• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अंतरराष्ट्रीय बाजार में लगातार कम हो रहे कच्चे तेल के दाम, जनता को कब मिलेगी राहत?

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली: पिछले साल कोरोना महामारी पूरी दुनिया में फैली, जिस वजह से ज्यादातर बड़े देशों को लॉकडाउन लागू करना पड़ा। इसके बाद से क्रूड ऑयल के दामों में कमी देखी जा रही है। बात करें दुनिया के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका की तो वहां पर क्रूड ऑयल का भंडारण पिछले चार हफ्तों से बढ़ता जा रहा है। जिस वजह से दाम में गिरावट आ रही है, लेकिन अभी भी एक सवाल लोगों के मन में है कि क्या अंतरराष्ट्रीय बाजार में दाम कम होने से भारत में तेल की कीमतें कम होंगी?

पेट्रोल

अंतरराष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज (आईसीई) पर ब्रेंट क्रूड के मई डिलीवरी अनुबंध में गुरुवार को बीते सत्र से 1.29 फीसदी की कमी के साथ 67.12 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। वहीं न्यूयॉर्क मर्केंटाइल एक्सचेंज (नायमैक्स) के अप्रैल अनुबंद के लिए कीमत 63.77 डॉलर प्रति बैरल है यानी इसमें 1.28 फीसदी की गिरावट आई। अंतरराष्ट्रीय बाजार में पांचवें दिन लगातार कीमतें कम होने से घरेलू बाजार में भी राहत की उम्मीद है।

पेट्रोल पर 33 रुपए और डीजल से 32 रुपए प्रति लीटर कमा रही है सरकार, लोकसभा में बतानी पड़ी सच्‍चाई पेट्रोल पर 33 रुपए और डीजल से 32 रुपए प्रति लीटर कमा रही है सरकार, लोकसभा में बतानी पड़ी सच्‍चाई

उच्चतम स्तर पर पेट्रोल-डीजल
तीन हफ्ते पहले पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आग लगी थी, लेकिन बीते 19 दिनों से जनता को काफी राहत है, क्योंकि दोनों के ही दामों में बढ़ोतरी नहीं हुई। गुरुवार को राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 91.17 रुपये जबकि डीजल के दाम 81.47 रुपये प्रति लीटर है। वहीं मुंबई में ये आंकड़ा क्रमश: 97.57 और 88.60 रुपये प्रति लीटर है।

English summary
Crude oil prices decreased for fifth day, 67 dollar per barrel
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X