• search
दिल्ली न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

जीएनसीटीडी कानून से बदलाव नहीं, दिल्ली में स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए आप सरकार जवाबदेह: केंद्र

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 29 अप्रैल: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा है कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र सरकार (जीएनसीटीडी) संशोधन अधिनियम, 2021 के प्रभावी हो जाने से दिल्ली सरकार की संवैधानिक जिम्मेदारियों में कोई बदलाव नहीं आया है। राष्ट्रीय राजधानी में जारी कोरोना संकट को संभालने की जिम्मेदारी दिल्ली सरकार की है, स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराना उसके ही दायरे में है। गुरुवार को गृह मंत्रालय की ओर से जारी बयान में ये कहा गया है।

home ministry on GNCTD act delhi govt- responsible for providing health facilities in capital

जीएनसीटीडी कानून मार्च में संसद के दोनों सदनों से पास हुआ था। राष्ट्रपति से मंजूरी मिलने के बाद मंगलवार से ये प्रभावी हो गया है। जिसके बाद अब केंद्र की ओर से ये स्पष्टीकरण आया है। बयान में कहा गया है किदिल्ली राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र सरकार अधिनियम में संशोधन से निर्वाचित सरकार के भारत के संविधान की राज्य और समवर्ती सूचियों में हस्तांतरित विषयों जैसे स्वास्थ्य, शिक्षा जैसे विषयों पर आवश्यक कार्यवाही करने के संवैधानिक उत्तरदायित्वों में बदलाव नहीं करता है। संशोधन निर्वाचित सरकार और उपराज्यपाल के उत्तरदायित्वों को परिभाषित करेगा।

भारत बायोटेक ने भी घटाए कोरोना वैक्सीन के दाम, राज्यों को 400 रुपए में मिलेगी कोवैक्सीन की डोजभारत बायोटेक ने भी घटाए कोरोना वैक्सीन के दाम, राज्यों को 400 रुपए में मिलेगी कोवैक्सीन की डोज

गृह मंत्रालय ने कहा है कि राष्ट्रीय राजधानी में मौजूदा कोरोना संकट को संभालने की जिम्मेदारी दिल्ली सरकार की है क्योंकि शहर में लोगों को स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराना अब भी उसके दायरे में है। ये बयान ऐससे समय आया है जब दिल्ली में कोरोना संकट के चलते स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह से चरमराई हुई हैं।

English summary
home ministry on GNCTD act delhi govt- responsible for providing health facilities in capital
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X