• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

1750 करोड़ रुपये का IPO लाएगी कल्याण ज्वैलर्स, सेबी को जमा किए दस्तावेज

|

नई दिल्ली। केरल स्थित भारत की अग्रणी ज्वैलरी कंपनी कल्याण ज्वैलर्स ने अपने आईपीओ प्लान को ठंडे बस्ते से निकाल दिया है। कंपनी की आईपीओ के जरिए 1750 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है। इसके लिए कंपनी ने भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड सेबी के पास ड्राफ्ट रेड हियरिंग प्रॉस्पेक्टेस (डीआरएचपी) फाइल किया है। आईपीओ से जारी राशि का उपयोग कंपनी कारोबार का विस्तार देने में करेगी।

Gold

सेबी को सौंपे गए डीआरएचपी के मुताबिक कंपनी 1000 रुपये मूल्य का नये शेयर जारी करेगी जबकि 750 करोड़ रुपये के शेयर बिक्री के लिए रखे जाएंगे। शेयर की बिक्री का ऑफर कंपनी के प्रवर्तक टी एस कल्याणरमन और वारबर्ग पिनकस की ओर से होगा। टीएस कल्याणरमन कंपनी में अपनी हिस्सेदारी कम करते हुए अपने 250 करोड़ के शेयर बेचेंगे जबकि वारबर्ग पिनकस 500 करोड़ के शेयर बेचेगी। कंपनी फ्रेश इश्यू का इस्तेमाल वर्किंग कैपिटल की जरूरतों और कॉरपोरेट विस्तार में करेगी।

प्रमोटर्स की 76 फीसदी हिस्सेदारी

कंपनी में प्रमोटर की हिस्सेदारी 76 प्रतिशत है जबकि वारबर्ग पिनकस के पास 24 प्रतिशत शेयर हैं। वारबर्ग पिनकस ने 2014 में कल्याण ज्वैलर्स में 1200 करोड़ रुपये का निवेश किया था जबकि 2017 में कंपनी ने 500 करोड़ का निवेश फिर से किया था। मार्च 2020 की तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू 10101 करोड़ रुपये का था जो एक साल में 3.3 प्रतिशत तक बढ़ा है जबकि कंपनी ने इसी साल 145 करोड़ का मुनाफा कमाया था जो कि पिछले वर्ष की तुलना में 4.87 तुलना बढ़ा है। जून 2021 तक कंपनी के पास 137 शोरूम थे। इनमें देशभर के 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 107 शोरूम हैं जबकि मध्य पूर्व में कंपनी के पास 30 शोरूम हैं। इसके अलावा कंपनी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से भी ज्वैलरी बेचती है। कंपनी का पहला शोरूम 1993 में केरल में खोला गया था।

सोने में जमकर निवेश

कोरोना के चलते सोने में जमकर निवेश किया जा रहा है। सोने की कीमतों में उछाल की वजह से इससे जुड़े शेयर बाजार ने निवेशकों को अपनी ओर आकर्षित किया है। देश के ज्वैलरी बाजार में अभी तक टाइटन, टीबीजेड जैसी कुछ कंपनियां ही शेयर बाजार में लिस्टेड हैं। ऐसे में कल्याण ज्वैलर्स एक और बड़ी कंपनी है जो लिस्टिंग के लिए तैयार है। ये निर्णय ज्वेलरी सेक्टर के कोरोना के हमले से उबरने का संकेत मिलने और ज्वेलरी डिमांड में बढ़त को देखते हुए लिया गया है। दरअसल कोरोना काल को देखते हुए सभी आईपीओ रुके हुए थे लेकिन जुलाई को स्पेशियालिटी केमिकल कंपनी रोजरी बॉयोटेक के ब्लॉक बस्टर स्टॉक मार्केट डेब्यू के साथ ये हिचक हट गई है और कंपनियां अब अपने प्लान पर आगे बढ़ने लगी हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
kalyan jewellers will launch ipo file drhp to sebi
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X