• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

गजब! बिना नर के संपर्क में आए 62 साल की मादा अजगर ने दिए सात अंडे, वैज्ञानिक भी हैरान...देखें Video

|

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर इन दिनों एक हैरान कर देने वाला मामला काफी वायरल हो रहा है। क्या आपने कभी सुना है कि बिना नर के संपर्क में आए कोई मादा अजगर गर्भवती हुई हो? आपको जानकर हैरानी होगी कि अमेरिका के एक चिड़ियाघर का दावा है कि ऐसा सच में हुआ है। अमेरिका के राज्य मिसूरी के एक चिड़ियाघर में करीब 15 साल नर से दूर रहने के बाद भी एक 62 वर्षीय मादा अजगर ने एक-दो नहीं बल्कि सात अंडे दिए हैं। इस घटना से चिड़ियाघर के कर्मचारी भी हैरान हैं।

    Python के संपर्क में 15 साल से नहीं आई मादा अजगर फिर भी दिए अंडे | वनइंडिया हिंदी
    एक साथ दिए सात अंडे

    एक साथ दिए सात अंडे

    इसके अलावा एक और चौकाने वाली बात यह है कि अंडे देने वाली ये मादा अजगर दुनिया की सबसे उम्रदराज बॉल पाइथन बन सकती है। चिड़ियाघर में जंतु विज्ञान के एक जूलॉजिकल मैनेजर मार्क वाननेर के मुताबिक यह दुनिया की सबसे उम्रदराज मादा अजगर होगी, जिसने इस उम्र में अंडे दिए हैं। सोशल मीडिया पर यह खबर आने से यूजर्स भी हैरान हैं कि आखिर ऐसा कैसे हो गया।

    62 साल की सबसे उम्रदराज अजगर

    62 साल की सबसे उम्रदराज अजगर

    मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मिसूरी के सेंट लुइस चिड़ियाघर में 62 साल की एक मादा अजगर पिछले 15 साल साल से किसी नर के संपर्क में नहीं है। इसके बावजूद उसने सात अंडे देकर सबको चौंका दिया। आपको बता दें कि मादा बॉल पाइथन 6 साल की उम्र से अंडे देने की अवस्था में पहुंच जाती है और 60 की उम्र में आते-आते वो अंडे देना बंद कर देती है।

    अफ्रीका में पाए जाते हैं ऐसे सरीसृप

    अफ्रीका में पाए जाते हैं ऐसे सरीसृप

    इस घटना को फेसबुक पोस्ट पर साझा किया गया था जिसमें सेंट लुइस चिड़ियाघर की तरफ से जानकारी दी गई कि बॉल पाइथन, जो मूलत: मध्य और पश्चिमी अफ्रीका में पाए जाते हैं। इनकी खासियत यह होती है कि ऐसे प्रजाति के अजगर यौन और अलैंगिक रूप से प्रजनन के लिए जाने जाते हैं। जिसे फैक्सेटिव पार्थेनोजेनेसिस कहा जाता है।

    सांपों में होती है ये खासियत

    सांपों में होती है ये खासियत

    चिड़ियाघर की मानें तो सांप भी संपर्क को स्टोर सर सकता है लेकिन वैज्ञानिक ये पता लगाने में जुटे हुए हैं कि दोनों में से कौन सा अंडे पैदा करने का कारण बनता है। इसका पता सिर्फ जेनेटिक टेस्टिंग से ही किया जा सकता है। अभी तक चिड़ियाघर के कर्मचारियों को नहीं पता कि क्या इस मादा अजगर ने यौन या अलैंगिक रूप से प्रजनन किया है?

    1961 में चिड़ियाघर में आई थी मादा अजगर

    1961 में चिड़ियाघर में आई थी मादा अजगर

    बता दें कि फेसबुक पर इस पोस्ट को 8 सितंबर के दिन शेयर किया गया था, अब तक इस वीडियो को 3 लाख से अधिक बार देखा जा चुका है, वहीं 4 हजार से ज्यादा लोगों ने वीडियो को शेयर किया है। इतना ही नहीं 7 हजार से अधिक रिएक्शन आ चुके है। बताया जा रहा है कि बॉल पाइथन का कोई आधिकारिक नाम नहीं है, इस मादा अजगर को साल 1961 में चिड़ियाघर में लाया गया था।

    इस तरह नर के संपर्क में आई होगी मादा अजगर

    रिपोर्ट के मुताबिक मादा अजगर ने 23 जुलाई को 7 अंडे दिए थे जिसमें से 3 इनक्यूबेटर में है। वहीं 2 बच नहीं सकें, साथ ही अन्य 2 आनुवांशिक पाए गए है। इस खबर ने सोशल मीडिया पर तहलका मचा दिया है और सभी जानना चाहते हैं कि आखिर यह चमत्कार हुआ कैसे। हालांकि इसके पीछे तर्क ये दिया जा रहा है कि चिड़ियाघर में एक और 31 साल का नर अजगर है। अक्सर पिजरें की सफाई के लिए सभी सापों को बाल्टियों में रख दिया जाता है। ऐसी आशंका है कि मादा अजगर बाल्टी में नर के संपर्क में आई होगी।

    DJ की धुन पर असली सांप के साथ कर रहा था 'नागिन डांस', सांप ने मौका मिलते ही ले ली जान, देखें VIDEO

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    62-year-old female ball python laid seven eggs without contact with male scientist also surprised
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X