• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

CAIT ने पीयूष गोयल को पत्र लिख की फ्लिपकार्ट और आदित्य बिड़ला फैशन की शिकायत, जानिए क्या है वजह

|

नई दिल्ली। व्यापारियों के संगठन कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने बुधवार को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल को एक पत्र लिख ई-कॉमर्स दिग्गजों द्वारा भारत में किराने की बहु-ब्रांड खुदरा बिक्री का संचालन करने के लिए एफडीआई नीति के विभिन्न विसंगतियों और असमानताओं पर ध्यान देने का आग्रह किया। इसके अलावा CAIT ने आदित्य बिड़ला फैशन एंड रिटेल लिमिटेड (एबीएफआरएल) द्वारा फ्लिपकार्ट ग्रुप को 7.8 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचकर 1,500 करोड़ रुपए जुटाने की योजना पर भी कड़ी आपत्ति जताई है।

CAIT writes letter to Piyush Goyal complaining about Flipkart and Aditya Birla fashion

कैट ने इस संबंध में मंगलवार को केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल को एक पत्र लिखा है। इसमें कैट ने कहा है कि प्रस्तावित सौदा सरकार की प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) नीति का उल्लंघन है। कैट ने पीयूष गोयल से इस सौदे को अनुमति नहीं देने का आग्रह किया है, विभाग ने कहा कि प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से एबीएफआरएल को फ्लिपकार्ट समूह के स्वामित्व-नियंत्रण वाले मार्केटप्लेस प्लेटफॉर्म सामान बेचने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

वॉलमार्ट ने फ्लिपकार्ट में और बढ़ाई अपनी हिस्सेदारी, जियो मार्ट से ई-कॉमर्स मार्केट में बढ़ा है टेंशन

पत्र में कैट के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने केंद्रीय मंत्री से आग्रह किया है कि वह इस सौदे को तब तक अपनी अनुमति न दें जब तक एबीएफआरएल CAIT को यह भरोसा नहीं दिला देती कि वह वॉलमार्ट के स्वामित्व वाले ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट समूह के मार्केटप्लेस का इस्तेमाल कर अपना तैयार माल नहीं बेचेगी। प्रवीण खंडेलवाल ने पत्र में बताया कि इस संबंध में कंपनी को ओर से शेयर बाजारों को जो सूचना दी गई है। इससे फ्लिपकार्ट के स्वामित्व और मार्केटप्लेस पर एबीएफआरएल को एक 'वरीयता विक्रेता' बनाने की योजना का पता चला है जो कि सरकार की नीति का उल्लंघन है।

बता दें कि वॉलमार्ट के स्वामित्व वाली भारत के सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट ने आदित्य बिड़ला फैशन और रिटेल लिमिटेड में 7.8 फीसदी हिस्सेदारी खरीदेगी। पैंटालून, एलन सोली और पीटर इंग्लैड जैसे ब्रांड चलाने वाली कंपनी ने फ्लिपकार्ट को 1500 करोड़ रुपए में तरजीह आधार पर 7.8 फीसदी हिस्सेदारी जारी करने की योजना को मंजूरी दी है। कंपनी ने कहा कि इसके तहत प्रति शेयर 205 रुपए की दर से इक्विटी पूंजी जुटाई जाएगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
CAIT writes letter to Piyush Goyal complaining about Flipkart and Aditya Birla fashion
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X