• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बारूदी सुरंगों का पता लगाने वाले चूहे को मिला गोल्ड मेडल, 7 साल के करियर में नष्ट किए 39 लैंडमाइंस

|

नई दिल्ली। किसी इंसान को उसके द्वारा किए गए महान कार्य के लिए मेडल से सम्मानित किया जाना आम बात है, लेकिन क्या कभी आपने सुना है कि एक चूहे को लोगों की जान बचाने के लिए गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया हो। जी हां, ब्रिटेन से ऐसा ही एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है जहां वेटनरी चैरिटी करने वाली संस्था पीडीएसए ने एक अफ्रीकी चूहे 'मगावा' को 'बहादुरी और कर्तव्य के प्रति समर्पण' को लेकर स्वर्ण पदक से सम्मानित किया है।

एपीओपीओ द्वारा प्रशिक्षित किया गया है चूहा

एपीओपीओ द्वारा प्रशिक्षित किया गया है चूहा

लोगों की सुरक्षा में अहम योगदान निभाने वाले जानवरों में अब चूहे 'मगावा' ने अब अपनी मंडली का भी नाम शामिल कर लिया है। बता दें कि बेल्जियम में पंजीकृत चैरिटी संस्था एपीओपीओ द्वारा प्रशिक्षित मगावा ने कंबोडिया में 39 बारूदी सुरंगों और 28 विस्फोटकों का पता लगाया। इस अवॉर्ड से अभी कुल 30 पशुओं को सम्मानित किया जा चुका है जिसमें से मगावा पहला चूहा है। मगावा को हीरो रैट के खिताब से भी नवाजा गया है।

विरोधी गुटों द्वारा बिछाई जाती है लैंडमाइंस

विरोधी गुटों द्वारा बिछाई जाती है लैंडमाइंस

मगावा को उसकी बहादुरी के लिए सम्मानित किया गया है, कंबोडिया में लैंडमाइंस को खोजकर नष्ट करने के लिए मगावा चूहे की अनोखी काबिलियत का इस्तेमाल किया गया था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक हर साल कंबोडिया में विरोधी गुटों द्वारा जमीन में बिछाई गई लैंडमाइंस के चलते बड़ी संख्या में लोग अपनी जान गंवा देते हैं, कई गंभीर रूप से जख्मी या दिव्यांग भी हो जाते हैं।

सात साल में 39 लैंडमाइंस का पता लगाया

सात साल में 39 लैंडमाइंस का पता लगाया

ऐसे में यहां की लैंडमाइंस और विस्फोटकों का पता लगाने के लिए प्रशिक्षित चूहे मगावा को काम पर लगाया गया था। यह चूहा लैंडमाइंस का पता लगाने और विस्फोटकों को पूरी तरह से नष्ट किए जाने के लिए ट्रेंड किया गया है। सामान्य चूहे की तुलना में मगावा चूहा काफी बड़ा और भारी है। मगावा ने अपने सात साल के कार्यकाल में 39 लैंडमाइंस का पता लगाया और उन्हें नष्ट किया।

28 बार विस्फोटकों का पता लगाकर किया नष्ट

28 बार विस्फोटकों का पता लगाकर किया नष्ट

इसके अलावा मगावा ने सात साल में 28 बार विस्फोटकों की पहचान कर उन्हें फटने से पहले ही नष्ट किया है। इस दौरान मगावा ने लाखों लोगों की जिंदगियां बचाईं। जानकारी के मुताबिक अतुलनीय कार्य करने वाले जानवरों को ब्रिटिश वेटेरिनरी चैरिटी संस्था पीपल्स डिस्पेंसी फॉर सिक एनीमल्स (पीडीसीए) की ओर से यह अवॉर्ड दिया जाता है।

एनीमल अवॉर्ड में सबसे प्रतिष्ठित अवॉर्ड

एनीमल अवॉर्ड में सबसे प्रतिष्ठित अवॉर्ड

मगावा को सम्मानित किए गए कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पीडीसीए के डायरेक्टर जैन मैकलागलिन ने भी भाग लिया। इस दौरान उन्होंने कहा, मगावा एक हीरो रैट है। समाज को सुरक्षित रखने के उसके समर्पण ने यह साबित किया है कि वह गोल्ड मेडल का हकदार है। उन्होंने कहा कि एनीमल अवॉर्ड में यह सबसे प्रतिष्ठित अवॉर्ड है। मगावा से पहले यह अवार्ड कई बहादुर डॉग और कबूतरों को दिया जा चुका है।

Viral Video: गली क्रिकेट खेल रहे डॉग ने हवा में उछलकर लपका 'सुपर कैच', हैरान रह गए देखने वाले

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Landmine detectors Rat Magawa awarded Gold Medal 39 landmines destroyed in 7-year career
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X