• search
बिलासपुर-छत्तीसगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

छत्तीसगढ़ः बिलासपुर में महुआ शराब में कफ सीरप मिलाकर पीने से 8 युवकों की मौत, 5 की हालत गंभीर

|

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ में लॉकडाउन लगने के चलते लोगों को शराब का नशा सिर चढ़ कर बोल रहा है। ऐसा ही एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है छत्तीसगढ़ के बिलासपुर के सिरगिट्टी थाना क्षेत्र के कोरमी गांव में, जहां महुआ शराब में कफ सीरप मिलाकर पीने से 8 युवकों की मौत हो गई। इनमें से 4 युवकों की मौत बुधवार की सुबह हुई जबकि 4 अन्य ने बाद में दम तोड़ा। बस्ती के 5 और युवक इस समय CIMS अस्पताल में भर्ती हैं। खास बात यह है कि परिजन ने संक्रमित समझकर गांव में ही 4 शवों का अंतिम संस्कार भी कर दिया। हैरान करने वाली बात यह है कि मृतकों के परिजनों ने कोरोना संक्रमित समझकर गांव में ही शवों का अंतिम संस्कार भी कर दिया। बुधवार की देर रात को पुलिस को पुलिस को घटना की जानकारी मिली।

many man died due to drink alcohol with mixture of cough syrup

सिरगिट्‌टी क्षेत्र के ग्राम कोरमी निवासी 32 वर्षीय कमलेश धुरी, 21 वर्षीय अक्षय धुरी, 21 वर्षीय राजेश धुरी, 25 वर्षीय समारू धुरी, 40 वर्षीय खेमचंद धुरी और 50 वर्षीय कैलाश धुरी मंगलवार की शाम गांव से बाहर जाकर शराब पी रहे थे। इस दौरान युवकों ने महुआ शराब में नशा बढ़ाने के लिए होम्योपैथिक कफ सीरप मिला लिया। शराब पीने के बाद सभी अपने-अपने घर चले गए। रात में ही इनकी तबीयत बिगड़ गई। सभी को उल्टियां होने लगी।

देर रात दो युवकों ने दम तोड़ा, दोपहर में 2 अन्य की मौत

जब तबीयत खराब होने लगी तो परिजनों ने पूछा तो युवकों ने शराब पीकर आने की बात बताई। इसके चलते उल्टियां होने पर परिजनों ने भी ध्यान नहीं दिया। इसी में देर रात कमलेश और राजेश की मौत हो गई। बुधवार की सुबह युवकों के शव देख परिवार के लोगों को उनके कोरोना संक्रमण के चलते मौत होने की आशंका हुई। इस पर परिजनों ने गांव में ही दोनों का अंतिम संस्कार कर दिया। उसी दोपहर में अक्षय और समारू ने भी दम तोड़ दिया और उनके परिजनों ने भी दाह संस्कार किया।

इसके बाद बुधवार की रात को CIMS में दो युवकों की, अपोलो में एक युवक और गांव में एक युवक की मौत हो गई। 5 युवक अभी भी सिम्स में गंभीर हालत में दाखिल हैं। बताया जा रहा है कि गांव के कुछ युवक मंगलवार शाम को होम्योपैथिक कफ सिरप की शीशियां ले आए थे। इसके बाद 20-25 युवक अलग-अलग ग्रुप में बैठकर सिरप को महुआ और पानी में मिलाकर नशा कर रहे थे।

गांव में एक साथ 4 युवकों की मौत की सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी

गांव में एक साथ चार युवकों की मौत की सूचना किसी ने सिरगिट्टी थाना पुलिस की दी। इस पर थाना प्रभारी देर रात टीम के साथ गांव पहुंच गए। वहां पूछताछ में युवकों के कफ सिरप पीने की जानकारी मिली। वहीं दो लोगों की तबीयत बिगड़ने की जानकारी भी गांव वालों ने दी। इस पर पुलिस ने गंभीर खेमचंद और कैलाश को CIMS में भर्ती कराया। कैलाश की हालत गंभीर होने के कारण उसे अपोलो अस्पताल रेफर कर दिया गया है।

हाईकोर्ट के ज्‍वाइंट रजिस्‍ट्रार की कोरोना से मौत, पुलिस ने 'पत्‍नी', दो 'बच्‍चों' को क्‍यों भेज दिया जेल? हाईकोर्ट के ज्‍वाइंट रजिस्‍ट्रार की कोरोना से मौत, पुलिस ने 'पत्‍नी', दो 'बच्‍चों' को क्‍यों भेज दिया जेल?

घटना की जानकारी मिलते ही हड़कंप मच गया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। प्रारंभिक पूछताछ में धूमा चौक स्थित एक होम्योपैथिक क्लीनिक का नाम सामने आया है, जहां से युवक ड्रोसेरा नाम की यह सिरप ला रहे थे। पुलिस ने 8 युवकों की मौत की पुष्टि की है। उधर स्वास्थ्य विभाग ने गांव में कैंप लगाकर धुरीपारा बस्ती के सभी लोगों की जांच शुरू कर दी है। वहीं CMO ने बताया, ''होमियोपैथिक दवा पीना इन मौतों का कारण हो सकता है क्योंकि वो एल्कोहलिक है। अन्य कारणों को पता करने के लिए भी टीम लगी है। 8 लोगों की मौत हो चुकी है और 5 अस्पताल में भर्ती हैं।''

English summary
many man died due to drink alcohol with mixture of cough syrup
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X