जानिए, कैसे 30 साल के नौजवान ने बाबा रामदेव को अंबानी की टक्कर में ला खड़ा किया

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
Baba Ramdev की सफलता के पीछे है इस शख्स का हाथ, देखे वीडियो । वनइंडिया हिंदी

नई दिल्ली। योग गुरु बाबा रामदेव का पतंजलि ब्रांड लगातार और तेजी से मशहूर होता जा रहा है। इसकी लोकप्रियता का आलम ये है कि इस ब्रांड ने हाल ही देश के टॉप 10 प्रभावशाली ब्रांड्स में अपनी जगह बना ली है। अपने देसी उत्पादों के जरिए बाबा रामदेव के पतंजलि आयुर्वेद का टर्नओवर लगातार बढ़ता ही जा रहा है। उम्मीद की जा रही है कि 2021 तक पतंजलि ब्रांड देश ही नहीं दुनिया का भी पहला एफएमसीजी ब्रांड बन जाएगा। लेकिन क्या आपको पता है कि पतंजलि आयुर्वेद के इतनी तेजी से मार्केट में कब्जे के पीछे की रणनीति किसकी है? आखिर वो कौन है जिसने पतंजलि ब्रांड को देश में तेजी से उभरता हुआ ब्रांड बना दिया? इतना ही नहीं बाबा रामदेव को अंबानी की टक्कर में लाकर खड़ा कर दिया है। दरअसल ये पूरा प्लान तीस साल के एक नौजवान का है, जिसने योगगुरु बाबा रामदेव की कंपनी को बड़ा ब्रांड बनाया दिया। आइये जानते हैं कौन है वो शख्स और कैसे उसने पतंजलि को देश का बड़ा ब्रांड बनाने की पूरी रणनीति बनाई...

इस शख्स ने बनाया पतंजलि आयुर्वेद का बिजनेस प्लान

इस शख्स ने बनाया पतंजलि आयुर्वेद का बिजनेस प्लान

साल 2013 की बात करें तो उस समय पतंजलि आयुर्वेद की कमाई 10 हजार 500 करोड़ रुपये की थी, लेकिन जब से कंपनी ने अपनी रणनीति में बदलाव किया और प्रचार का नया तरीका अपनाया इस ब्रांड का राजस्व करीब 1200 करोड़ को पार कर गया है। वो दिन दूर नहीं जब पतंजलि आयुर्वेद का टर्नओवर 2500 करोड़ भी पहुंच जाएगा। पतंजलि आयुर्वेद को कामयाब ब्रांड बनाने के पीछे जिसने अहम रोल निभाया वो हैं 30 साल आदित्य पिटी।

पतंजलि को कामयाब ब्रांड बनाने में आदित्य पिटी का अहम योगदान

पतंजलि को कामयाब ब्रांड बनाने में आदित्य पिटी का अहम योगदान

आदित्य पिटी किंग्स कॉलेज लंदन से पढ़ाई करके निकले युवा उद्यमी है। ईटी में छपी खबर के मुताबिक आज से चार साल पहले योगगुरु बाबा रामदेव और आदित्य पिटी साथ आए। उस समय शायद ही किसी ने सोचा होगा कि एक भगवा वेशधारी बाबा और दूसरी ओर एक युवा उद्यमी मिलकर ऐसा कमाल करेंगे कि एक ब्रांड को देश का उभरता ब्रांड बना देंगे। हालांकि उन्होंने मिलकर पूरी व्यापारिक रणनीति को फाइनल किया और देखते ही देखते पतंजलि आयुर्वेद देश का 10वां प्रभावशाली टॉप ब्रांड बनकर उभरी। इस लिस्ट में इलेक्ट्रॉनिक कंपनी सैमसंग और मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो भी शामिल हैं।

चार साल पहले बना पूरा बिजनेस प्लान

चार साल पहले बना पूरा बिजनेस प्लान

योगगुरु रामदेव और युवा कारोबारी आदित्य पिटी ने मिलकर बड़ा व्यापारिक साम्राज्य स्थापित किया। उन्होंने करीब दो दर्जन एफएमसीजी प्रोडक्टस लॉन्च किया। इनमें टूथपेस्ट, शैम्पू समेत दूसरे व्यक्तिगत देखभाल वाले उत्पादों को बाजार में उतारा। इसके साथ-साथ इस ब्रांड ने आधुनिक सुविधा वाले खाद्य पदार्थ जैसे कॉर्नफ्लेक्स और नूडल्स भी शामिल है।

