• search
बिलासपुर-छत्तीसगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

छत्तीसगढ़ के पूर्व ACB चीफ जी पी सिंह को मिली जमानत

|
Google Oneindia News

बिलासपुर, 12 मई। छत्तीसगढ़ के आईपीएस जीपी सिंह को बिलासपुर हाईकोर्ट से शर्तो के साथ जमानत मिल गई है। गौरतलब है कि आय से अधिक संपत्ति मामले में ईओडब्ल्यू ने जीपी सिंह को 11 जनवरी को नोएडा से गिरफ्तार किया था। गुरुवार को रायपुर की जेल में बंद जी पी सिंह की जमानत याचिका पर हाईकोर्ट ने सुनवाई की। इस दौरान उनके वकील की दलील सुनने के बाद जस्टिस दीपक तिवारी ने जीपी सिंह को शर्तो के साथ जमानत देने का आदेश जारी कर दिया।

g p singh

आईपीएस जीपी सिंह के अधिवक्ता आशुतोष पांडेय ने एआईआर और गिरफ्तारी पर सवाल उठाते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ के सीनियर आईपीएस को नियम खिलाफ गिरफ्तार किया गया है। प्रावधान के मुताबिक किसी आईपीएस अफसर के खिलाफ केस दर्ज करने से पहले केंद्र सरकार की मंजूरी लेना आवश्यक है. लेकिन जीपी सिंह केप्रकरण में ऐसा नहीं किया गया। वकील ने कोर्ट को बताया कि अभियोजन की स्वीकृति नहीं होने के बाद भी जीपी सिंह 4 महीने से जेल में रखा गया है। जबकि किसी भी आरोपी का चार्जशीट पेश होने के बाद जमानत मौलिक अधिकार माना जाता है।

ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ के निलंबित आईपीएस जी पी सिंह के रायपुर, राजनांदगांव और ओडिशा समेत सभी ठिकानों पर ईओडब्लू और एसीबी ने एक साथ छापेमारी करके 5 करोड़ की चल-अचल संपत्ति का खुलासा किया था। जांच टीमों ने उनके घर से आपत्तिजनक दस्तावेज भी बरामद होने का खुलासा करते हुए रायपुर कोतवाली में उनपर राजद्रोह कानून के तहत मुकदमा दर्ज करवाया था। निलंबित आईपीएस जीपी सिंह का प्रकरण भष्टाचार निवारण अधिनियम और धारा 201,467,471 के आरोप में आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो रायपुर में दर्ज है।

यह भी पढ़ें कांग्रेस के चिंतन शिविर में भूपेश के छत्तीसगढ़ मॉडल के भविष्य पर होगी चर्चा ।

Comments
English summary
Former Chhattisgarh ACB chief GP Singh gets bail
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X