• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

हाई ब्लड प्रेशर है बेहद खतरनाक, खाने में इन 12 चीजों के परहेज से रख सकते हैं कंट्रोल

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 18 मई। आज की इस भागदौड़ भरी और तनाव वाली जिंदगी में बहुत सारे लोग हाई ब्लड प्रेशर या उच्च रक्तचाप से पीड़ित होते हं। यह वह स्थिति है जहां रक्त वाहिनियों (ब्लड वेसेल्स) के अंदर रक्त के गुजरने की गति खतरनाक स्तर तक बढ़ जाती है। यह वाहिकाओं की दीवारों को कमजोर करता है और आपका दिल बहुत तेजी से रक्त को पंप करता है। इस तेजी से पम्पिंग के परिणामस्वरूप हृदय को ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है जिसके चलते दिल संबंधी कई बीमारियां हो सकती हैं। हाई ब्लड प्रेशर की स्थिति आने पर डॉक्टर की सलाह लेने के साथ ही खाने में ध्यान देना बहुत जरूरी है। ऐसे बहुत से खाद्य पदार्थ हैं जो शरीर में ब्लड प्रेशर को और बढ़ाते हैं। हम ऐसे ही 12 खाद्य पदार्थों के बारे में बताने जा रहे हैं ब्लड प्रेशर होने पर जिनका सेवन न करने की या फिर बहुत कम मात्रा में करने की सलाह दी जाती है।

नमक

नमक

उच्च रक्तचाप से पीड़ित इंसान के लिए नमक तो दुश्मन की तरह है। हमारे खाने में सोडियम की मात्रा बढ़ती है तो यह शरीर के आयनिक संतुलन को बिगाड़ देता है। रक्त में सोडियम अधिक होने से आपकी किडनी रक्त को अच्छे से साफ नहीं कर पाती है और रक्त में पानी की मात्रा बढ़ जाती है जिससे रक्तचाप बढ़ता है। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक एक वयस्क व्यक्ति को प्रतिदिन 5 ग्राम से कम नमक का सेवन करना चाहिए। हालांकि लोग दिन भर में 9-12 ग्राम नमक सेवन करते हैं जो कि सही नहीं है। अगर आप हाईब्लड प्रेशर से ग्रसित हैं तो आपको 2.5 ग्राम से भी कम सेवन करना चाहिए।

डिब्बाबंद सूप
आप विज्ञापनों में देखते हैं कि बताया जाता है कि डिब्बाबंद सूप बेहद पौष्टिक बताया जाता है जिसमें वे पोषण प्रदान करने वाली स्वस्थ सब्जियों के उपयोग को बढ़ावा देते हैं। लेकिन वास्तव में डिब्बाबंद सूप उच्च रक्तचाप का एक प्रमुख कारण हैं। इन डिब्बाबंद सामानों में सोडियम की मात्रा होती है जो रक्त के प्रवाह की गति को बढ़ा देती है। डिब्बाबंद सूप ले रहे हैं तो "लो सोडियम" लेबल जरूर देखें।

डेली मीट
डेली मीट का सेवन भी हाई ब्लड प्रेशर में सही नहीं है। इन्हें लंबे समय तक रखने के लिए प्रोसेस्ड किया जाता है। अक्सर इनका इस्तेमाल झटपट सैंडविच या फिर घर में पिज्जा बनाने में इस्तेमाल किया जाता है। इन मीट में बड़ी मात्रा में सोडियम होता है जिसके चलते रक्तचाप की मात्रा खतरनाक स्तर पर पहुंच सकती है। बेकन और रेड मीट का भी इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

चाइनीज फूड

चाइनीज फूड

चाइनीज टेक-आउट इन दिनों लोगों का पसंदीदा है। शहरों की भागदौड़ भरी जिंदगी में यह बजट में और आसान भी होता है। लेकिन इन चाइनीज फूड को बनाने में ऐसे तेलों का उपयोग किया जाता है जिनमें सोडियम की मात्रा अधिक होती है। यही वजह है चाइनीज फूड में तली हुई सब्जियां इतनी चमकदार दिखती हैं। इसके अलावा इसमें डिब्बाबंद सॉस के साथ अन्य सोडियम युक्त तत्व होते हैं जो उच्च रक्तचाप का कारण बनते हैं।