पिटी ग्रुप ही देखती है पतंजलि आयुर्वेद के प्रोडक्ट्स का वितरण कार्य

पिटी ग्रुप ही देखती है पतंजलि आयुर्वेद के प्रोडक्ट्स का वितरण कार्य

पतंजलि आयुर्वेद के प्रोडक्ट्स ने जिस तरह से बाजार में कब्जा जमाया है और लोगों में तेजी से लोकप्रिय है, इसमें अहम रोल आदित्य पिटी के पिटी ग्रुप का ही है। पिटी ग्रुप ही वह मॉडर्न व्यापार वितरक कंपनी है जो पतंजलि आयुर्वेद के प्रोडक्ट्स का वितरण कार्य देखती है। इस कंपनी ने अपने बिजनेस प्लान से ही पतंजलि आयुर्वेद का राजस्व करीब 1200 करोड़ रुपये तक बढ़ा दिया है।

पिटी ग्रुप की शुरुआत 1991 में हुई

पिटी ग्रुप की शुरुआत 1991 में हुई

पिटी ग्रुप की शुरुआत 1991 में हुई थी। इस कंपनी का बिजनेस रियल स्टेट, स्प्रिचुअल चैनल शुभ टीवी समेत और भी है। इसके सीईओ आदित्य पिटी ने बताया कि मेरे पिता योगगुरु बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण को करीब 8-9 साल से जानते हैं। जब मैंने योगगुरु के सामने पतंजलि आयुर्वेद के प्रोडक्ट का सिंगल विंडो सप्लाई चेन बनाने का प्लान रखा तो उन्होंने महज 4 मिनट विचार के बाद इसे मंजूरी दे दी। आदित्य पिटी के पिता कृष्ण कुमार पिटी बाबा रामदेव के अनुयायी रहे हैं।

पतंजलि आयुर्वेद देश का 10वां प्रभावशाली टॉप ब्रांड

पतंजलि आयुर्वेद देश का 10वां प्रभावशाली टॉप ब्रांड

बाबा रामदेव के पतंजलि आयुर्वेद का कारोबार 100 फीसदी से ज्यादा रफ्तार से तरक्की कर रहा है। पतंजलि के प्रोडक्ट हर दुकान पर बिक रहे हैं और घर-घर पहुंच रहे हैं। योगगुरु ने अगले पांच साल के लिए भी अपनी रणनीति बना ली है। बाबा रामदेव का दावा है कि अगले 1-2 साल में पंतजलि देश का सबसे बड़ा ब्रांड बन जाएगा। उनका बिजनेस प्लान आक्रमक है। उनकी योजना देश के हर घर में पतंजलि प्रोडक्ट्स को पहुंचाने का है।

पतंजलि आयुर्वेद का तेजी से बढ़ता बाजार

पतंजलि आयुर्वेद का तेजी से बढ़ता बाजार

बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि ने चालू वित्त वर्ष में अपनी बिक्री दो गुना कर 20,000 करोड़ रुपए करने का लक्ष्य रखा है। यही नहीं पतंजलि देशभर में वितरण नेटवर्क में वितरकों की संख्या दोगुना कर 12000 करने की भी योजना है। इसके अलावा पतजंलि बाजार में अपनी उपस्थिति और मजबूत करना चाह रही है। पतंजलि ने 31 मार्च, 2017 को समाप्त हुए वित्त वर्ष में 10,561 करोड़ रुपए का कारोबार किया।

2021 तक टर्नओवर 2500 करोड़ करने का लक्ष्य

2021 तक टर्नओवर 2500 करोड़ करने का लक्ष्य

बता दें कि कंपनी नोएडा, नागपुर और इंदौर समेत कई स्थानों पर बड़ी उत्पादन इकाइयां लगा रही है जिससे उसकी उत्पादन क्षमता 35,000 करोड़ रुपए से बढ़कर 60,000 करोड़ रुपए हो जाएगी। योगगुरु बाबा रामदेव ने कहा कि हमारी नोएडा यूनिट की उत्पादन क्षमता 20,000 करोड़ रुपए की, नागपुर की 15,000-20000 करोड़ और इंदौर की 5000 करोड़ रुपए की होगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rise of Baba Ramdev and Patanjali: Aditya Pittie the man behind his success
Please Wait while comments are loading...