• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

संयुक्त राष्ट्र ने घटाई भारत की आर्थिक ग्रोथ, 2020 में 1.2 फीसदी रहने का अनुमान

|
Google Oneindia News

न्यूयॉर्क। संयुक्त राष्ट्र संघ ने मंगलवार को चालू वित्त वर्ष 2020 के लिए भारत की आर्थिक ग्रोथ के अनुमान को घटाकर 1.2 फीसदी कर दिया है। जो अभी भी विश्व की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में दूसरा नंबर पर है। हालांकि भारत से उपर इस लिस्ट में केवल चीन है। कोरोना की आर्थिक मार से चीन भी अप्रभावित नहीं है जहां से इस वायरल संक्रमण की शुरुआत हुई। यूएन की आर्थिक आकलन रिपोर्ट के अनुसार बीते चार दशकों में चीन की अर्थव्यवस्था में पहली बार किसी तिमाही में नेगेटिव ग्रोथ दर्ज की गई।

United Nations slashes Indias growth rate to 1.2 percent for 2020

संयुक्त राष्ट्र ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि 2020 में भारत की आर्थिक ग्रोथ 1.2 फीसदी रहेगी, जो कि 2019 से ही मंदी का सामना कर रही है। बीते साल भारत की जीडीपी ग्रोथ 4.1 फीसदी ही थी। 2018 में 6.8 फीसदी की ग्रोथ हासिल करने वाली भारतीय अर्थव्यवस्था में 2021 में सुधार होने अनुमान लगाया गया है। अगले साल भारत की इकॉनमिक ग्रोथ 5.5 फीसदी हो सकती है। 'वैश्विक आर्थिक स्थिति और संभावना' नाम से तैयार रिपोर्ट में संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि 2019 से ही मंदी की मार झेल रही भारतीय अर्थव्यवस्था पर लॉकडाउन का गहरा असर देखने को मिल सकता है और ग्रोथ 1.2 फीसदी पर ही ठहर सकती है।

संयुक्त राष्ट्र ने वैश्विक अर्थव्यवस्था को लेकर जारी अपने अनुमान में कहा कि दुनिया की जीडीपी में 3.2 फीसदी की कमी आएगी। हालांकि 2021 में धीरे-धीरे सुधार देखने को मिलेगा। मौजूदा स्थितियों में दुनिया का बड़ी और विकसित अर्थव्यवस्थाओं में 2020 के दौरान 5 फीसद की गिरावट का अनुमान लगाया गया है। जबकि विकासशील देशों की आर्थिक उत्पादकता में 0.7 फीसद की कमी संभव है। यूएन की आर्थिक आकलन रिपोर्ट के अनुसार बीते चार दशकों में चीन की अर्थव्यवस्था में पहली बार किसी तिमाही में नेगेटिव ग्रोथ दर्ज की गई।

रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिण एशिया में जहां 5.6 फीसद की जीडीपी ग्रोथ का आनुमान लगाया गया था वहीं अब 2020 में यह -0.6% रहने का अनुमान है। जबकि 2021 में 5.3 फीसद जीडीपी बढ़ोतरी के पूर्वानुमान को कम कर 4.4 कर दिया गया है। वर्ल्ड इकोनॉमिक सिचुएशन एंड प्रॉस्पेक्ट मध्यावधि रिपोर्ट-2020 के कहती है कि मौजूदा साल में जहां चीन की विकास दर 1.7 रहने का अनुमान है। वहीं 2021 में यह 7.6 प्रतिशत की रफ्तार पर लौट सकती है। अमेरिका, जापान और यूरोपियन यूनियन की आर्थिक ग्रोथ निगेटिव में जाने का अनुमान जताया गया है। 2020 में अमेरिका की आर्थिक ग्रोथ का अनुमान -4.8 फीसदी रखा गया है, जबकि जापान की ग्रोथ -4.2 फीसदी और यूरोपियन यूनियन की -5.5 पर्सेंट रह सकती है।

आर्थिक पैकेज: एक्सपर्ट बोले- MSME सेक्टर वेंटिलेटर पर, ऑक्सीजन चाहिए ना कि दवाआर्थिक पैकेज: एक्सपर्ट बोले- MSME सेक्टर वेंटिलेटर पर, ऑक्सीजन चाहिए ना कि दवा

English summary
United Nations slashes India's growth rate to 1.2 percent for 2020
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X