फ्रोजेन पिज्जा
कई बार आप दोपहर में बैठे हों और भूख लग जाए तो ऐसे समय में फ्रोजेन पिज्जा आसान विकल्प नजर आता है। क्योंकि इन्हें उठाया ओवन में रखा और तैयार। लेकिन फ्रोजेन पिज्जा को संरक्षित करने के लिए इसमें नमक का इस्तेमाल किया जाता है। यह उच्च सोडियम सांद्रता ब्लड प्रेशर को बढ़ाती है।

टौमेटो सॉस
पहले से तैयार किए हुए सॉस भी हाई ब्लड प्रेशर वालों के लिए सोडियम बम की तरह होते हैं। इन सॉस में नमक को प्रिजर्वेटिव के रूप में प्रयोग किया जाता है और यह नमक शरीर के इलेक्ट्रोलाइट संतुलन में गड़बड़ी पैदा करता है। इसलिए अगर आप हाई ब्लड प्रेशर के शिकार हैं तो आपकी पसंदीदा पास्ता डिश आपके लिए खतरनाक होती है।

शराब

शराब

वैसे तो शराब पीना सेहत के लिए ठीक नहीं है लेकिन अधिक मात्रा में शराब के सेवन से रक्तचाप में भी वृद्धि होती है। यह अन्य हृदय रोगों के साथ उच्च रक्तचाप का कारण बनती है। अधिक मात्रा में शराब का सेवन भी मोटापे का कारण बनता है। मोटे लोगों में हाई ब्लड प्रेशर की अधिक समस्या होती है।

अचार
किसी भी खाद्य पदार्थ को सुरक्षित रखने के लिए नमक का इस्तेमाल किया जाता है। और अचार नमकीन और संरक्षित सब्जियां हैं जिन्हें स्वाद के लिए तेल या सिरके में डुबोया जाता है। इसलिए अचार का सेवन कम करें।

बेक की हुई सामग्री
शानदार महक और उसके अद्भुत स्वाद के कारण बेक किया हुआ सामान लोगों को पसंद आता है। लेकिन बेक किया हुआ माल चीनी सामग्री से भरपूर होते हैं। यह शुगर रक्तचाप में भी वृद्धि का कारण बनती है। वहीं ब्रेड, पेस्ट्री में नमक मिलाया जाता है। जो रक्तचाप के स्तर को बढ़ाती है।

कॉफी

कॉफी

कॉफी सुबह के समय एक बढ़िया पेय है और यह एनर्जी का अद्भुत विकल्प है। हालांकि कैफीन का अत्यधिक इस्तेमाल रक्तचाप में वृद्धि की वजह बन सकता है। ज्यादा कॉफी का सेवन कामेच्छा खोने की वजह बनता है इसलिए कॉफी का सेवन कम करना चाहिए।

कैंडी
कैंडीज, टॉफी और चॉकलेट बार भी शरीर के सोडियम स्तर में वृद्धि का कारण बनते हैं। वे शुगर के स्तर को भी खतरनाक मात्रा तक बढ़ाते हैं जिससे रक्तचाप भी बढ़ता है। अधिक मात्रा में शर्करा युक्त खाद्य पदार्थों के सेवन से भी मोटापा होता है जो दिल की बीमारियों की वजह बनता है।

कार्बोनेटेड ड्रिंक्स
कार्बोनेटेड पेय भी शरीर में नुकसान पहुंचाने वाली शुगर स्तर को बढ़ाने के सिवा कुछ नहीं देते हैं। कार्बोनेटेड पेय बहुत सारी बीमारियों का कारण बनते हैं और रक्तचाप को भी बढ़ाते हैं। इससे डीहाईड्रेशन भी होता है। कार्बोनेटेड पेय से परहेज आपकी सेहत के लिए अच्छा है।

अचानक बढ़ी मां के दूध की मांग, सोशल मीडिया पर यूजर कर रहे अपील, जानिए वजह और कितना है सेफ?अचानक बढ़ी मां के दूध की मांग, सोशल मीडिया पर यूजर कर रहे अपील, जानिए वजह और कितना है सेफ?

English summary
avoid these 12 foods to control your blood pressure
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X