• search
एटा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

एटा: मिस्ट्री बनी पांच लोगों की मौत, डीआईजी ने एसआईटी को सौंपी जांच

|

एटा। एटा में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत का मामला अभी भी हत्या और आत्महत्या में उलझा है। परिजनों के पुलिस द्वारा किए गए खुलासे पर सवाल खड़े करने के बाद खुद अलीगढ़ रेंज के डीआईजी डॉ. प्रीतिंदर सिंह जनपद पहुंचे। डीआईजी ने पुलिस लाइन में मृतकों के परिजनों से मुलाकात कर घटनास्थल का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने खुद ही पुलिस के खुलासे पर सवाल खड़ा कर दिया। डीआईजी ने कहा कि घटना के सभी साक्ष्य जुटाने के बाद अंतिम निष्कर्ष पर पहुंचा जा सकता है। साक्ष्य जुटाने के बाद अग्रिम कार्यवाही की जाएगी। मामले की जांच एसआईटी को सौंपी गई है। वहीं, परिजन लगातार सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं।

क्या है पूरा मामला

क्या है पूरा मामला

एटा के एसएसपी सुनील कुमार ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर दावा किया था कि घर की बहू दिव्या ने पहले ससुर को जहर दिया, फिर बहन और फिर दोनों बच्चों को खाने में विषाक्त पदार्थ मिलाकर दिया था। इसके बाद सभी के मरने की पुष्टि के लिए उनके गले दबाए और बाद में खुद भी विषाक्त पदार्थ खा लिया। इसके बाद हाथ की नस काटकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के इस खुलासे पर परिवार में इकलौते बचे बेटे ने मानने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा पुलिस को खुलासा करने की इतनी जल्दी क्या थी। पुलिस के आत्महत्या के खुलासे पर दिवाकर ने इसे हत्या बताकर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि आरोपियों ने परिवार को मारने के बाद सभी के मुंह में हार्पिक और सल्फास डाला है। उसके परिजनों की हत्या को आत्महत्या का बनाने की कोशिश की जा रही है।

डीआईजी ने क्या कहा

डीआईजी ने क्या कहा

इस मामले में डीआईजी अलीगढ़ रेंज डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने पुलिस लाइन में मृतकों के परिजनों से मुलाकात कर घटनास्थल का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि फिलहाल पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार घटना को हत्या और आत्महत्या की धाराओं में दर्ज किया गया है। इससे पूर्व उन्होंने पुलिस अधिकारियों से जानकारी ली। साथ ही परिजनों से वार्ता करने के बाद उनको आश्वस्त किया है कि इस मामले में पुलिस सक्षम एवं प्रभावी तरीके से जांच कराकर निष्कर्षों के आधार पर इस मामले के सभी पहलुओं को उजागर करने का प्रयास करेगी।

पुलिस के खुलासे पर क्या बोले डीआईजी

पुलिस के खुलासे पर क्या बोले डीआईजी

वहीं, जनपद पुलिस द्वारा किए गए खुलासे पर सवाल के जबाव में डीआईजी ने कहा कि वह खुलासा नहीं एक पोस्टमार्टम रिपोर्ट का निष्कर्ष है। उन्होंने पुलिस द्वारा सुलझाए गई मर्डर मिस्ट्री की गुत्थी पर यह कहकर फिर से प्रश्न चिन्ह लगा दिया कि चारों लोगों की मौत का कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हो सका है।

एटा: पुलिस ने बहू को बताया 'कातिल' तो बेटे ने उठाया सवाल- खुलासा करने की इतनी जल्दी क्या थी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
SIT probe on etah 5 member of family death case
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X