• search
छत्तीसगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल की दो टूक, नक्सली संविधान पर विश्वास जतायें, तभी होगी बातचीत

|
Google Oneindia News

सुकमा, 19 मई। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को नक्सल प्रभावित बस्तर संभाग के सुकमा जिले में आयोजित एक पत्रकार वार्ता के दौरान नक्सलवाद के मुद्दे पर बड़ा बयान दिया है। नक्सलियों के साथ शांतिवार्ता को लेकर कहा कि अगर नक्सली को भारत के संविधान पर विश्वास करेंगे ,तो वह उनसे कहीं भी बात करने के लिए तैयार हैं।

g

सुकमा में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि बस्तर में अच्छा वातावरण बस्तर में नहीं हो सकता, जिस सुकमा से नक्सलवाद की शुरुआत हुई थी, अब वहां नक्सली काफी पीछे हट चुके हैं और उनका प्रभाव बेहद कम हो चुका है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि मै किस आधार पर नक्सलियों से बात करूंगा ? केवल एक लाइन स्पष्ट है कि हिंदुस्तान एक संघीय गणराज्य है , मै छत्तीसगढ़ राज्य में मुख्यमंत्री होने के नाते संवैधानिक पद पर हूं, यदि आप भारत के संविधान पर विश्वास नहीं करेंगे, तो मैं आपसे बात नहीं कर सकता। उन्होंने माओवादियों को सन्देश देते हुए आगे कहा कि अगर वह भारत के संविधान पर विश्वास करें, तो मैं जहां बोले वहां वार्ता करने आ जाऊंगा ।

गौरतलब है कि माओवादी संगठन ने 6 मई को प्रेस नोट जारी कर कहा था कि वह सरकार से वार्ता को तैयार है। माओवादियों की दंडकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी प्रवक्ता विकल्प ने अपना बयान जारी करते हुए कहा था कि माओवादी संगठन सरकार से वार्ता को तैयार है, किन्तु माओवादी संगठन, पीएलजीए, जन संगठनों पर लगाए गया प्रतिबंध हटाया जाना चाहिए । माओवादी संगठनों को खुले तौर पर काम करने का मौका दिया जाए। बस्तर में कथित तौर पर हुई हवाई बमबारी को रोका जाए। बस्तर के जंगलों से सुरक्षाबलों के कैंप हटाए जाने के साथ जेल में बंद नक्सल संगठन के नेताओं को वार्ता के लिए रिहा किया जाए।

सीएम भूपेश ने की योजनाओं की समीक्षा

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को अपने सुकमा प्रवास के दौरान अधिकारियों की बैठक लेकर जिले के विकास कार्यों की समीक्षा भी की। सीएम भूपेश बघेल ने सुकमा में जिला अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक में कहा है कि नक्सल समस्या के समाधान के लिए राज्य सरकार विश्वास, विकास और सुरक्षा की रणनीति पर काम कर रही है। अधिकारी इसके लिए योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के साथ अधिक से अधिक लोगो को उसका लाभ दिलाएं। उन्होंने कहा कि सुकमा अंचल मेंलोगों की आय में वृद्धि करने पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सुकमा के युवाओं की लिस्टिंग कर उन्हें स्वरोजगार के लिए प्रेरित करें। सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ देकर युवकों को रोजगार से जोड़ने का प्रयास करें। सीएम भूपेश ने यह भी कहा कि जिले में फलदार वृक्ष लगाने अधिक से अधिक वृक्षारोपण करें, ताकि यहां के लोगों को आने वाले समय में आर्थिक लाभ मिल सके।
बघेल ने बैठक में कहा कि पहले के सुकमा और अब के सुकमा में बहुत परिवर्तन हुआ है, अब तो सिलगेर तक बस जाने लगी हैं। बंद स्कूलों को पुनः खोला गया है। राशन दुकानों का सुचारू संचालन हो रहा है। लोगों को योजनाओं का लाभ मिल रहा है।

यह भी पढ़ें छत्तीसगढ़: कभी था नक्सली कमांडर, आज है पुलिस इंस्पेक्टर, सीएम भूपेश से मिली शाबाशी

Comments
English summary
Chhattisgarh CM Bhupesh Baghel bluntly, Naxalites repose faith in the constitution, only then talks will be held
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X