• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

20 जुलाई से बदल जाएगा Railway का ये नियम,मुंबई लोकल में सफर करने के लिए QR कोड जरूरी

|

नई दिल्ली। कोरोना संकट काल में रेलवे ने सफर में कई जरूरी बदलाव किए हैं। संक्रमण के खतरे को कम करने के लिए ट्रेनों में, प्लेटफॉर्म पर, टिकट चेकिंग सिस्टम आदि में कई बदलाव किए हैं। अब पश्चिम रेलवे एक और जरूरी बदलाव करने जा रही है। रेलवे मे अब सफर के लिए QR कोड को अनिवार्य कर दिया है। नए नियम 20 जुलाई से लागू होंगे। पश्चिम रेलवे द्वारा जारी किए गए आदेश के मुताबिक 20 जुलाई से मुंबई लोकल ट्रेनों में सफर करने के लिए क्यूआर कोड(QR Code) अनिवार्य होगा।

खुशखबरी: Indian Railway ने लॉन्च किया खास App, यहां मिलेंगी ट्रेन टिकट, टाइमिंग और छूट से जुड़ी हर जानकारी

 रेलवे का नया नियम

रेलवे का नया नियम

आर्थिक राजधानी मुंबई की जान मुंबई लोकल में सफर का अंदाज 20 जुलाई से बदल जाएगा। 20 जुलाई से मुंबई लोकल में सफर के लिए लोगों को QR कोड दिखाना होगा। नए नियम के तहत मुंबई लोकल के 702 लोकल ट्रनों में सफर के लिए सिर्फ उन्हीं यात्रियों को इजाजत दी जाएगी, जिनके पास QR कोड होगा। यानी QR कोड 20 जुलाई से आपके पहचान का काम करने वाला है।

 20 जुलाई से बदल जाएगा सफर का अंदाज

20 जुलाई से बदल जाएगा सफर का अंदाज

पश्चिम रेलवे ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए यह फैसला लिया है। रेलवे की तरफ से बताया गया है कि 20 जुलाई से मुंबई लोकल में सफर के लिए क्यूआर कोड अनिवार्य है। बगैर इसके यात्रा नहीं करने दिया जाएगा। रेलवे के इस फैसले से जहां लोगों में कंफ्यूजन की स्थिति बनी हुई है। खासकर पैथोलॉजी और अस्पताल में काम करने वाले कर्मचारी जो लोकल ट्रेन से सफर करते हैं । दरअसल ये क्यूआर कोड राज्य सरकार की ओर से बनाया जाएगा, जिसे दिखाकर ही वो सफर कर सकेंगे।

 नए नियम को लेकर रेलवे की दलील

नए नियम को लेकर रेलवे की दलील

रेलवे ने इस नए नियम को लेकर कहा कि 15 जून से लोकल ट्रेनों की शुरुआत की गई है और तभी से कहा गया है कि लोगों को सफर के लिए क्यूआर कोड दिखाना होगा। शुरुआत में पहचान पत्र पर छूट दी गई, लेकिन फर्जी पहचान पत्रों को लेकर कई शिकायतें सामने आई हैं, जिसके बाद सफर के लिए 20 जुलाई को क्यूआर कोड को अनिवार्य किया जा रहा है, ताकि सही लोग ही इसमें सफर कर सके। रेलवे ने कहा कि क्यूआर कोड वाला पहचान पत्र विभाग अपने कर्मचारियों को उपलब्ध कराएंगे, जिसे दिखाकर जरूरी सेवाओं, सरकारी कर्मचारियों आदि में काम करने वाले लोग लोकल ट्रेन में सफर कर सकेंगे।

 सिर्फ इन लोगों को सफर की इजाजत

सिर्फ इन लोगों को सफर की इजाजत

आपको बता दें कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए मुंबई लोकल की सेवाएं स्थगित है। 15 जून से पश्चिम रेलवे ने सिर्फ जरूरी सेवाओं में लगे लोगों के लोगों के लिए लोकल ट्रेनों की शुरुआत की है। वर्तमान में मुंबई में 702 लोकल ट्रेनों का परिचालन किया रहा है। जिसमें से 350 ट्रेनें पश्चिम रेलवे पर चल रही हैं। इन ट्रेनों में राज्य सरकार के अत्यावश्यक कार्यों में लगे कर्मचारियों, गृह मंत्रालय द्वारा निर्देशित किए गए कार्यों में जुटे कर्मचारियों जैसे की केंद्रीय कर्मचारियों, आयकर, जीएसटी एवं सीमा शुल्क, पोस्ट ऑफिस, बैंककर्मियों, मुंबई पोर्ट ट्रस्ट, कोर्ट एंव राजभवन में कार्यरत कर्मचारियों को सफर की अनुमति दी गई है। इसके लिए रेलवे ने क्यूआर कोड की अनिवार्यता सुनिश्चित की है, ताकि केवल यहीं लोग लोकल ट्रेनों में सफर कर सके।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Indian Railway Big Update: withour QR codes passgenders are not allow to board Mumbai local trains
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X