• search
दुर्ग न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

नक्सलियों के गढ़ में तैनाती से पहले यहां होती है ट्रेनिंग, सीआरपीएफ डीआईजी ने नए जवानों का बढ़ाया हौसला

|
Google Oneindia News

सरगुजा, 09 अगस्त। छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले में एन्टी नक्सल ऑपरेशन के लिए 62 वीं केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की तैनाती नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में की गई है। आज केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के डीआईजी संजय कुमार सिंह ने सरगुजा जिले के ग्राम केपी में बने सेंट्रल रिजर्व पुलिस ट्रेंनिग स्कूल पहुंचे, जहां उन्होंने ट्रेंनिग कर रहे 37 बैच के 548 नए जवानों की जानकारी ली व उनका हौसला बढ़ाया, कई आवश्यक निर्देश भी दिए।

crpf sarguja

नक्सल प्रभावित क्षेत्र के लिए बेहतर है ट्रेनिंग सेंटर
62 वी केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के डीआईजी ने बताया कि छत्तीसगढ़ और झारखंड के बॉडर से लगे सरगुजा संभाग के बलरामपुर जिले में ज्यादा फोर्सेस की तैनाती की गई है। जिससे की पहाड़ी और दुर्गम इलाकों में नक्सलियों को खदेड़ा जा सके। यह ट्रेंनिग सेंटर 250 एकड़ में फैला हुआ है जहां देश के कई वाहिनी के जवान ट्रेंनिग करने आते है. यह क्षेत्र पहाड़ी इलाकों से घिरा हुआ है। जिसकी वजह से यह क्षेत्र उनके लिए अनुकूल भी माना जाता है।

crpf
सीआरपीएफ के जवानो की विशेष ट्रेनिंग स्कूल
सरगुजा जिले के ग्राम केपी में हर साल नए बैच के जवानों को नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में लड़ने के लिए तैयार किया जाता है। जिससे की जवान दुर्गम पहाड़ी इलाको में रहकर अपनी लड़ाई बेहतर तरीके से लड़ सके। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा, सुकमा, बीजापुर, कोंटा, कांकेर में सीआरपीएफ के जवानों की तैनाती की गई है। जवानों को इसी तरह सरगुजा बलरामपुर जैसे पहाड़ी इलाकों में ट्रेनिंग देकर इन क्षेत्रों में तैनात किया जाता है। ये जवान नक्सलियों के गढ़ में घुसकर उनका सामना करने में सक्षम होते हैं। यहां उन्हें नक्सलियों के एंबुश को तोड़ने की स्पेशल ट्रेनिंग दी जाती है नक्सलियों के मंसूबो पर पानी फेरने यहां सभी तरह की ट्रेनिंग दी जाती है।
crpf dig
सीआरपीएफ लोगों बता रहा आजादी की कहानी
डीआईजी ने बताया कि 62 वीं केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल भी आजादी का अमृत महोत्सव बना रहा है। इसी को देखते हुए आसपास के गांवों व स्कूलों में जाकर लोगों को झंडा भी दिया जा रहा है। ग्रामीणों व लोगों को बताया जा रहा है कि किन कठिनाइयों से भारत देश को आजादी मिली थी। हमे इसका सम्मान करना चाहिए। वहीं छत्तीसगढ़ में ढाई लाख से अधिक पौधे लगाने का लक्ष्य भी रखा गया है। इसी कड़ी में 62 केंद्रीय पुलिस बल द्वारा वृक्षारोपण भी किया गया।

Comments
English summary
Training is done here before deployment in the stronghold of Naxalites, CRPF DIG encouraged the new soldiers
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X