• search
गाजियाबाद न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

विक्रम जोशी मर्डर केस: विजय नगर थाना प्रभारी राजीव कुमार पर भी गिरी गाज, लापरवाही बरतने पर किया निलंबित

|

गाजियाबाद। पत्रकार विक्रम जोशी हत्याकांड मामले में एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बड़ी कार्रवाई की है। एसएसपी ने गाजियाबाद के विजय नगर थाने के कोतवाल राजीव कुमार को लापरवाही बरतने के आरोप में सस्पेंड कर दिया है। बता दें कि इस मामले में पत्रकार विक्रम जोशी के परिवारवालों ने प्रताप विहार चौकी इंचार्ज राघवेंद्र पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया था। जिसके बाद चौकी इंचार्ज राघवेंद्र को भी सस्पेंड कर दिया था। साथ ही पूरे मामले की जांच क्षेत्राधिकारी प्रथम को सौंप दी गई है।

यूपी पुलिस की वर्दी पर लगतार बढ़ रहे हैं बदनामी के तमगे, योगी राज में क्या हो रहा है

    UP: पत्रकार ने छेड़खानी की शिकायत की तो बदमाशों ने बेटियों के सामने मार दी गोली
    घटना हुई थी CCTV में कैद

    घटना हुई थी CCTV में कैद

    जानकारी के अनुसार, 20 जुलाई की देर शाम दैनिक अखबार के पत्रकार विक्रम जोशी को उनकी बेटियों के सामने बदमाशों ने गोली मार दी थी। गोली उनके सिर में मारी गई थी, जिसके बाद उन्हें गंभीर हालत में यशोदा अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बता दें कि बुधवार की सुबह इलाज के दौरान विक्रम जोशी की मौत हो गई। गोली मारने से पहले बदमाशों ने पत्रकार को बुरी तरह पीटा भी था। यह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी।

    नहीं लिया था पुलिस ने एक्शन

    नहीं लिया था पुलिस ने एक्शन

    घटना को उस वक्त अंजाम दिया गया था, जब विक्रम जोशी अपनी पांच और आठ साल की बेटियों के साथ माता कॉलोनी, अपनी भांजी के जन्मदिन में शामिल होने जा रहे थे। बीच कमाल-उल-दीन के लड़के और उसके साथ मौजूद 15 से 20 बदमाशों ने पहले विक्रम को पीटा, फिर सिर में गोली मारी दी। घटना को अनजाम देने के बाद आरोपी मौका-ए-वारदात से फरार हो गए थे। इस दौरा विक्रम जोशी जमीन पर घायल पड़े रहे। उनकी छोटी बेटी पिता को बेसुध देख फूट-फूटकर रोने लगी। दरअसल, 16 जुलाई को भांजी से छेड़छाड़ के मामले इन गुंडों के खिलाफ विजय नगर थाने में शिकायत में की थी, लेकिन गाजियाबाद की पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया था।

    अब तक 9 आरोपी गिरफ्तार

    अब तक 9 आरोपी गिरफ्तार

    गाजियाबाद के एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि घटना के बाद पुलिस ने रवि, छोटू, मोहित, दलवीर, आकाश, योगेंद्र, अभिषेक हलका, अभिषेक मोटा और शाकिर को गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा बाकी आरोपियों की तलाश के लिए 6 टीमें बनाई गई हैं। पुलिस को नामजद अभियुक्त आकाश बिहारी की तलाश है। जगह-जगह छापेमारी की जा रही है।

    ये भी पढ़ें:- पत्रकार विक्रम जोशी मर्डर केस: पत्नी को नौकरी और 10 लाख रुपए की आर्थिक मदद देगी योगी सरकार

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    journalist Vikram murder case: Vijay Nagar Police Station Incharge suspended for negligence
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X