• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सुशांत-रिया और ड्रग्स: बॉलीवुड में ड्रग्स की कहानी क्यों नहीं सामने आ पाती?

By इक़बाल परवेज़

सुशांत-रिया और ड्रग्स: बॉलीवुड में ड्रग्स की कहानी क्यों नहीं सामने आ पाती?

फ़िल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जाँच अब नशे की अंधेरी दुनिया तक पहुँच गई है. ड्रग्स मामले में पहले रिया चक्रवर्ती के भाई शौविक चक्रवर्ती और बाद में रिया खुद सलाखों के पीछे पहुँच गई हैं.

बीते रविवार को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने इसी मामले में छह दूसरे लोगों को भी गिरफ़्तार किया है.

रिया चक्रवर्ती के ख़िलाफ़ अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में भी एफ़आईआर दर्ज है, जिसकी सीबीआई जाँच चल रही है.

सुशांत-रिया और ड्रग्स: बॉलीवुड में ड्रग्स की कहानी क्यों नहीं सामने आ पाती?

एनसीबी की तफ़्तीश के साथ साथ फ़िल्म इंडस्ट्री में भी इस मामले पर काफ़ी चर्चा है.

राज्य सभा में समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन ने शून्य काल के दौरान कहा है कि कुछ लोगों वजह से पूरी इंडस्ट्री की छवि खराब नहीं की जा सकती.

उन्होंने कहा कि वो लोकसभा में फ़िल्म इंडस्ट्री से ताल्लुक रखने वाले एक लोकसभा सदस्य पर शर्मिंदा है. सोमवार को भारतीय जनता पार्टी के सांसद रवि किशन ने लोकसभा में फिल्म इंडस्ट्री में ड्रग के इस्तेमाल का मुद्दा उठाया था और इस दिशा में कड़ी कार्रवाई की मांग की थी.

नशे का मामला आने के बाद इन दिनों कई मामलों को लेकर सुर्ख़ियाँ बटोर रहीं कंगना रनौत ने भी कह दिया कि बॉलीवुड के 99% लोग ऐसे नशीले पदार्थों का सेवन करते हैं तो दूसरी तरफ़ रवीना टंडन ने कंगना को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि टोकरी में कुछ गंदे सेब सबको गंदा नहीं कर सकते.

कंगना
BBC
कंगना

कंगना के आरोप

अभिनेत्री कंगना रनौत ने 99% बॉलीवुड पर नशेड़ी होने का आरोप लगाया था, लेकिन मुंबई पुलिस कंगना की भी जाँच कर रही है. क्योंकि कंगना के क़रीबी दोस्त रहे अध्ययन सुमन का का वह बयान फिर से चर्चा में है जिसमें उन्होंने कहा था कि कंगना ज़बरदस्ती उन्हें ड्रग्स देने की कोशिश करती थी.

यहाँ तक कि कंगना का इंस्टाग्राम पर एक वीडियो भी वायरल हुआ है जिसमें ख़ुद कंगना ने कबूल किया है कि वो ड्रग्स लिया करती थी.

इन सबके बीच ऐसी रिपोर्टें भी आ रही हैं कि बॉलीवुड के कई सितारों पर एनसीबी नज़र रख रही है.

हालाँकि एनसीबी के डिप्टी डायरेक्टर केपीएस मल्होत्रा ने बताया, "हमलोग मामले की जाँच कर रहे हैं. जाँच में कुछ लोगों के नाम सामने आए हैं. मीडिया में उन नामों को लेकर जो कुछ कहा जा रहा है वो कयास भर हैं. लेकिन जिन लोगों के नाम जाँच में सामने आए हैं, उन लोगों की जाँच हो रही है, इसलिए अभी उनके नाम सार्वजनिक नहीं किए जा सकते."

केपीएस मल्होत्रा के मुताबिक़ जाँच और खोजबीन में ड्रग्स कारोबारी, पैडलर और उसका सेवन करने वाले फ़िल्मी कलाकारों का पता लगाने कोशिश की जा रही है ताकि नशे के जाल को फैलने से रोका जा सके.

