• search
बीकानेर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

विदेशी करेंसी थमाकर बीकानेर में लोगों से ठगे 25 लाख रुपए, गिरोह के चार सदस्य गिरफ्तार

By आनंद आचार्य
|

बीकानेर। राजस्थान की बीकानेर पुलिस ने विदेशी मुद्रा का लालच देकर ठगी करने वाले गिरोह का फर्दाफ़ाश किया है। बीकानेर पुलिस ने गैंग के 4 सदस्यों को गिरफ्तार किया है। साथ ही इनसे मलेशिया सहित अन्य देशों की करेंसी भी बरामद की है। गैंग के सदस्यों बंगाल व बिहार के रहने वाले बताए जा रहे हैं।

सामान खरीदने के बहाने से आए

सामान खरीदने के बहाने से आए

बीकानेर के कोटगेट थानाधिकारी धर्म पूनिया ने बताया कि इंद्रा कॉलोनी निवासी शहबाज खान ने विदेशी करेंसी का लालच देकर दो लाख रुपए ठगी को लेकर अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था। रिपोर्ट में बताया था कि शाहबाज खान अपने मित्र अनवर हुसैन की दुकान में बैठा था। इस दौरान एसके सायपुन मोहम्मद, इमरान, सुहान खान और मोहम्मद इलियास कुछ सामान खरीदने के लिए आए थे। सामान के पैसे कम पड़ने का बहाना बनाकर उन्होंने अनवर को विदेशी मुद्रा थमा दी।

 विदेशी मुद्रा बेचने के फिराक में था

विदेशी मुद्रा बेचने के फिराक में था

इस दौरान उन व्यक्तियों ने सुबह विदेशी मुद्रा वापस लेने की बात कहते हुए और भी विदेशी मुद्रा होने की बात कही। अगले दिन आरोपियों ने अखबार लपेटी साबुन का थैला थमाकर परिवादी से दो लाख रुपए की ठगी कर ली। थानाधिकारी पूनिया ने बताया कि इस शिकायत के आधार पर डीएसटी और कोटगेट पुलिस टीम बनाकर मामले की जांच पड़ताल में जुटी हुई थी। इस दौरान सूचना मिली कि रानी बाजार में एक व्यक्ति विदेशी मुद्रा बेचने के फिराक में घूम रहा है।

 पुलिस को देख भागने की कोशिश

पुलिस को देख भागने की कोशिश

सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची तो व्यक्ति पुलिस को देखकर सकपका गया और वहां से भागने की कोशिश की। इस दौरान मौके पर मौजूद पुलिस ने उसको पकड़ लिया और तलाशी ली। तलाशी के दौरान गैंग के सदस्यों से मलेशिया सहित अन्य विदेशी नोट बरामद हुए।

 आईडी तक नहीं मिली

आईडी तक नहीं मिली

थानाधिकारी धर्म पूनिया ने बताया कि पकड़े गए शातिर बदमाश एसके सायपुन मोहम्मद इमरान, सुहान खान और मोहम्मद इलियास हैं। इनमें से सिर्फ एक व्यक्ति के पास आईडी मिली है जबकि अन्य के पास कोई आईडी नहीं है। संभवतया ये लोग बंगाल और बिहार की तरफ के रहने वाले हैं।

ऐसे करते थे वारदात

ऐसे करते थे वारदात

पुलिस पूछताछ में पता चला कि गैंग के शातिर सदस्य दुकान में बैठे व्यक्ति को देखकर उसको अपना शिकार बनाते थे। आरोपी 17 भारतीय रुपयों की कीमत वाली मुद्रा 5 रुपए में देने का लालच देकर नकली विदेशी मुद्रा थमा देते थे। ये अब तक बीकानेर में करीब 25 से 30 लाख रुपए की ठगी कर चुके हैं।

काम नहीं हुआ तो रिश्वत के 30 हजार रुपए लौटाते एसीबी ने पकड़ा, बीकानेर का पहला मामला

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
25 lakh rupees cheated by people in Bikaner by handing out foreign currency
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X