• search
छत्तीसगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

राजनांदागांवः अस्पताल ने दूसरे का सौंपा शव तो घरवालों ने अपना सदस्य समझ कर दिया अंतिम संस्कार

|

राजनांदगांव, 20 अप्रैल। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्य विभाग और अस्पतालों में लापरावही के मामले भी खूब सामने आ रहे हैं। ताजा मामला राजनांदगांवजिले के मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल की है, जहां अस्पताल प्रबंधन ने दो दिन पहले मृत हुए व्यक्ति का शव दूसरे परिजनों को थमा दिया। परिजनों ने कोविड प्रोटोकाल के साथ अंतिम संस्कार तक कर दिया।

rajnandgaon hospital giver other man dead body to other family

वहीं दूसरे दिन जब मृतक का बेटा शव लेने मरच्यूरी पहुंचा तब खुलासा हुआ कि पिता का शव गायब है। पता चला कि दूसरे परिजनों को शव थमा दिया गया है। वहीं अंतिम संस्कार कर चूके दूसरे पक्ष को जब पता चला कि यह कोई और है, उनके होश उड़ गए। सोमवार को दोनों पक्ष अस्पताल पहुंचे। दोनों पक्षों में शव को लेकर जमकर बहस हुई। एक-दूसरे पर आरोप मढ़ते रहे।

दरअसल, बीते रविवार को बसंतपुर अस्पताल में जामगांव पाटन के रहने वाले राजेश चंद्राकर की मौत हो गई। इसके बाद शव को मरच्यूरी में रखा गया था। परिजन सुबह से शव लेने का इंतजार कर रहे थे कि इस बीच मरच्यूरी के कर्मचारियों ने परिजनों को बुलाकर एक शव थमाया जो कि सिर से पैर तक पूरी तरह से पैक था। परिजनों को चेताया गया कि इसे खोलकर नहीं देखना है।

छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच अब कुछ राहत दिखने लगी है। बीते सोमवार को 48 हजार 673 लोगों के टेस्ट हुए। इस एक दिन में 13834 नए मरीज सामने आए। सोमवार को संक्रमण दर 28.42% रही। एक सप्ताह बाद यह लगातार दूसरा दिन है जब संक्रमण दर 30% से कम रही है। रविवार को भी संक्रमण की दर 28% ही रही थी। वहीं बीते सोमवार को 11 हजार 815 मरीज ठीक भी हुए।

भारत में अक्‍टूबर में ही खोज लिया गया था नए प्रकार का कोरोना वायरस B.1.167, जिसके कारण आई दूसरी लहर

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
rajnandgaon hospital giver other man dead body to other family
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X