• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Jharkhaand polls 2019 : गौरव वल्लभ को जानिए जिन्होंने संबित पात्रा की बोलती कर दी थी बंद

|
    कौन है Gourav Vallabh, जिन्होंने Sambit Patra की कर दी थी बोलती बंद। वनइंडिया हिंदी

    रांची। कांग्रेस ने अपने राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव वल्लभ को झारखंड विधानसभा चुनाव में जमशेदपुर पूर्वी से मुख्यमंत्री रघुबर दास के खिलाफ उम्मीदवार बनाया है, गौरव वल्लभ भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा से 'ट्रिलियन में कितने जीरो' सवाल पूछकर चर्चा में आए थे, उनका ये सवाल सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था, कांग्रेस की ओर से शनिवार रात 2 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की गई जिसमें वल्लभ को उसने मुख्यमंत्री रघुबर दास के खिलाफ खड़ा किया है।

    कौन है गौरव वल्लभ

    कौन है गौरव वल्लभ

    हालांकि गौरव वल्लभ का राजनीतिक करियर बहुत लंबा नहीं रहा है। गौरव वल्लभ को कांग्रेस पार्टी ने लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के पहले पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया था, ये काफी हाजिर जवाब माने जाते हैं, राजनीति में आने से पहले गौरव एक्सएलआरआई जमशेदपुर में प्रोफेसर के पद पर रह चुके हैं, उन्होंने 2003 से 2017 तक यहां पर अध्यापन का कार्य किया है। पिछले दो वर्ष से वह चार्टर्ड अकाउंटेंट की सबसे बड़ी संस्था आईसीएआई के डायरेक्टर थे और कई कॉलेज में बतौर गेस्ट लेक्चर भी काम किया है, 2003 में वह आरबीआई के थिंक-टैंक के तौर पर भी काम कर चुके हैं।

    यह पढ़ें: असदुद्दीन पर बरसे बाबुल सुप्रियो, कहा-दूसरे जाकिर नाईक बनते जा रहे हैं ओवैसी

     गोल्ड मेडलिस्ट रहे हैं दिल्ली में जन्मे गौरव वल्लभ

    गोल्ड मेडलिस्ट रहे हैं दिल्ली में जन्मे गौरव वल्लभ

    गौरव वल्लभ का जन्म दिल्ली में 1977 को हुआ था। गौरव ने राजस्थान के जोधपुर के पीपर से स्कूली शिक्षा प्राप्त की, गौरव ने अजमेर विश्वविद्यालय से बीकॉम और फिर एमकॉम की पढ़ाई की थी और वह यहां से गोल्ड मेडलिस्ट रहे हैं, उनके पास क्रेडिट रिस्क मैनेजमेंट में पीएचडी, सीए, सीएस, एलएलबी की भी डिग्री है, आजकल वो कांग्रेस के प्रवक्ता के तौर पर काफी मजबूती से पार्टी का पक्ष रखते हैं।

    5 ट्रिलियन में कितने ज़ीरो से हुए थे चर्चित

    5 ट्रिलियन में कितने ज़ीरो से हुए थे चर्चित

    दरअसल एक निजी टीवी न्यूज चैनल के टीवी डिबेट शो में गौरव वल्लभ ने संबित पात्रा से पूछा कि 5 ट्रिलियन में कितने जीरो होते हैं,उस डिबेट में पात्रा भारत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 100 दिनों के पूरा होने से संबधित बातें बता रहे थे और इसी दौरान उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने हमारे देश के करीब 5 ट्रिलियन लोगों के इकोनोमिक के बारे में प्लान बनाए हैं, जिस पर वल्लभ ने पलटकर पूछा था कि अच्छा पहले ये बताएं के एक 5 ट्रिलियन में कितने जीरो होते हैं पात्रा जी, उनका ये सवाल उन्हें रातों-रात चर्चा में ले आया था, इस बहस के बाद वल्लभ ने ट्विटर हैंडल पर इस डिबेट की क्लिप शेयर करते हुए लिखा था कि मेरी एक फितरत है, मैं क्लास भी लेता हूं तो बीच-बीच में क्रास क्वेश्चन करता हूं, वो सवाल उसकी आईक्यू के लिए नहीं होता, वो इसलिए होता है कि वो कितना गंभीर होकर क्लास में आ रहा है।

    पांच चरणों में मतदान

    पांच चरणों में मतदान

    गौरतलब है कि झारखंड में 81 सीटों पर पांच चरणों में मतदान होगा। नक्सली समस्या को देखते हुए राज्य में कई चरणों में मतदान कराए जाएंगे। राज्य में 30 नवंबर को पहले चरण के मतदान होने हैं। दूसरे चरण का मतदान, 7 दिसंबर, तीसरे चरण का 12 दिसंबर, 16 को चौथे चरण का और 20 दिसंबर को आखिरी चरण का मतदान होगा और 23 दिसंबर को वोटों की गिनती होगी।

    यह पढ़ें: जानिए कहावत ....कहां राजा भोज,कहां गंगू.... में कौन है 'तेली'?

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    The Congress fielded its national spokesperson Gourav Vallabh to take on Jharkhand Chief Minister Raghubar Das in the upcoming assembly elections, Read his Profile in hindi.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more