इस मामले में बॉलीवुड के नामचीन सितारों ने चुप्पी साध रखी है, कइयों ने संपर्क करने के बाद भी इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया.

शर्लिन चोपड़ा का दावा

सुशांत-रिया और ड्रग्स: बॉलीवुड में ड्रग्स की कहानी क्यों नहीं सामने आ पाती?

हालांकि अभिनत्री शर्लिन चोपड़ा ने बॉलीवुड में ड्रग्स के इस्तेमाल करने की बात कबूल करते हुए कंगना रनौत जैसा ही आरोप लगाया है. उन्होंने कहा, "मेरा यक़ीन करें तो बॉलीवुड में पाँच प्रतिशत लोग ही नशा नहीं करते होंगे."

शर्लिन चोपड़ा का यह दावा सनसनी भर लगता है क्योंकि अब तक किसी आधिकारिक जाँच में बॉलीवुड सितारों के बीच ड्रग्स सेवन के व्यापक तौर पर चलन की बात सामने नहीं आई है.

लेकिन शर्लिन ने कहा, "शुरुआत में फ़िल्मकार मुझे पार्टीज़ में बुलाते थे. तब मुझे ऐसा लगता था कि वहाँ जाने से नेटवर्किंग होती है, लोगों से जान पहचान बढ़ती है जिससे काम मिलने में आसानी होती है. लेकिन जब मैंने वहाँ देखा कि बॉलीवुड पार्टीज़ में नेटवर्किंग कम और नशा ज़्यादा होता है तब मैंने ऐसी पार्टीज़ में जाना छोड़ दिया."

एनसीबी के डिप्टी डायरेक्टर केपीएस मल्होत्रा ने माना कि चोरी छिपे इस तरह के नशे की शिकायतें पहले भी मिलती रही हैं. उन्होंने कहा, "एक बार जब ये मामले सामने आ जाते हैं, तो एजेंसियों के हाथों में ऐसे मामले आते हैं और एजेंसी जाँच पड़ताल करती हैं. जैसे कि इस मामले में हो रहा है. जाँच में जो भी इसमें लिप्त पाए गए उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई होगी."

हालांकि शर्लिन का मानना है कि जाँच पड़ताल से कुछ ख़ास नहीं होगा. उन्होंने बताया, "एनसीबी की जाँच से पेडलर्स, डीलर्स के नाम सामने ज़रूर आएँगे, लेकिन इनमें से कुछ लोग कुछ समय के लिए छिप जाएँगे और जैसे ही मामला शांत होगा, ये लोग बाहर निकल आएँगे और अपने अपने काम पर लग जाएँगे."

बॉलीवुड में ड्रग्स और नशा का चर्चित मामला

बॉलीवुड में ड्रग्स के मामलों ने कई बार तूल पकड़ा है, हालाँकि आधिकारिक तौर पर किसी तरह की गंभीर जाँच में कुछ नहीं साबित हुआ है. वैसे फ़िल्म जगत की कुछ हस्तियों को ड्रग्स के चलते जेल जाना पड़ा है तो कई हस्तियों ने ड्रग्स रिहैबिलिटेशन में अपना इलाज करवाया है.

संजय दत्त
Sanjay Dutt/Instagram
संजय दत्त

अभिनेता संजय दत्त का ड्रग्स लेना तो बॉलीवुड सितारों में सबसे चर्चित मामला रहा है. उनके पिता सुनील दत्त उन्हें रिहैब सेंटर ले गए जिसके बाद संजय दत्त ने बॉलीवुड में वापसी की थी. संजय दत्त की ज़िंदगी पर बनी फ़िल्म 'संजू' में भी इसका जिक्र किया गया है.

प्रतीक बब्बर

राज बब्बर और स्मिता पाटिल के बेटे प्रतीक बब्बर ने भी कबूल किया था कि 13 साल की उम्र से उन्होंने ड्रग लेना शुरू कर दिया था.

