• search
बुलंदशहर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Farmer Protest: योगी सरकार के मंत्री ने प्रदर्शनकारियों को बताया गुंडा, कहा- किसान का नाम लेकर फैला रहे अराजकता

|

बुलंदशहर। कृषि कानूनों के हरियाणा और पंजाब के किसान सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन कर रही है। तो वहीं, उत्तर प्रदेश में भी भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के कायकर्ताओं और किसानों ने उन्हें अपना समर्थन दे दिया है। शुक्रवार को बुलंदशहर, मेरठ, मुजफ्फरनग, बदायूं समेत कई जिलों में किसान भी सड़कों पर उतर आए और नेशनल हाईवे का जाम कर दिया। इस बीच, बुलंदशहर के विधायक और योगी सरकार के मंत्री अनिल शर्मा ने किसानों को गुंडा बताकर नए विवाद को जन्म दे दिया है। उनके बयान पर बीकेयू एनसीआर के अध्‍यक्ष मांगेराम त्‍यागी ने कहा, अगर किसान गुंडे हैं तो मंत्री जी उनके खिलाफ मुकदमा क्‍यों दर्ज नहीं कराते।

    Farmer Protest: योगी सरकार के मंत्री ने प्रदर्शनकारियों को बताया गुंडा

    Minister of State Anil Sharma said protesters are gundas, not farmers

    राज्यमंत्री अनिल शर्मा ने किसानों को बताया गुंडा

    दरअसल, भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के आह्वान पर शुक्रवार को किसानों ने बुलंदशहर में दिल्ली-कानपुर नेशनल हाईवे जाम किया था। किसानों के सड़क पर बैठ हाईवे जाम कराने के सवाल पर वन एवं पर्यावरण राज्यमंत्री अनिल शर्मा ने यह प्रदर्शन तथा विरोध आम किसान नहीं कर रहे हैं। यह सिर्फ कुछ गुंडे हैं जो प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार तो किसानों के हित में काम कर रही है। कहा कि चीनी मिलों को समय से चलवाने के साथ किसानों के गन्ना का समय से भुगतान और गेंहू तथा धान की बड़ी पैमाने पर समय से खरीद का काम सरकार की वरीयता में हैं। इस बार तो सरकार ने मक्का भी खरीदा है। इससे पहले प्रदेश में कभी मक्का को किसी भी सरकार ने नहीं खरीदा था। उत्तर प्रदेश की सरकार लगातार किसानों के हित में काम कर रही है।

    क्या कहा बीकेयू अध्यक्ष मांगेराम त्यागी ने...

    वहीं, भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) एनसीआर के अध्‍यक्ष मांगेराम त्‍यागी ने योगी सरकार के मंत्री अनिल शर्मा के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि अगर किसान गुंडे हैं तो मंत्री जी उनके खिलाफ मुकदमा क्‍यों दर्ज नहीं कराते। मांगेराम त्यागी ने अपनी वीडियो जारी करते हुए कहा कि मंत्री अनिला शर्मा, जो स्वय किसान पुत्र है और इस वक्त बीमारी से परेशान है। मैं उनके स्वास्थ्य होने की कामना करता हूं। कहा कि, उन्होंने किसानों को ऊपर जो टिप्पणी की है, किसानों को गुंडा बताने का काम किया है यह खेद का विषय है। उन्हें लगाता है कि प्रदर्शन करने वाले किसान गुंडे थे बदमाश थे तो उन्हें किसानों के खिलाफ मुकदमा लिखवा देना चाहिए। वो प्रदेश सरकार में है मुख्यमंत्री जी कहकर किसानों को गिरफ्तार करवाएं। उन्हें अरेस्ट करवाएं। लेकिन जो उन्होंने इस तरह की टिप्पणी की है ये बड़ी ही खेद का विषय है।

    कौन है राज्य मंत्री अनिल शर्मा

    राज्य मंत्री अनिल शर्मा खुद भी किसान हैं, और उनकी आय का एक बड़ा हिस्सा कृषि आय से प्राप्त होता है। बुलंदशहर के शिकारपुर तहसील के गांव सुरजावली के मूल निवासी अनिल शर्मा ने गांव के प्रधान पद से राजनीति का सफर शुरू किया था। अनिल शर्मा वर्ष 1989 में पहली बार पैतृक गांव सुरजावली के ग्राम प्रधान चुने गए। वर्ष 2002 और 2007 में खुर्जा विधानसभा सीट से पहली बार बहुजन समाज पार्टी के टिकट विधायक चुने गए। इसके बाद वर्ष 2012 में खुर्जा सीट सुरक्षित हो गई। अनिल शर्मा ने शिकारपुर विधानसभा सीट से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ा मगर उन्हें समाजवादी पार्टी के मुकेश शर्मा से हार का सामना करना पड़ा। इसके बाद वर्ष 2017 में अनिल शर्मा भाजपा के टिकट पर शिकारपुर विधानसभा सीट से विधायक निर्वाचित हुए हैं।

    ये भी पढ़ें:- किसानों की आय दोगुनी करने की बात कहने वाली भाजपा सरकार का ऐसा दुर्व्यवहार, अखिलेश यादव ने साधा निशाना

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Minister of State Anil Sharma said protesters are gundas, not farmers
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X