• search
गोवा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गोवा में सरकार बनने से पहले बीजेपी में 'मतभेद', MGP का विरोध

|
Google Oneindia News

पणजी, 15 मार्च: गोवा विधानसभा चुनावों के परिणाम आए मंगलवार को 5 दिन हो चुके हैं, लेकिन अभी तक गोवा में मुख्यमंत्री का चेहरा साफ नहीं हो पाया है। वहीं दूसरी तरफ सरकार के गठन से पहले ही बीजेपी के भीतर मतभेदों की आहत शुरू हो चुकी है। एक तरफ जहां सीएम को लेकर अभी तक कुछ साफ नहीं हो पाया है, तो दूसरी तरफ सहयोगी दल एमजीपी (महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी) का विरोध हो रहा है।

Election Result 2022: Devendra Fadnavis का Shiv Sena पर हमला, बोले लड़ाई हुई नोटा से |वनइंडिया हिंदी
Goa bjp

दरअसल, 40 सीटों वाले गोवा में बीजेपी अपने बल पर 20 सीटें जीतने में सफल हो पाई है। गोवा में होली (18 मार्च) के बाद एक नई सरकार का गठन होने की पूरी संभावना है। मुख्यमंत्री पद के संभावित उम्मीदवार प्रमोद सावंत मंगलवार को पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा और पार्टी के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से मिलने के लिए दिल्ली में हैं।

चर्चाओं में विश्वजीत राणे

इधर, अटकलें लगाई जा रही हैं कि गोवा बीजेपी में वरिष्ठ नेता विश्वजीत राणे सीएम पद के लिए अंदर ही अंदर अपना पूरा जोर लगा रहे हैं, हालांकि राणे ने इससे इनकार किया है। लेकिन विधायक और विश्वजीत राणे की पत्नी देविया राणे ने कहा कि हर नेता की आकांक्षाएं होती हैं और सीएम का नाम केंद्रीय नेतृत्व की ओर से तय किया जाएगा। वहीं अपने सफाई में उन्होंने कहा, "भाजपा के भीतर कोई खेमा नहीं है और न ही मतभेदों का कोई सवाल है।"

एमजीपी पर भाजपा नेता का बयान

इस बीच भाजपा नेता बाबुश मोनसेरेट ने कहा कि महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) जिसने भाजपा को परिणाम के बाद समर्थन देने की घोषणा की है, उसका भाजपा में विलय हो जाना चाहिए। एमजीपी ने तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के साथ चुनाव से पहले गठबंधन किया था और भाजपा विरोधी मुद्दे पर विधानसभा चुनाव लड़ा था।BJP नेता ने कहा कि वे पहले हमारे खिलाफ प्रचार करते हैं और फिर हमसे जुड़ते हैं। तो जब हमारे पास संख्या और समर्थन है तो हमारे पास उन्हें क्यों रखा जाए। इसलिए पार्टी को मजबूत बनाने के लिए एमजीपी को भाजपा में विलय कर देना चाहिए।

गोवा: इन 3 कारणों से BJP को हो रही मुख्यमंत्री चुनने में देरीगोवा: इन 3 कारणों से BJP को हो रही मुख्यमंत्री चुनने में देरी

बता दें कि भाजपा ने हाल के चुनावों में 40 में 20 सीटें जीतीं है। वहीं एमजीपी के दो विधायकों और तीन निर्दलीय विधायकों ने भाजपा को अपना समर्थन दिया है। गोवा में बीजेपी पार्टी सरकार बनाने के लिए तैयार है। इससे पहले मंगलवार को गोवा विधानसभा के 40 नवनिर्वाचित सदस्यों में से 39 ने राज्यपाल पी एस श्रीधरन पिल्लई द्वारा बुलाए गए सत्र के दौरान शपथ ली।

Comments
English summary
Differences in BJP before government formation in Goa bjp leader opposed MGP
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X