• search
देहरादून न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

चारधाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं पर नहीं होगी कोई रोक-टोक, करना होगा कोविड गाइडलाइन का पालन

|
Google Oneindia News

देहरादून। कोरोना वायरस संक्रमण के मामले प्रदेश ही नहीं, देश में एक बार फिर बढ़ने लगे है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग के साथ राज्य सरकार की भी चिंता बढ़ गई है। तो वहीं, कोविड-19 संक्रमण का खतरा अब महाकुंभ और चारधाम यात्रा पर भी मंडरा रहा है। हालांकि, प्रदेश सरकार ने महाकुंभ और चारधाम यात्रा के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को कोरोना गाइडलाइन का पालन करने के निर्देश दिए है। साथ ही कहा है कि चारधाम यात्रा पर कोई रोक टोक नहीं होगी।

    Char Dham Yatra करने वाले श्रद्धालुओं पर कोई रोक-टोक नहीं, ये हैं Guidelines । वनइंडिया हिंदी
    char dham yatra: coronavirus update Haridwar Kumbh Mela 2021 Tirath Singh Rawat

    हालांकि, राज्य में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए शुक्रवार को मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने ऑनलाइन बैठक ली। जिसमें उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए पूरी कोशिशें की जाएंगी। बैठक में उन्होंने कहा कि संक्रमित राज्यों के शहरों से आने वाले लोगों के लिए 72 घंटें पूर्व की कोरोना रिपोर्ट अनिवार्य करेंगे। इसके लिए प्लान तैयार किया जा रहा है। वर्चुअल बैठक के दौरान सीएम तीरथ ने कहा कि चारधाम यात्रा पर कोई रोक-टोक नहीं रहेगी। यात्रा चलती चलती रहेगी। यह बात सही है कि देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना 19 का संक्रमण फैल रहा है। उत्तराखंड में फिलहाल लाकडाउन नहीं होगा, पर लोगों को सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टेसिंग, मास्क पहनने व बार-बार सेनेटाइज लगाने का पालन करना होगा।

    सीएम तीरथ सिंह रावत ने कहा कि महाकुंभ और चारधाम यात्रा में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए केंद्र सरकार की तरफ से जारी हुई गाइडलाइन का पालन करना आवश्यक है। साथ ही कहा कि महाराष्ट्र, गुजराज, मध्यप्रदेश आदि हाई रिस्क वाले राज्य है, वहां से आने वाले लोगों को बिना कोविड-19 रिपोर्ट के प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। हालांकि, इन राज्यों से चारधाम यात्रा पर आने वालों के लिए कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य होगा। विदित है कि चारधाम यात्रा 14 मई को गंगोत्री व यमनोत्री के कपाट खुलते ही शुरू हो जाएगी। पिछले साल कोविड के चलते काफी समय तक यात्रा रोक दी गई थी।

    मई में शुरू होगी यात्रा
    चारधाम यात्रा 14 मई को गंगोत्री व यमनोत्री के कपाट खुलते ही शुरू हो जाएगी। पिछले साल कोविड के चलते काफी समय तक यात्रा रोक दी गई थी। केदारनाथ के कपाट 17 मई को सुबह 5 बजे मेष लग्न में खोले जाएंगे। बदरीनाथ के कपाट 18 मई को खोले जाएंगे। कपाट विधि-विधान के साथ प्रात: 4 बजकर 15 मिनट पर खोले जाएंगे। वहीं यमुनोत्री और गंगोत्री के कपाट 14 मई को खोले जाएंगे। गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट हर साल अक्षय तृतीया के दिन खुलते हैं।

    ये भी पढ़ें:- कुंभ में हाई रिस्क वाले शहरों से बिना कोविड-19 रिपोर्ट लिए न आएं श्रद्धालु,1 अप्रैल से लागू हो जाएंगे प्रतिबंधये भी पढ़ें:- कुंभ में हाई रिस्क वाले शहरों से बिना कोविड-19 रिपोर्ट लिए न आएं श्रद्धालु,1 अप्रैल से लागू हो जाएंगे प्रतिबंध

    English summary
    char dham yatra: coronavirus update Haridwar Kumbh Mela 2021 Tirath Singh Rawat
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X