• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

10 साल से समुद्र की गहराइयों में अपनी पत्नी की तलाश कर रहा ये शख्स, सुनामी के बाद से है लापता

|

टोक्यो। जापान के रहने वाले 64 वर्षीय यासुओ ताकामात्सु की कहानी सुन आपकी आंखों मे भी जरूर आंसू आ जाएंगे। यासुओ पिछले 10 सालों से अपनी खोई हुई पत्नी युको की तलाश में समुद्र की गहराइयों में गोते लगा रहे हैं। यासुओ की पत्नी साल 2011 में आए भीषण सुनामी के बाद से ही लापता हैं, तब से ही वह युको की खोज में हर दिन डाइविंग सूट पहनकर पानी में उतर जाते हैं। अपनी पत्नी के लिए यासुओ ताकामात्सु के प्यार की चर्चा अब दुनियाभर में हो रही है। कई लोग उनकी कहानी को आगे शेयर कर रहे हैं।

समुद्र की गहराइयों में पत्नी को खोज रहे यासुओ

समुद्र की गहराइयों में पत्नी को खोज रहे यासुओ

दुनियाभर में कई प्यार करने वाले जोड़े हुए हैं, जिनकी प्रेम कहानी आज भी उदाहरण के तौर पर लोगों को सुनाई जाती है। युको के लिए यासुओ ताकामात्सु का प्यार भी कुछ ऐसा ही है। सुनामी में अपनी पत्नी को खोने के बाद यासुओ ने अंडरवॉटर डाइविंग का लाइसेंस हासिल किया और फिर लग गए समुद्र का कोना-कोना छानने में। पिछले सात सालों से यासुओ अकेले अंडरवॉटर डाइव कर रहे हैं ताकि समुद्र के अंदर अपनी पत्नी से संबंधित कोई चीज खोज सकें।

जापान सरकार ने चलाया सर्च अभियान

जापान सरकार ने चलाया सर्च अभियान

इतना ही नहीं यासुओ ताकामात्सु सिर्फ अपनी पत्नी की तलाश ही नहीं करते बल्कि वह दूसरे लोगों को खोए हुए सामान या पुरानी यादों को समुद्र में खोजकर निकालते हैं। दरअसल, जापान की सरकार ने करीब ढाई हजार लोगों की गुमशुदगी के चलते अंडरवॉटर सर्च अभियान चलाया है। यासुओ ताकामात्सु भी इस अभियान से जुड़े हुए हैं, और अपनी पत्नी के अलावा दूसरों को भी तलाश कर रहे हैं। अब तक यासुओ को पानी के अंदर कई लोगों के कपड़े, एल्बम जैसी कई चीजें मिल चुकी हैं।

700 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आई थी सुनामी

700 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आई थी सुनामी

समुद्र में दफन इनते सामानों के बीच आज तक यासुओ को अपनी पत्नी से जुड़ा कोई सुराग नहीं मिला है। आपको बता दें कि साल 2011 में जापान के उत्तरपूर्वी कोस्ट में 700 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से 133 फीट लंबी लहरों ने तबाही मचा दी थी। समुद्र से उठी ऊंची लहरों ने फुकुशिमा न्यूक्लियर प्लांट को भी भारी नुकसान पहुंचाया था, इस सुनामी की वजह से जापान में 15 लोगों को अपनी जानें गवानी पड़ी।

पत्नी की सुरक्षा को लेकर फिक्रमंद थे यासुओ

पत्नी की सुरक्षा को लेकर फिक्रमंद थे यासुओ

वहीं, लगभग 2 लाख 30 हजार लोगों को अपनी जान बचाने के लिए अपने घरों को छोड़ना पड़ा था। जब सुनामी आई तो यासुओ ताकामात्सु को अंदाजा नहीं था कि वह अपनी पत्नी को हमेशा के लिए खो देंगे। युको एक बैंक में काम करती थीं जो एक पहाड़ के पीछे थे, हालांकि उस दिन कर्मचारियों को दूसरी जगह शिफ्ट कर दिया गया था। लेकिन सुनामी इतनी भयानक थी कि उसमें कई कर्मचारियों के डूबने से मौत हो गई। हालांकि युको की बॉडी को कुछ पता नहीं चला।

यह भी पढ़ें: ग्लेशियर टूटने की खबर सुन उत्तराखंड के लोगों के रोंगटे हुए खड़े, आंखों के सामने आया 2013 की तबाही का मंजर

English summary
Yasuo Takamatsu looking for wife in sea for 10 years Missing since tsunami
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X