• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Petrol-Diesel Price: लोग महंगे पेट्रोल-डीजल से बेहाल,सरकार ने भरी जेब,टैक्स से कमाए 3.35 लाख करोड़

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, Petrol-Diesel Price Hike. पेट्रोल-डीजल की कीमत में लगातार तेजी आ रही है। राजधानी दिल्ली समेत देश के कई शहरों में पेट्रोल(Petrol Price) की कीमत 100 रुपए प्रति लीटर के पार हो गई है। वहीं कई शहरों में डीजल के दाम( Diesel Price) भी 100 क आंकड़े को छूने के करीब है। लोग पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से परेशान है। पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों का असर सीधा आम जनता पर पड़ता है। महंगाई की मार झेल रहे लोगों को जहां लगातार मायूसी हाथ लगी तो वहीं सरकार ने पेट्रोल-डीजल ( Petrol-Diesel) से भारी भरकम कमाई कर रही है।

महंगे पेट्रोल-डीजल से सरकार ने भरी जेब

महंगे पेट्रोल-डीजल से सरकार ने भरी जेब

केंद्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल से खूब कमाई हो रही है। लोकसभा में पेट्रोलियम राज्यमंत्री रामेश्वर तेली ने खुद इस बात की जानकारी दी। उन्होंने कई आंकड़े पेश किए। पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले टैक्स से केंद्र सरकार की कमाई 88 फीसदी तक बढ़ गई है। सरकार द्वारा पेश किए गए आंकड़ों के मुताबिक सरकार ने इस साल 2021, मार्च तक सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले एक्साइज ड्यूटी से 3.352 लाख करोड़ रुपए की कमाई

इसलिए महंगा हो रहा तेल

इसलिए महंगा हो रहा तेल

आपको बता दें कि साल 2020 में सरकार ने पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 19.98 रुप तय की थी, जिसे साल 2021 में बढ़ाकर 32.90 रुपए कर दिया। वहीं डीजल पर ड्यूटी 15.83 रुपए से बढ़ाकर 31.80 रुपए तक दिया। सरकार ने कोरोना संकट के दौरान लगाए गए लॉकडाउन के बीच एक्साइज ड्यूटी में बढ़ोतरी कर दी। वैश्विक बाजार में कई बार कच्चे तल की कीमत निचले स्तर पर पहुंच गई, लेकिन इसका लाभ आम जनता तक नहीं पहुंच सका। लॉकडाउन के दौरान तेलों की मांग घटी थी, इस कमी क कारण बढ़ दवाब को कम करने के लिए सरकार ने टैक्स में बढ़ोतरी कर दी। ऐसे में आपको महंगा तेल मिलता रहा है।

 सरकार ने भरी जेब, कमाए 3.35 लाख करोड़

सरकार ने भरी जेब, कमाए 3.35 लाख करोड़

सरकार एक साल के भीतर पेट्रोल-डीजल पर टैक्स में बढ़ोतरी कर टैक्स कलेक्शन को अप्रैल 2020 से मार्च 2021 तक बढ़ाकर 3.35 लाख करोड़ रुपए तक पहुंचा दिया। जहां से आंकड़ा पिछले वित्तीय वर्ष में 1.78 लाख करोड़ था, जो अब बढ़कर 3.35 लाख करोड़ तक पहुंच दिया। यानी सरकार की कमाई में 88 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई। आपको बता दें कि साल 2010 से ही तेल की कीमतें बाजार के हवाले है। आपको बता दें कि राजस्थान, मध्यप्रदेश, ओडिशा, दिल्ली समेत देश के कई राज्यों में पेट्रोल की कीमत 100 के पार हो गई है। एक्साइज ड्यूटी के अलावा राज्य सरकारें इस पर वैट और लोकल कर लगाती है।

दुनिया का सबसे फास्ट इंटरनेट, महज 1 सेकेंड में डाउनलोड होगी 57000 फिल्में, स्पीड 319 Tbps

English summary
Public Suffer from Petrol-Diesel Price Hike, Govt earne 3.35 Lakh Crore excise collections on Oil in 1 Year.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X