• search
बिजनौर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बिजनौर: मारे गए अनस-सुलेमान के परिजनों से यूपी के मंत्री ने मिलने से किया इनकार, कहा- उपद्रवियों के घर क्यों जाऊं

|

बिजनौर। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ बिजनौर में हुए विरोध प्रदर्शन में दो मुस्लिम युवक मारे गए। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार कैबिनेट में शामिल कौशल विकास राज्यमंत्री कपिलदेव अग्रवाल जब बिजनौर आए तो हिंसा में जख्मी हुए ओमराज सैनी के घर गए लेकिन मारे गए मुस्लिम युवकों को उपद्रवी कहते हुए उनके परिजनों से मिलने से इनकार कर दिया।

Uttar Pradesh minister refused to meet dead muslim youths relatives

'मैं उपद्रवियों के घर क्यों जाऊं'

बिजनौर में हिंसक प्रदर्शनों के दौरान नहटौर के दो मुस्लिम युवक अनस और सुलेमान की मौत हो गई। दोनों को गोली लगी थी। पुलिस ने यह स्वीकार किया था कि इनमें से सुलेमान की मौत पुलिस फायरिंग में हुई थी। पुलिस का कहना है कि आत्मरक्षा में गोली चलाई थी। दोनों मृतकों के परिजनों से मिलने के लिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका बिजनौर आई थीं। पत्रकारों ने जब कपिलदेव अग्रवाल से सवाल पूछा कि प्रियंका गांधी उनसे मिलने गई लेकिन आप नहीं गए तो ऐसे कैसे होगा सबका साथ सबका विकास। इस सवाल पर कपिलदेव अग्रवाल भड़क गए और कहने लगे कि मैं उपद्रवियों को घर क्यों जाऊं।

कपिलदेव अग्रवाल ने क्या कहा?

'मैं उपद्रवियों के घर क्यों जाऊंगा? जो लोग उपद्रव कर रहे हैं, जो लोग देश को, प्रदेश को आग में झोंकना चाहते हैं वो सामाजिक कैसे हो गए? ऐसे व्यक्ति के यहां मुझे क्यों जाना चाहिए? हिंदू-मुसलमान की बात नहीं है, वे उपद्रवी हैं इसलिए उनके यहां नहीं जा रहा।' इस पर पत्रकारों ने पूछा कि जो हिंसा में मरे हैं, वो उपद्रवी हैं? इस पर मंत्री ने कहा कि प्रदर्शन में जो घटना कर रहे हैं, जिनके वीडियो वायरल हुए हैं वो उपद्रवी हैं।

CAA Protest: अखिलेश यादव ने फिर साधा बीजेपी पर निशाना, बोले- पुलिस की बर्बरता की जांच कब होगी?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Uttar Pradesh minister refused to meet dead muslim youths relatives
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X