• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Republic Day: क्या है Flag Hoisting और Flag Unfurling का अंतर?

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 26 जनवरी। भारत अपना 73वां गणतंत्र दिवस मना रहा है हालांकि कोविड की वजह से इस बार भव्य कार्यक्रम देश में आयोजित नहीं हो रहे हैं। बता दें कि देश में गणतंत्र दिवस या रिपब्लिक डे के अवसर पर स्कूल-कॉलेजों में कार्यक्रम होते हैं और इस दिन राष्ट्रीय अवकाश रहता है। हालांकि अभी कोरोना के कारण बहुत जगहों पर स्कूल-कॉलेज नहीं खुले हैं, ऐसे में लोग वर्चुअल सेलिब्रेशन कर रहे हैं।

 26 जनवरी के दिन देश के राष्ट्रपति झंडा फहराते हैं

26 जनवरी के दिन देश के राष्ट्रपति झंडा फहराते हैं

मालूम हो कि देश के राष्ट्रीय पर्व जैसे गणतंत्र दिवस (26 जनवरी) और स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) को झंडा फहराया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इन दोनों दिनों के ध्वजारोहण में फर्क होता है। 26 जनवरी के दिन देश के राष्ट्रपति झंडा फहराते हैं तो वहीं स्वतंत्रता दिवस के दिन देश के पीएम ध्वजारोहण करते हैं।

गणतंत्र दिवस के दिन कौन से मेट्रो स्टेशन रहेंगे बंद, 25 जनवरी से पार्किंग में एंट्री नहीं, जानें गाइडलाइंसगणतंत्र दिवस के दिन कौन से मेट्रो स्टेशन रहेंगे बंद, 25 जनवरी से पार्किंग में एंट्री नहीं, जानें गाइडलाइंस

    Republic Day 2022 : राजपथ पर पहली बार 1955 में हुई थी परेड, PAK गवर्नर थे अतिथि | वनइंडिया हिंदी
     'झंडा फहराना'

    'झंडा फहराना'

    इसी के साथ ही आपको एक खास बात और बताते हैं, दरअसल स्वतंत्रता दिवस के दिन राष्ट्रीय ध्वज को नीचे से रस्सी द्वारा खींच कर ऊपर ले जाया जाता है, फिर खोल कर फहराया जाता है, जिसे 'ध्वजारोहण' यानी कि Flag Hoisting कहते हैं, जबकि 26 जनवरी यानी गणतंत्र दिवस के अवसर पर झंडा ऊपर ही बंधा रहता है, जिसे खोल कर फहराया जाता है, जिसे 'झंडा फहराना' कहते हैं, जिसके लिए Flag Unfurling शब्द का प्रयोग किया जाता है।

    क्या है तिरंगा फहराने का नियम?

    क्या है तिरंगा फहराने का नियम?

    हमारा राष्ट्रीय ध्वज यानी कि तिरंगा हमारी आन-बान और शान है। हमारा ध्वज हमारी पहचान है इसलिए इसको फहराने का भी नियम होता है, जिसे जानना हर भारतवासी को जरूरी है।

    • तिरंगा हमेशा सूर्योदय से सूर्यास्त के बीच ही फहराया जाता है।
    • तिरंगे को जमीन पर नहीं रखना चाहिए।
    • झंडे को कभी झुकाया नहीं जाता ऐसा तभी होता है जब देश में कोई राष्ट्रीय शोक हो।
    • झंडे को कभी पानी में नहीं डुबोया जा सकता।
    • झंडे के किसी भाग को जलाने, नुकसान पहुंचाने या इसका अपमान करने पर इंसान को जेल भी जाना पड़ सकता है।
    क्यों मनाते हैं गणतंत्र दिवस?

    क्यों मनाते हैं गणतंत्र दिवस?

    26 जनवरी 1950 को हमारा संविधान लागू हुआ था इसी वजह से इस दिन को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं। आपको बता दें कि भारतीय संविधान को बनने में 2 साल, 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था। भारत का संविधान एक लिखित संविधान है। गणतंत्र दिवस के मौके पर अशोक चक्र और कीर्ति चक्र जैसे महत्वपूर्ण सम्मान दिए जाते हैं। इसके बाद हमारी सेना अपना शक्ति प्रदर्शन और परेड मार्च करती है।

    Comments
    English summary
    January 26 marks the 73rd Republic Day of India. here is the difference between Flag Hoisting and Flag Unfurling. On 15th Aug the flag is HOISTED and unfurled. On 26th Jan, the flag is already up there and is UNFURLED.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    Desktop Bottom Promotion