• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोरोना की मार, 22 हजार कर्मचारियों को नौकरी से निकालेगी लुफ्थांसा

|

नई दिल्ली। कोरोना वायरस और लॉकडाउन के चलते आर्थिक संकट का सामना कर रही लुफ्थांसा एयरलाइन ने 22 हजार कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का ऐलान किया है। जर्मनी की राष्ट्रीय वाहक लुफ्थांसा की ओर से कहा गया है कि इसके अलावा भी कुछ नौकरियां जा सकती हैं। हाल ही में कंपनी ने कुछ भी छटनियां की हैं। कंपनी की ओर से कहा गया है कि बिजनेस की हालत बेहद खराब है, इसलिए ये किया जा रहा है।

Coronavirus impact Lufthansa to cut 22000 jobs as travel demand dips

कंपनी ने कई कर्मचारियों की पोजिशन भी घटा दी है और वेतन में भी कटौती की गई है। लुफ्थांसा एयरलाइन के दुनिया भर में 135,000 से ज्यादा कर्मचारी हैं। इनमें से लगभग आधे जर्मनी में हैं। अप्रैल में एयरलाइन ने कहा था कि वह प्रति घंटे रिजर्व लिक्विडिटी से करीब एक मिलियन यूरो खो रही है।

कोरोना महामारी के चलते एविएशन सेक्टर पर बेहद बुरा असर हुआ है। इस सेक्टर में अब तक हजारों लोगों की नौकरी जा चुकी है और लाखों पर खतरा मंडरा रहा है। हाल ही में अमीरात एयरलाइंस ने छंटनी की है। भारत में भी कई एयरलाइन ने अपने कर्मचारियों को जबरन छुट्टी पर भेजा है। कई एयरलाइन में सैलरी में भी कटौती की गई है। इससे पहले मई के आखिरी सप्ताह में खबर आई थी कि विमान बनाने वाली ग्‍लोबल कंपनी बोइंग 12,000 से अधिक लोगों की छंटनी कर रही है। कोविड-19 संकट की वजह से यात्रा प्रतिबंधों के चलते विमानन उद्योग को बड़ा झटका लगा है। कंपनी आगे और लोगों को भी नौकरी से निकाल सकती है।

ये भी पढ़िए-सांसदों ने एक ही दिन के लिए बुक किए अलग-अलग ट्रेनों में टिकट, कैंसिल भी नहीं कराएये भी पढ़िए-सांसदों ने एक ही दिन के लिए बुक किए अलग-अलग ट्रेनों में टिकट, कैंसिल भी नहीं कराए

English summary
Coronavirus impact Lufthansa to cut 22000 jobs as travel demand dips
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X