• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भारत से अपना कारोबार समेटने जा रही है सिटी बैंक, जानें क्या है वजह

|

नई दिल्ली, अप्रैल 15: भारतीय बाजार की रिटेल बैंकिंग कंपनी सिटी बैंक भारत से अपना बोरिया बिस्तर समेटने की तैयारी में है। बैंक ने गुरुवार को कहा कि वह भारत में अपना कंज्यूमर बैंकिंग बिजनेस बंद करने जा रहा है। सिटी ग्रुप इंक. ने कहा कि ग्रुप अब 13 इंटरनेशनल कंज्यूमर बैंकिंग मार्केट से बाहर निकलेगा। बैंक का कहना है कि यह उसकी ग्लोबल स्ट्रैटजी का हिस्सा है। यह अब वेल्थ मैनेजमेंट कारोबार पर फोकस करने की तैयारी में है। सिटी को वित्त वर्ष 2019-20 में 4,912 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था जो इससे पूर्व वित्त वर्ष में 4,185 करोड़ रुपये था।

सिंगापुर, हांगकांग, लंदन और यूएआई मार्केट में बिजनेस जारी रहेगा

सिंगापुर, हांगकांग, लंदन और यूएआई मार्केट में बिजनेस जारी रहेगा

सिटीग्रुप ग्लोबल कंज्यूमर बैंकिंग बिजनेस में सिंगापुर, हांगकांग, लंदन और यूएआई मार्केट में कारोबार जारी रखेगा। जबकि चीन, इंडिया और अन्य 11 रिटेल मार्केट कारोबार समेटेगा। बैंक के कंज्यूमर बैंकिंग बिजनस में क्रेडिट कार्ड्स, रीटेल बैंकिंग, होम लोन और वेल्थ मैनेजमेंट शामिल है। सिटी बैंक की देश में 35 शाखाएं हैं और उसके कंज्यूमर बैंकिंग बिजनस में करीब 4,000 लोग काम करते हैं। संस्थागत बैंकिंग कारोबार के अलावा, सिटी अपने मुंबई, पुणे, बेंगलुरू, चेन्नई और गुरुग्राम केंद्रों से वैश्विक कारोबार पर ध्यान देता रहेगा।

इसलिए बैंक ने समेटा बिजनेस

इसलिए बैंक ने समेटा बिजनेस

सिटी के मुख्य अधिकारी जेन फ्रेजर ने कहा यह कंपनी की रणनीति समीक्षा का हिस्सा है। इस निर्णय का कारण इन क्षेत्रों में प्रतिस्पर्धा में पैमाने का अभाव बताया। हालांकि फिलहाल इस खंड से बाहर होने की रूपरेखा का पता नहीं चला है और उपभोक्ता बैंकिंग कारोबार से बाहर निकलने के प्रस्ताव को लेकर नियामकीय मंजूरी की जरूरत होगी। सिटी बैंक ने 1902 में भारत में कदम रखा था और 1985 में उपभोक्ता बैंकिंग कारोबार में कदम रखा।

फ्रेजर ने इसी साल मार्च में सीईओ का पद संभाला है

फ्रेजर ने इसी साल मार्च में सीईओ का पद संभाला है

फ्रेजर ने इसी साल मार्च में सीईओ का पद संभाला है। उन्होंने कहा कि इससे हमें मजबूत ग्रोथ की संभावना लग रही है और वेल्थ मैनेजमेंट में ज्यादा मौके दिखाई दे रहे हैं। बैंक ने यह कदम तब उठाया जब सिटीग्रुप ने पहली तिमाही में 7.9 बिलियन डॉलर का मुनाफा दर्ज किया, जो कि एक साल पहले की अवधि के मुकाबले तीन गुना अधिक था। राजस्व सात प्रतिशत गिरकर 19.3 अरब डॉलर हो गया। सिटी बैंक जिन अन्य देशों में अपना बिजनेस बंद कर रही है उनमें ऑस्ट्रेलिया, बहरीन, इंडोनेशिया, दक्षिण कोरिया, मलेशिया, फिलीपींस, पोलैंड, रूस, ताइवान, थाईलैंड और वियतनाम शामिल है।

दिल्ली में बेकाबू हुआ कोरोना, 24 घंटे में 16699 नए मामले, 112 मरीजों की मौतदिल्ली में बेकाबू हुआ कोरोना, 24 घंटे में 16699 नए मामले, 112 मरीजों की मौत

English summary
Citi bank will depart China, India and 11 other retail markets
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X