• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

3 महीने तक नहीं देना होगा EMI, जानिए क्या है EMI मोरटोरियम, क्या है इसकी शर्तें, शुल्क और इसके फायदे

|

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के कारण देश को 14 अप्रैल तक लॉकडाउन किया गया है। इस लॉकडाउन की वजह से देश की अर्थव्यवस्था बिगड़ गई है। लोगों की आमदनी प्रभावित हो रही है। ऐसे में लोगों को इस संकट में मदद करने के लिए RBI ने बैंकों से अपील कि है कि वो कर्जदारों को होम लोन, ऑटो लोन, पर्सनल लोन, किसान लोन आदि की तीन महीने की EMI में राहत दें. 27 मार्च को RBI ने बैंकों से लोन की ईएमआई पर 3 महीने की मोरटोरियम प्रदान करने के निर्देश दिया। इस निर्देश के बाद लगभग सभी सरकारी और निजी बैंकों ने लोनो लेने वाले ग्राहकों को राहत देते हुए उन्हें 3 महीने की EMI से राहत दी। ऐसे में बहुत से लोग ये जानना चाहते हैं कि इस EMI की राहत का लाभ वो कैसे उठा सकते हैं? इसके लिए क्या शर्तें होंगी? इससे उन्हें क्या लाभ मिलेगा? आइए इस बारे में विस्तार से जानते हैं....

ये सरकारी बैंक लौटाएगी आपके होम लोन, ऑटो लोन की EMI

क्या है EMI मोरटोरियम

क्या है EMI मोरटोरियम

आरबीआई ने ईएमआई पेमेंट में तीन महीने की राहत दी है। इसका मतलब है कि तीन महीने तक आपको ईएमआई नहीं चुकानी है। लॉकडाउन जैसी स्थिति से गुजर रहे ग्राहक अगर 3 महीने तक अपने लोन की ईएमआई नहीं चुकाते हैं तो बैंक आप पर पेनाल्टी नहीं लगाएंगे। मोराटोरियम उस अवधि को कहते हैं जिस दौरान आपको लिए गए कर्ज पर ईएमआई का भुगतान नहीं करना पड़ता है। आप इसे EMI हॉलीडे के रूप में समझ सकते हैं। बैंकों की ओर से इस तरह की पेशकश इसलिए की जाती है , ताकि कर्जदार को अस्थायी वित्तीय कठिनाइयों का सामना करने में और उससे उबरने में मदद मिलें।

कैसे उठा सकते हैं मोरटोरियम का लाभ

कैसे उठा सकते हैं मोरटोरियम का लाभ

तीन महीने की ईएमआई भरने से राहत का लाभ अगर आप उठाना चाहते हैं तो आपको बैंक को ईमेल के जरिए इसकी जानकारी देनी होगी। हालांकि कुछ बैंकों ने इसे ऑटोमेटिक बी करने का विकल्प दिया है। सामाव्य तौर पर अगर आप इस विकल्प का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको बैंक को ईमेल कर बताना होगा कि वे इस सुविधा का लाभ लेना चाहते हैं। इस ईएमआई मोरटेरियम का लाभ उठाकर आप 1 मार्च 2020 से 31 मई 2020 तक कर्ज की ईएमआई से राहत पा सकते हैं।

 कौन उठा सकता है कि इस सुविधा का लाभ

कौन उठा सकता है कि इस सुविधा का लाभ

अगर आपने अपने बैंक होम लोन, ऑटो लोन, पर्सनल लोन, किसान लोन या कोई भी लोन लिया है तो इस ईएमआई मोटेरियम का लाभ उठा सकते हैं। 1 मार्च 2020 से पहले टर्म लोन लेने वाले सभी ग्राहक इस राहत का लाभ उठा सकते हैं। इसके अतिरिक्त सभी कृषि ऋण और बैंक की सतत आजीविका पहल के तहत माइक्रोफाइनेंस ग्राहक भी इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। वहीं इसका लाभा कॉरपोरेट और एसएमई ग्राहकों को भी दिया गया है।

 EMI में छूट लेने पर क्या होंगे फायदे

EMI में छूट लेने पर क्या होंगे फायदे

लॉकडाउन की स्थिति में EMI में अगर तीन महीने की छूट लेते हैं तो आपके ये तीन EMI आगे के भुगतान में जोड़ दिया जाएगा। मतलब ये कि बैंक 31 मई 2020 तक कोई ईएमआई भुगतान नहीं लेगा, लेकिन इन तीन महीनों की ईएमआई मूल बकाया पर जोड़कर लेगा। आपके लोन की अवधि तीन महीने बढ़ जाएगी। वहीं अगर आप इस ईएमआई की राहत नहीं लेते हैं और भुगतान करते हैं तो आपको कुछ भी अतिरिक्त लेने की जरूरत नहीं है। यानी अगर आप EMI मोरटोरियम का लाभ उठाते हैं तो आपके लोन की अवधि 3 महीने बढ़ जाएगी। वहीं इन 3 महीने के दौरान लगने वाला ब्याज आगे वसूला जाएगा। आपकी बाकी बची EMI के साथ ब्याज को एडजस्ट किया जाएगा।

 कैसे उठा सकते हैं EMI में छूट का लाभ

कैसे उठा सकते हैं EMI में छूट का लाभ

हर बैंक ने इसके लिए ईमेल, वेबासइट, ऑनलाइन सुविधा उपलब्ध की है। वहीं एचडीएफसी ग्राहक 022-50042333 या 022-50042211 पर कॉल कर इसका लाभ उठा सकते हैं।

लॉकडाउन में ICICI बैंक ने खाताधारकों को दिया झटका, घटाई सेविंग अकाउंट की ब्याज दरें

SBI का बड़ा ऐलान, लॉकडाउन में काम करने वाले कर्मचारियों को मिलेगी एक्स्ट्रा सैलरी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The RBI recently announced a deferment option to financial institutions for 3 months to fight the challenges arising due to the Coronavirus pandemic
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more