India
  • search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

वित्त वर्ष 2021-22 में बजट अनुमान से कम रहा राजकोषीय घाटा, 6.7 फीसदी

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। केंद्र सरकार की ओर से वित्तीय वर्ष 2021-22 में राजकोषीय घाटा को कम रखने में कामियाब रही है। सरकार वित्त वर्ष 2021-22 में राजकोषीय घाटे को बजट अनुमान से कम रखने में सफल रही है। महालेखा नियंत्रक द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक वित्त वर्ष 2021-22 में राजकोषीय घाटा जीडीपी का 6.71 फीसदी पर रहा है, जबकि सरकार ने बजट में इसके 6.9 फीसदी रहने का अनुमान लगाया है।

 Fiscal Deficit of India: Govt keeps fiscal deficit to 6.7% in FY22, lower than revised estimate
मंगलवार को सीडीए की ओर से आधिकारिक आंकडे जारी किए गए, जिसके मुताबिक राजकोषीय घाटा 6.7 फीसदी रहा। जबकि बजट में पहले 6.8 फीसदी पर रहने का अनुमान लगाया गया था, जिसे बाद में बढ़ाकर 6.9 फीसदी कर दिया गया था। सरकार द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक राजकोषीय घाटा 15,86,537 करोड़ रुपए रहा, जो जीडीपी का 6.7 फीसदी है।

आपको बता दें कि बजट ऐलान के दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में राजकोषीय घाटा जीडीपी का 6.9 फीसदी रहने का अनुमान लगाया। जहां सरकार राजकोषीय घाटे को अनुमान से कम रखने में सफल रही है तो वहीं विनिवेश से प्राप्तियां एक बार फिर निराशाजनक रही और सरकार इसे पूरा करने से चूक गई है। जहां सरकार ने अनुमान लगाया था कि विनिवेश और विभिन्न परिसंपत्ति बिक्री से 78000 करोड़ रुपए की आय होगी तो वहीं अनुमान के मुकाबले 14000 करोड़ रुपए रही।

एक ही झटके में HDFC के 100 खाताधारक बन गए करोड़पति, अकाउंट में अचानक आ आए 13-13 करोड़ रुपएएक ही झटके में HDFC के 100 खाताधारक बन गए करोड़पति, अकाउंट में अचानक आ आए 13-13 करोड़ रुपए

Comments
English summary
Fiscal Deficit of India: Govt keeps fiscal deficit to 6.7% in FY22, lower than revised estimate
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X