• search
छत्तीसगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

छोटे भाई ने बड़े भाई के परिवार को पेट्रोल डालकर जिंदा जला डाला, तीन की मौत

|

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही। छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले में बुधवार की देर रात युवक ने अपने बड़े भाई के पूरे परिवार को जिंदा जला दिया, जिसमें पति-पत्नी समेत एक बेटी की मौत हो गई। जबकि 5 वर्षीय बेटे की हालत गंभीर बनी हुई है। उसे बेहतर इलाज के लिए मध्य प्रदेश के शहडोल रेफर कर दिया गया है। वहीं इस घटना को अंजाम देने के बाद आरोपित छोटे भाई ने भी खुदकुशी कर ली।

gaurela pendra marwahi brother killed his older brother family

प्राप्त जानकारी के अनुसार वेंकटनगर जिले के जैतहरी थाना क्षेत्र के धनगवा निवासी ओमकार विश्वकर्मा और उसके सौतेले बेटे दीपक के बीच संपत्ति को लेकर विवाद काफी लंबे समय से चल रहा था। पूरा परिवार एक साथ ही रहता था। बुधवार की रात करीब डेढ़ बजे दीपक ने भाई ओमकार के सो रहे परिवार पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। इसके बाद चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे।

फिर घटना की जानकारी पुलिस को दी गई और ग्रामीणों के साथ मिलकर पुलिस ने किसी तरह आग पर काबू पाया। हालांकि तब तक 35 वर्षीय ओमकार, पत्नी कस्तूरिया और बेटी की मौत हो गई। वहीं 5 वर्षीय बेटे की गंभीर हालत को देखते हुए उसे स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र ले गए, जहां से गंभीर हालत होने के चलते उसे रेफर कर दिया गया।

इसी दौरान आरोपित दीपक ने भी फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस ने दरवाजा तोड़कर उसके शव को फंदे से नीचे उतारा। पुलिस ने पंचनामा भरकर सभी शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बताया जा रहा है कि वारदात के दिन भी दोनों की आपस में जमकर विवाद हुआ था।

बिहार: महादलितों को अंग्रेजी बोलना सिखाने की योजना में करोड़ों का घोटाला, 4 आईएएस अफसर पर केस दर्ज

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
gaurela pendra marwahi brother killed his older brother family
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X