• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भारत के एक मात्र उद्योगपति, जिनकी संपत्ति में लॉकडाउन के बाद भी हुआ इतना बड़ा इजाफा!

|

मुंबई। कोरोना वायरस महामारी में देशव्यापी लॉकडाउन में एक तरफ जहां दुनिया भर की अर्थव्यवस्था चौपट हुई जा रही है और बड़े से बड़े उद्योगपतियों का व्यापार ठप पड़ चुका है, लेकिन इसी बीच सुपरमार्केट टाईकून राधाकिशन दमानी की नेटवर्थ में इजाफा देखा गया है, जिसका श्रेय लॉकडाउन के बीच उन लाखों जमाखोरों को जाता है, जिन्होंने घबड़ाहट और डर में जरूरी समानों का अनावश्यक स्टॉक भर लिया हैं।

damani

यही वजह है कि भारतीय टाइकून राधाकिशन दमानी का नेटवर्थ दूसरे हमवतन अरबपति उद्योगपति साथियों की तुलना तेजी से बढ़ा है। ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स द्वारा ट्रैक आंकड़ों के मुताबिक एवेन्यू सुपरमार्ट्स लिमिटेड को नियंत्रित करने वाले राधाकिशन दमानी की नेटवर्थ इस साल करीब 11% बढ़कर 10.7 अरब डॉलर हो गई है, जो उन्हें 12 अरबपति भारतीयों में सबसे अधिक लाभ कमाने वालों में दर्शाती है। इसी वर्ष दमानी की कुल संपत्ति में योगदान करने वाले एवेन्यू सुपरमार्ट्स के शेयर 24 फीसदी एडवांस हुए हैं।

मुंबई में अब सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना हुआ अनिवार्य, उल्लंघन करने पर होगी कड़ी कार्रवाई!मुंबई में अब सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना हुआ अनिवार्य, उल्लंघन करने पर होगी कड़ी कार्रवाई!

dmart

मुंबई के एक टेनमेंट ब्लॉक में एक-कमरे के अपार्टमेंट में पले-बढ़े भारतीय टाइकून राधाकिशन दमानी के नेटवर्थ में ऐसे समय में उछाल दिखा है जब शेयर बाजार लगातार गिर रहे हैं और उनके हमवतन अरबपति मुकेश अंबानी और उदय कोटक के नेटवर्थ में इस डर से एक चौथाई से अधिक की गिरावट दर्ज हुई है कि महामारी आर्थिक विकास को प्रभावित करेगी।

Dmart

माना जाता है कि अपनी मितव्ययी लागत संरचना के लिए मशूहर राधाकिशन दमानी की सुपरमार्केट श्रृंखला को यह फायदा पिछले महीने भारत सरकार द्वारा कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा के बाद हुई है, क्योंकि 130 करोड़ भारतीयों द्वारा अनिवार्य घरेलू सामनों की अंधाधुंध खरीद की गई है।

मुझे खेद है कि लोग घरों में बंद है, लेकिन COVID19 से बचाव का कोई और तरीका नहीं: उद्धव ठाकरेमुझे खेद है कि लोग घरों में बंद है, लेकिन COVID19 से बचाव का कोई और तरीका नहीं: उद्धव ठाकरे

Dmart

मुंबई में एक निवेश सलाहकार फर्म क्रिश के निदेशक अरुण केजरीवाल ने बताया कि लॉकडाउन के बाद घबराहट में लोग जरूरी सामानों की जमाखोरी करने में लग गए थे, जिसने शेयर बाजार में भगदड़ के बावजूद राधाकिशन दमानी की कंपनी के शेयर को एक कवच प्रदान किया। उनके मुताबिक कंपनी की अनोखी नो-फ्रिल्स मॉडल और मॉल के बाहर के स्थानों से संचालन का चुनाव कंपनी को परिस्थिति से उबरने में मदद करेगा।

Dmart

वैक्सीन निर्माता की स्थापना के जनक और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के मालिक साइरस पूनावाला 12 अरबपति भारतीय उद्योगपतियों में केवल दूसरे ऐसे भारतीय टाइकून हैं, जिनकी संपत्ति 2020 में बढ़ी है। ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के अनुसार 2020 में पूनावाला की कुल संपत्ति 2.6% बढ़कर 8.9 अरब डॉलर हो गई है।

भारत में बढ़ सकती है लॉकडाउन की समय-सीमा, दक्षिण एशिया में तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले!भारत में बढ़ सकती है लॉकडाउन की समय-सीमा, दक्षिण एशिया में तेजी से बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले!

dmart

माना जाता है कि कम-लागत वाले मॉडल एवेन्यू सुपरमार्ट्स के डी-मार्ट स्टोरों को लॉकडाउन खत्म होने के बाद स्थिति खराब नहीं होगी। सुपरमार्केट श्रृंखला ग्राहकों को बिना तामझाम वाले उत्पादों के कम विकल्प देकर पैसा कमाती है, वह अपने विक्रेताओं के साथ बेहतर मोल-भाव करती है और विज्ञापन खर्च से बिल्कुल बचती है।

Dmart

कहा जाता है कि समान परिस्थितियों में डी-मार्ट के प्रतिद्वंदियों को उतना लाभ नहीं हुआ है। इनमें फ्यूचर ग्रुप का शामिल है, जो भारत की दूसरी सबसे बड़ी रिटेल श्रृंखला चलाती है और देश भर में उसके करीब 1,300 से अधिक स्टोर हैं, लेकिन बढ़ते ऋण संकट के बीच देखा गया कि इस साल उसके रिटेल इकाई के शेयरों ने 80 फीसदी गोता खाया।

Good Job done: लॉकडाउन के बीच IRCTC ने लाखों जरूरतमंदों तक पहुंचाया खाना!Good Job done: लॉकडाउन के बीच IRCTC ने लाखों जरूरतमंदों तक पहुंचाया खाना!

Dmart

एवेन्यू सुपरमार्ट्स और दमानी की संभावनाएं तब तक उज्ज्वल हैं जब तक भारत के तेजी से बढ़ते उपभोक्ता सामानों के लिए आपूर्ति श्रृंखला बाधित नहीं होती है। माना जा रहा है कि लॉकडाउन में विस्तार डी-मार्ट की अलमारियों को खाली कर सकता है, क्योंकि अभी के लिए दमानी के स्टोर अपने रैक को फिर से भरने के लिए प्रबंधन कर रहे हैं।

dmart

पी.एन. फिनोविती कंसल्टिंग प्राइवेट के पीएन विक्रमण ने बताया कि भारत में बहुत कम सूचीबद्ध रिटेलर हैं, जो एवेन्यू सुपरमार्ट्स की तुलना में बेहतर हैं और जो इस संकट में एक बचाव कर पाए हैं। विक्रमण के मुताबिक एवेन्यू सुपरमार्केट ने उपभोक्ता मुख्य जरूरतों की बढ़ती मांग को पूरा करते हैं और उन्होंने एक मजबूत आपूर्ति श्रृंखला में निवेश करने के लिए वर्षों में अपने नकदी प्रवाह का उपयोग किया है।"

यह भी पढ़ें-ट्रंप ने कहा, किसी को नहीं मालूम था महामारी आ रही है, जबकि जनवरी में ही सलाहकार ने उन्हें चेता दिया था!

English summary
The net worth of Indian tycoon Radhakishan Damani, who grew up in a one-room apartment in a tenement block in Mumbai, has seen a boom at a time when the stock markets are continuously falling and his compatriots billionaires Mukesh Ambani and Uday Kotak have this fear More than a quarter of the decline has been reported that the epidemic will affect economic growth.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X