते टीएमसी की राह थोड़ी मुश्किल जरूर हुई है। आम आदमी पार्टी की बात करें तो पिछले विधानसभा चुनाव में पार्टी कुछ खास नहीं कर सकी थी, लेकिन इस बार के चुनाव में पार्टी बेहतर करने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा रही है। राजनीतिक विश्लेषकों की मानें तो प्रदेश में अगर विपक्षी दल महागठबंधन करते हैं तो वोटों का बिखराव होने से बचेगा लेकिन अब इसके लिए समय नहीं बचा है क्योंकि चुनाव में एक महीने से भी कम का समय बचा है।

महुआ मोइत्रा ने लगाई क्ला

कांग्रेस और टीएमसी के नेता एक दूसरे पर हमलावर नजर आ रहे हैं, ऐसे में गठबंधन की राह और भी मुश्किल नजर आ रही है। टीएमसी नेता महुआ मोइत्रा जोकि गोवा में टीएमसी की इंचार्ज हैं ने कहा कि हम कांग्रेस की ओर से जवाब का इंतजार कर रहे थे, लेकिन बेबुनियाद झूठी वाहवाही में मस्त इन लोगों के पास कोई तार्किक सोच ही नहीं है। वहीं कांग्रेस नेता दिनेश गुंडू राव ने आरोप लगाया है कि टीएमसी भाजपा विरोधी वोटों को बांटने का काम कर रही है।

आपस में भिड़े कांग्रेस-टीएमसी के नेता

मोइत्रा ने ट्वीट करके लिखा था कि टीएमसी ने पहले गोवा में भाजपा को हराने के लिए कांग्रेस को गठबंधन का प्रस्ताव दिया था। कांग्रेस नेतृत्व ने समय मांगा था जवाब देने के लिए, लेकिन2-3 हफ्ते हो गए हैं इंतजार करते हुए। अगर पी चिदंबरम को इसकी जानकारी नहीं है तो उन्हें अपने नेताओं से बात करनी चाहिए बजाए इस तरह के बयान देने के। जिसके जवाब में दिनेश गुंडू राव ने कहा कि टीएमसी की गोवा में भाजपा को हराने की बेहतरीन रणनीति यह है कि कांग्रेस को कमजोर करें और भाजपा विरोधी वोटों को बांटे।

आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी

इसे भी पढ़ें- UP Assembly Election 2022: श्रीकांत शर्मा की जीत पर भाजपा को है पूरा भरोसा, मथुरा से लड़ेंगे दोबारा चुनावइसे भी पढ़ें- UP Assembly Election 2022: श्रीकांत शर्मा की जीत पर भाजपा को है पूरा भरोसा, मथुरा से लड़ेंगे दोबारा चुनाव

कांग्रेस संगठन के महासचिव केसी वेणुगोपाल ने 10 जनवरी को कहा था कि टीएमसी और कांग्रेस के बीच गोवा में गठबंधन को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई है। कांग्रेस पार्टी गोवा को प्रगति के पथ पर वापस लाने में पूरी तरह से आश्वस्त है। साथ ही वेणुगोपाल ने इस बात से साफ इनकार किया है कि गोवा में टीएमसी से गठबंधन को लेकर राहुल गांधी से कोई चर्चा हुई है, इस तरह की खबरें फर्जी हैं। बता दें कि महुआ मोइत्रा ने इस महीने की शुरुता में कहा था कि भाजपा को हराने के लिए वह हर संभव कोशिश करेंगी, इसके लिए उन्होंने कांग्रेस, जीएफपी और एमजीपी के साथ गठबंधन की बात कही थी। यही नहीं बाद में उन्होंने आप को भी भाजपा विरोधी गुट में शामिल होने के लिए कहा था।

Comments
English summary
No alliance between Congress and TMC in Goa war of words escalates.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X