हालाँकि बाद में उन्होंने रिहैब सेंटर में इलाज करा कर ड्रग्स से छुटकारा पाया, प्रतीक बब्बर अपने को ख़ुशकिस्मत मानते हैं कि वे ड्रग्स के इस्तेमाल के बाद भी फिर से सामान्य जीवन में इलाज के बाद लौट पाए.

फ़रदीन ख़ान

फ़िरोज़ ख़ान के बेटे फ़रदीन ख़ान को 2001 में मुंबई पुलिस ने ड्रग्स के साथ पकड़ा था. फ़रदीन ख़ान का मामला कोर्ट तक पहुँचा था, जहाँ उन्होंने रिहैब सेंटर से अपना इलाज कराने के बात स्वीकार की थी जिसके चलते उन्हें कोई सज़ा नहीं मिली थी.

डीजे अकील

बीते दिनों के सितारे संजय ख़ान के दामाद डीजे अकील 2007 में दुबई में प्रतिबंधित ड्रग के आरोप में हिरासत में लिए गए थे. हालाँकि बाद में उनके ख़िलाफ़ किसी तरह का सबूत नहीं मिलने के बाद उन्हें इस आरोप से बरी किया गया था.

चर्चित कैरेक्टर आर्टिस्ट विजय राज को 2005 में दुबई में ड्रग्स सेवन के आरोप में हिरासत में लिया गया था. विजय उस समय फ़िल्म 'दीवाने हुए पागल' की शूटिंग करने गए थे. हालांकि विजय राज ने इस मामले में हमेशा अपने आपको निर्दोष बताया.

राहुल महाजन
Rahul Mahajan/FB
राहुल महाजन

राहुल महाजन

एक दौर में भारतीय जनता पार्टी के बड़े नेता रहे प्रमोद महाजन के बेटे और टीवी शो बिग बॉस से चर्चा में आए राहुल महाजन का नाम भी ड्रग्स से जुड़ा.

राहुल महाजन पर ड्रग्स लेने के आरोप भी लगे और उन्हें जेल भी जाना पड़ा.

उन पर आरोप लगे थे कि ड्रग्स के ओवरडोज़ के कारण ही उनकी तबीयत बिगड़ी थी और उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया था.

लेकिन उन्होंने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को ग़लत बताया था.

किस तरह की होती है मुंबई की पार्टियाँ

मुंबई में फ़िल्म सितारों की पार्टियाँ भी कई प्रकार की होती हैं, जहाँ अलग-अलग प्रकार से मनोरंजन होता है.

कभी फ़िल्मों की सफलता के नाम पर तो कभी मुहूर्त के नाम पर भी पार्टियाँ होती हैं. जहाँ फ़िल्म की टीम के साथ मीडिया भी होती है. ऐसी पार्टियों में सितारों की चकाचौंध होती है और शराब की बोतलें भी होती हैं.

लेकिन ड्रग्स नहीं होता है. मीडिया की मौजूदगी में सितारे अपने जन्मदिन की पार्टियाँ भी मनाते है, वहाँ भी ऐसा कुछ नहीं होता है, तो सबसे बड़ा सवाल यह ज़रूर हो सकता है कि आख़िर किन पार्टियों में ड्रग्स के इस्तेमाल की ख़बरें आती हैं.

दरअसल फ़िल्म सितारे प्राइवेट पार्टियों का आयोजन भी करते हैं, जहाँ मीडिया आमंत्रित नहीं होती. इसके अलावा डिस्को और पब में भी ख़ूब पार्टियाँ होती हैं. मुंबई में रेव पार्टियाँ भी ख़ूब होती हैं.

बॉलीवुड में नशे का कनेक्शन कभी कभी तो दुनिया के सामने आता है, लेकिन ज़्यादातर मौक़ों पर सामने नहीं आ पाता है.

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Sushant-Riya and Drugs: Why could the story of drugs not come to the fore in Bollywood
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X