• search
दिल्ली न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हाथरस गैंगरेप-मर्डर: दिल्ली में अस्पताल के बाहर भीम आर्मी का प्रदर्शन, चंद्रशेखर ने कहा- इंसाफ मिलने तक आंदोलन जारी रहेगा

|

दिल्ली। उत्तर प्रदेश के हाथरस में गैंगरेप पीड़िता की मौत को लेकर भीम आर्मी और वाल्मीकि समाज के लोगों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया है। दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के बाहर भारी संख्या में भीम आर्मी के कार्यकर्ता पीड़िता को इंसाफ की मांग को लेकर जुटे हैं। भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं ने अस्पताल के बाहर जमकर हंगामा किया और रिंग रोड भी जाम लगाया। इसके साथ ही दिल्ली पुलिस मुर्दाबाद और योगी सरकार मुर्दाबाद के नारे भी लगाए गए। भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद ने गैंगरेप पीड़िता के पोस्टमॉर्टम में घपलेबाजी का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि लड़की के साथ अत्याचार हुआ है, उसकी उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए। चंद्रशेखर ने कहा कि जब तक दलित लड़की को इंसाफ नहीं मिल जाता तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी सफदरजंग अस्पताल के बाहर विरोध प्रदर्शन किया।

    Hathras Case: Mahila Congress और Bhim Army ने किया दिल्ली में प्रदर्शन | वनइंडिया हिंदी
    14 सितंबर को चार युवकों ने किया ​था गैंगरेप

    14 सितंबर को चार युवकों ने किया ​था गैंगरेप

    हाथरस में 19 वर्षीय युवती से 14 सिंतबर को गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया गया था। पीड़िता को इलाज अलीगढ़ के मेडिकल कॉलेज में चल रहा था, सोमवार को हालत नाजुक होने पर उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल रेफर किया गया था। यहां मंगलवार की सुबह पीड़िता ने दम तोड़ दिया। इस मामले में पुलिस सभी चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। बताया गया था कि दरिंदगी के बाद युवती की जीभ काट दी गई थी और रीढ़ की हड्डी भी तोड़ दी गई थी। हालांकि, प्रशासन अब जीभ काटे जाने की बात से इनकार कर रहा है। हाथरस के डीएम ने पीड़ित की मौत के बाद कहा कि लड़की की जीभ काटने की खबरें गलत हैं।

    मेडिकल जांच में रेप की पुष्टि नहीं हुई: आईजी अलीगढ़

    मेडिकल जांच में रेप की पुष्टि नहीं हुई: आईजी अलीगढ़

    आईजी अलीगढ़ पीयूष मोर्डिया का कहना है कि सभी 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। मेडिकल जांच में बलात्कार की पुष्टि नहीं हुई है। सैंपल फोरेंसिक लैब में भेजे गए हैं, रिपोर्ट की प्रतीक्षा है। बता दें, जब से ये मामला प्रकाश में आया तब से पीड़िता की जीभ काटने और रीढ़ की हड्डी तोड़े जाने की खबरें चल रही थीं। पीड़िता की मौत के बाद पुलिस प्रशासन अब इससे इनकार कर रहा है।

    सड़क से सोशल मीडिया तक उठी इंसाफ की मांग

    सड़क से सोशल मीडिया तक उठी इंसाफ की मांग

    बता दें, हाथरस मामले को दिल्ली के निर्भया से जोड़कर देखा जा रहा है। विपक्षी दलों के नेता इस मुद्दे पर यूपी की योगी सरकार को घेरने में जुटे हैं। वहीं, दूसरी ओर सोशल मीडिया पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए मुहिम छेड़ दी गई है। पीड़िता की मौत के बाद से ही ट्वीटर पर पीड़िता को इंसाफ के लिए लाखों लोग ट्वीट कर चुके हैं।

    हाथरस गैंगरेप-मर्डर: केजरीवाल ने कहा- देश के लिए शर्म की बात, दोषियों को फांसी देने की मांग

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    hathras case bhim army protest outside safdarjung hospital delhi
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X