• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोरोना संकट के बीच इन सरकारी कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, सरकार ने बढ़ाई रिटायरमेंट की उम्र, जानें क्या है नई सीमा

|

नई दिल्ली। कोरोना वायरस और लॉकडाउन के कारण देश की अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका लगा है। निजी कंपनी में नौकरी करने वाले लोगों पर नौकरी जाने खतरा मंडरा रहा है तो वहीं सरकारी कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में कटौती कर दी गई है। कई राज्यों की सरकारों ने अपने सरकारी कर्मचारियों की सैलरी में कटौती की है। जहां हर तरफ कटौती और नौकरी संकट की खबरें आ रही हैं, वहीं तमिलनाडु सरकार ने अपने कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है। तमिलनाडु सरकार ने कोरोना संकट के बीच अपने सरकार कर्मचारियों को बड़ा तोहफा देते हुए उनके रिटायरमेंट की उम्र बढ़ा दी है।

DA के बाद सरकारी कर्मचारियों को एक और झटका, PF की ब्याज दरों में हुई कटौती

 बढ़ी सरकारी कर्मचारियों के रिटायरमेंट की उम्र

बढ़ी सरकारी कर्मचारियों के रिटायरमेंट की उम्र

कोरोना काल (Covid-19) में एक तरफ लोगों पर नौकरी जाने का खतरा मंडरा रहा है तो वहीं तमिलनाडु सरकार ने अपने कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है। तमिलनाडु सरकार ने अपने कर्मचारियों को बड़ी राहत दी है। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने अपने राज्य के सरकारी कर्मचारियों को बड़ी राहत देते हुए कहा है कि कर्मचारियों के रिटायरमेंट की उम्र (retirement age) 1 साल घटा दी है। राज्य सरकार ने सरकारी कर्मचारियों की रिटायरमेंट की उम्र 58 साल से बढ़ा कर 59 साल कर दी है।

 इन सरकारी कर्मचारियों की रिटायरमेंट की उम्र बढ़ी

इन सरकारी कर्मचारियों की रिटायरमेंट की उम्र बढ़ी

तमिलनाडु सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को राहत देते हुए उनकी रिटायरमेंट उम्र बढ़ाई है। तमिलनाडु सरकार ने गुरुवार को रिटायरमेंट के लिए निर्धारित उम्र सीमा में एक साल की बढ़ोतरी का ऐलान किया है। इस नए ऐलान के बाद से तमिलनाडु के राज्य कर्मचारियों, शिक्षकों और प्रोफेसरों को इसका लाभ मिलेगा। अब इन कर्मचारियों को रिटायरमेंट 59 साल में मिलेगा। सरकारी की ओर इस बदलाव के लिए सरकार की ओर से किसी तरह का कारण नहीं दिया गया है।

 केंद्र सरकार ने DA बढ़ोतरी पर लगाई रोक

केंद्र सरकार ने DA बढ़ोतरी पर लगाई रोक

कोरोना और लॉकडाउन के कारण राजस्व को हो रहे नुकसान के कारण केंद्र सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों को झटका देते हुए महंगाई भत्ते में की गई बढ़ोतरी पर रोक लगा दी। वित्त मंत्रालय ने 1 जुलाई 2020 और 1 जनवरी 2021 के डीए और डीआर के भुगतान पर रोक लगैा दी है। वहीं ये बी कहा है कि उसका भुगतान एरियर के तौर पर भी नहीं होगा। हालांकि वित्त मंत्रालय ने ये भी कहा है कि मौजूदा दरों पर महंगाई भत्ते और महंगाई राहत का भुगतान होता रहेगा।

PF की ब्याज दरों में हुई कटौती

PF की ब्याज दरों में हुई कटौती

महंगाई भत्ते पर रोक लगाने के बाद सरकार ने जनरल प्रॉविडेंट फंड (GPF) की ब्याज दर में कटौती की है। सरकार ने फाइनेंशियल ईयर की पहली तिमाही यानी अप्रैल से जून तिमाही के लिए ब्याज दर में कटौती कर दी है। सरकार ने GPF की ब्याज दर को घटाकर 7.9 फीसदी से घटाकर 7.1 फीसदी कर दिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The Tamil Nadu government on Thursday ordered an increase of retirement age by one year to 59 years for its employees, teachers and employees of the state-owned undertakings.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X